राजस्थान सामान्य ज्ञान-साबरमती नदी Gk ebooks


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 09:30 PM
विषय सूची: राजस्थान सामान्य ज्ञान Rajasthan Gk in Hindi >> राजस्थान की अपवाह प्रणाली: नदियां एवं झीलें >>> साबरमती नदी

साबरमती नदी 
साबरमती नदी का उद्गम उदयपुर जिलें के कोटडा तहसील में स्थित अरावली की पहाड़ियों से होता है। 45 कि.मी. राजस्थान में बहने के पश्चात खंभात की खाडी में जाकर समाप्त हो जाती है। इस नदी की कुल लम्बाई 416 कि.मी है। गुजरात में इसकी लम्बाई 371 कि.मी. है। बाकल, हथमती, बेतरक, माजम, सेई व मेश्वा इसकी सहायक नदियाँ है।
उदयपुर जिले में झीलों को जलापूर्ति के लिए साबरमती नदी में उदयपुर के देवास नामक स्थान पर 11.5 किमी. लम्बी सुरंग निकाली गई है। जो राज्य की सबसे लम्बी सुरंग है
गुजरात की राजधानी गांधीनगर साबरमती के तट पर स्थित है। 1915 में गांधी जी ने अहमदाबाद में साबरमती के तट पर साबरमती आश्रम की स्थापना की।
वाकल का उद्गम उदयपुर में गोगुन्दा की पहाडियों से होता है। उदयपुर से बहकर गुजरात व उदयपुर की सीमा पर साबरमती में मिल जाती है। सहायक नदियां मानसी पारवी है।
सेई नदी यह उदयपुर जिले के पादरना गांव की पहाडियों से निकलकर गुजरात में साबरमती में मिल जाती है।



सम्बन्धित महत्वपूर्ण लेख
लूनी नदी
राजस्थान की नदियां
राज्य की प्रमुख नदियाँ जिलेवार
राज्य की नदियों का क्षेत्रवार वर्गीकरण
घग्घर नदी
कांतली नदी शेखावाटी
काकनेय नदी
पश्चिमी बनास
साबरमती नदी
माही नदी
सोम नदी
जाखम
अनास नदी Anaas Nadi
मोरेन नदी
चम्बल नदी Chambal River
Kunu Kunor कुनु कुनोर नदी
पार्वती नदी
काली सिंध नदी
आहु नदी
परवन नदी
मेज नदी
आलनिया नदी
चाकण नदी
छोटी काली सिंध
बनास नदी
बेड़च नदी
कोठारी
गंभीरी नदी
खारी
मान्सी
माशी नदी
मोरेल नदी
कालीसिंध नदी
सोहादरा नदी
साबी
पूर्वी राजस्थान की नदियां

SabarMati Nadi Ka Udgam Udaipur Jilen Ke Kotda Tehseel Me Sthit Aravali Ki Pahadiyon Se Hota Hai । 45 Mee Rajasthan Behne Paschaat Khambhat Khadi Jakar Samapt Ho Jati Is Kul Lambai 416 Gujarat Iski 371 Bakal Hathmati Betarak Maazam Sei Wa Meshwa Sahayak Nadiyan Jile Jhilon Ko Jalapurti Liye Dewas Namak Sthan Par 11 5 KM Lambi Surang Nikali Gayi Jo Rajya Sabse Rajdhani Gandhinagar Tat 1915 Gandhi Ji ne Ahmedabad Aashram Sth


Labels,,,