राजस्थान की हस्तकला

Rajasthan Ki HastKala

GkExams on 21-11-2018


राजस्थान की हस्तकला पूरे भारत में प्रसिद्ध है। सातवीं शताब्दी से राजस्थान की शिल्पकला में राजपूत प्रशासन का प्रभाव हमें शक्ति और भक्ति के विविध पक्षों द्वारा प्राप्त होता है। जयपुर ज़िले में स्थित आभानेरी का मन्दिर (हर्षत माता का मंदिर), जोधपुर में ओसिया का सच्चियां माता का मन्दिर, जोधपुर संभाग में किराडू का मंदिर, इत्यादि और भिन्न प्रांतों के प्राचीन मंदिर कला के विविध स्वरों की अभिव्यक्ति संलग्न राजस्थान के सांस्कृतिक इतिहास पर विस्तृत प्रकाश डालने वाले स्थापत्य के नमूने हैं। उल्लेखित युग में निर्मित चित्तौड़, कुम्भलगढ़, रणथंभोर, गागरोन, अचलगढ़, गढ़ बिरली (अजमेर का तारागढ़) जालौर, जोधपुर आदि के दुर्ग-स्थापत्य कला में राजपूत स्थापत्य शैली के दर्शन होते हैं। सुरक्षा प्रेरित शिल्पकला इन दुर्गों की विशेषता कही जा सकती है जिसका प्रभाव इनमें स्थित मन्दिर शिल्प-मूर्ति लक्षण एवं भवन निर्माण में आसानी से परिलक्षित है।

राजस्थान की हस्तकलाएँ

  1. मीनाकारी
  2. पॉटरी कला
  3. आला गिल्ला कारीगरी
  4. मथैरणा कला
  5. उस्ता कला
  6. रंगाई व छपाई कला
  7. चर्म कला
  8. मूर्तिकला
  9. थेवा कला
  10. टेराकोटा कला
  11. फड़ चित्रांकन
  12. रमकड़ा कला उद्योग
  13. तूडिया हस्तशिल्प
  14. तारकशी कला
  15. पिछवाई कला
  16. कोफ्त गिरी
  17. काष्ठ कला
  18. कुंदन कला
  19. पेचवर्क कला

राजस्थानी साड़ियाँ

  • फूल-पत्ती की छपाई वाली साड़ियाँ- जोबनेर (जयपुर) में बनाई जाती हैं।
  • स्प्रे पेन्टिंग्स की साड़ियाँ - नाथद्वारा (राजसमंद) में बनाई जाती हैं।
  • सानिया साड़ियाँ - जालौर में बनाई जाती हैं।
  • सूंठ की साड़ियाँ - सवाई माधोपुर में बनाई जाती हैं।
  • बंधेज की साड़ियाँ - जोधपुर में बनाई जाती हैं।
  • चुनरी, लहरिया व पोमचे - जोधपुर, जयपुर प्रसिद्ध है।
  • चांदी का कार्य के लिए बीकानेर प्रसिद्ध है।
  • सुक्ष्म चित्रण (मिनिएचर पेंटिंग्स) के लिए जयपुर, बाड़मेर) प्रसिद्ध है।



Comments Hastkala on 25-05-2020

Tahnisha kaha ke bare may

Rajasthan ki hastkala on 05-11-2019

Rajasthan ki hastkala

Tanuraj on 12-05-2019

Hastkala ke question kis prkar bante h

Tanuraj on 12-05-2019

Ustad kala kaha ki hast kala h



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment