राजस्थान सामान्य ज्ञान-कांतली नदी शेखावाटी Gk ebooks


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 09:30 PM
विषय सूची: राजस्थान सामान्य ज्ञान Rajasthan Gk in Hindi >> राजस्थान की अपवाह प्रणाली: नदियां एवं झीलें >>> कांतली नदी शेखावाटी

कांतली नदी
शेखावाटी क्षेत्र की एकमात्र नदी कांतली नदी का उद्गम सीकर जिले में खण्डेला की पहाड़ियों से होता है। यह नदी झुन्झुनू जिले को दो भागों में बांटती है। सीकर जिले को इस नदी का बहाव क्षेत्र तोरावाटी कहलाता है। यह नदी 100 कि.मी. लम्बी है। और झुनझुनू व चुरू जिले की सीमा पर समाप्त हो जाती है।
लगभग 5000 वर्ष पूर्व सीकर जिले में इस नदी के तट पर गणेश्वर सभ्यता का विकास हुआ। जहां से मछली पकड़ने के 400 कांटे प्राप्त हुए है। इससे ज्ञात होता है। कि लगभग 5000 वर्ष पूर्व कांतली नदी में पर्याप्त मात्रा में पानी रहा होगा।



सम्बन्धित महत्वपूर्ण लेख
लूनी नदी
राजस्थान की नदियां
राज्य की प्रमुख नदियाँ जिलेवार
राज्य की नदियों का क्षेत्रवार वर्गीकरण
घग्घर नदी
कांतली नदी शेखावाटी
काकनेय नदी
पश्चिमी बनास
साबरमती नदी
माही नदी
सोम नदी
जाखम
अनास नदी Anaas Nadi
मोरेन नदी
चम्बल नदी Chambal River
Kunu Kunor कुनु कुनोर नदी
पार्वती नदी
काली सिंध नदी
आहु नदी
परवन नदी
मेज नदी
आलनिया नदी
चाकण नदी
छोटी काली सिंध
बनास नदी
बेड़च नदी
कोठारी
गंभीरी नदी
खारी
मान्सी
माशी नदी
मोरेल नदी
कालीसिंध नदी
सोहादरा नदी
साबी
पूर्वी राजस्थान की नदियां

Kantli Nadi Shekhawati Shetra Ki Ekmatra Ka Udgam Sikar Jile Me Khandela Pahadiyon Se Hota Hai । Yah Jhunjhunu Ko Do Bhagon Bantati Is Bahav Toravati Kehlata 100 Mee Lambi Aur Jhujhunu Wa Churu Seema Par Samapt Ho Jati Lagbhag 5000 Year Poorv Ke Tat Ganneshwar Sabhyata Vikash Hua Jahan Machhli Pakadne 400 Kante Prapt Hue Isse Gyat Paryapt Matra Pani Raha Hoga


Labels,,,