राजस्थान सामान्य ज्ञान-राजस्थान के जलवायु प्रदेश Gk ebooks


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 09:30 PM
विषय सूची: राजस्थान सामान्य ज्ञान Rajasthan Gk in Hindi >> राजस्थान की जलवायु एवं मृदा >>> राजस्थान के जलवायु प्रदेश

जलवायु प्रदेश 
तापक्रम, वर्षा व आर्द्रता के आधार पर राज्य को निम्न जलवायु प्रदेशों में बांटा जा सकता हैः- 
 
शुष्क जलवायु प्रदेश - क्षेत्र जैसलमेर उतरी बाड़मेर, दक्षिणी गंगानगर, हनुमानगढ तथा बीकानेर व जोधपुर का पश्चिमी भाग ।

औसत वर्षा 0-20 से. मी. तथा औसत तापमान ग्रीष्म ऋतु में 34-40 डिग्री सेल्सियस तथा शीत ऋतु में 12 से 16 डिग्री सेल्सियस पाया जाता है। गर्मियों में दिन का तापमान 48-49 सेल्सियस तथा सर्दियों में रात में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला जाता है। अतः दैनिक एवं वार्षिक तापान्तर अधिक पाये जाते है। यह प्राकृतिक वनस्पति रहित प्रदेश है। गर्म शुष्क जलवायु के कारण रेत भरी आंधियां व लू चलती हैं ।


अर्द्धशुष्क जलवायु प्रदेश: क्षेत्र- चुरू, गंगानगर, हनुमानगढ, द. बाड़मेर, जोधपुर, व बीकानेर का पूर्वी भाग तथा पाली, जालौर, सीकर, नागौर व झुन्झुनू का पश्चिम भाग ।
औसत वर्षा 20-50 से.मी. व औसत तापमान ग्रीष्म ऋतु में 30-36 डिग्री सेल्सियस तथा शीत ऋतु में 10-17 डिग्री सेल्सियस होता है।
कांटेदार झाड़ियाँ व घास की प्रधानता कृषि व पशुपालन मुख्य कार्य । वनस्पति के रूप में आक, खेजडी, रोहिडा, बबूल, कंटीली झाड़ियाँ, फोग आदि वृक्ष, सेवण व लीलण घास आदि पाई जाती है। 

 
उपआर्द्र जलवायु प्रदेश: 
क्षेत्र अलवर, जयपुर, अजमेर, पाली, जालौर, नागौर, व झुन्झुनू का पूर्वी भाग तथा टोंक, भीलवाड़ा व सिरोही का उतरी पश्चिमी भाग ।
औसत वर्षा 40-60 से.मी. तथा औसत तापमान ग्रीष्म ऋतु में 28-34 डिग्री सेल्सियस तथा शीत ऋतु में 12-18 डिग्री सेल्सियस रहता है।
पतझड़ वाली वनस्पति जैसे नीम, बबूल, आम, आँवला, खेर, हरड़, बहड़ आदि वृक्ष पाए जाते है।





आर्द्र जलवायु प्रदेश 
क्षेत्र भरतपुर,धौलपुर, कोटा, बून्दी, सवाईमाधोपुर, उ.पू. उदयपुर, द.पू. टोंक तथा चितौड़गढ ।
औसत वर्षा 60-80 से.मी. तथा औसत तापमान ग्रीष्म ऋतु में 32-35 डिग्री सेल्सियस तथा शीत ऋतु में 14-17 डिग्री सेल्सियस होता है। 
सघन वनस्पति पाई जाती है। नीम, इमली, आम, शहतूत, गुलाब, गुग्गल, जामुन, पीपल, बरगद, बेर, धोकड़ा आदि वृक्ष बहुतायत में पाए जाते है। 
इसी जलवायु क्षेत्र में प्रसिद्ध रणथम्भौर अभयारण्य व केवलादेव घना पक्षी अभयारण्य है। 

  
अति आर्द्र जलवायु प्रदेश

क्षेत्र द.पू. कोटा, बारां, झालावाड़, बांसवाड़ा, प्रतापगढ, डूँगरपुर, द.पू. उदयपुर व माउन्ट क्षेत्र 
औसत वर्षा 80-150 से.मी. तथा औसत तापमान ग्रीष्म ऋतु में 30-34 डिग्री सेल्सियस तथा शीत ऋतु में 12-18 डिग्री सेल्सियस रहता है। 
मानसूनी सवाना प्रकार की वनस्पति पाई जाती है। आम, शीशम, सागवान, शहतूत, बॉस, जामुन, खेर आदि वृक्षों को बहुतायत है।



सम्बन्धित महत्वपूर्ण लेख
जलवायु परिचय
राजस्थान की जलवायु की विशेषताएं
राज्य की जलवायु को प्रभावित करने वाले कारक
जलवायु के आधार पर मुख्य ऋतुएँ
राज्य में कम वर्षा के कारण
राजस्थान के जलवायु प्रदेश
जलवायु महत्वपूर्ण तथ्य

Jalwayu Pradesh TaapKram Varsha Wa Aadrata Ke Aadhaar Par Rajya Ko Nimn Pradeshon Me Banta Jaa Sakta Hain - Shetra Jaisalmer Uttari Badmer Dakshinni GangaNagar Hanumangadh Tatha Bikaner Jodhpur Ka Pashchimi Bhag Average 0 20 Se Mee Tapaman Grishm Ritu 34 40 Degree Celcius Sheet 12 16 Paya Jata Hai Garmiyon Din 48 49 Sardiyon Raat Nyoontam Shunya Niche Chala Atah Dainik Aivam Vaarshik Tapantar Adhik Paye Jate Yah Prakritik Van


Labels,,,