उत्तर प्रदेश भू राजस्व अधिनियम 1901

Uttar Pradesh Bhu Rajaswa Adhiniyam 1901

Pradeep Chawla on 12-05-2019

CHECK LINK BELOW -



http://bor.up.nic.in/Act_And_Rules.html


Comments GOVIND on 27-09-2021

मूल जमींदार के मरने के बाद क्या जमीन सिकमी कस्तकार की हो जाती है

Unknown on 02-09-2021

Dhaara 219 kya h in Uttar Pradesh

hari on 04-08-2021

dhara 201

Preetam on 29-07-2021

Sc st ki jmeen ki rajistry ki anumamti lene ka kanun kab se hai

Manvendra Singh on 20-09-2020

Act 157AA kab lagu hui hai or ye kya hai

PAWAN KUMAR VERMA on 05-09-2020

Revenue ki dhara219 KY hai


सूरज सिंह on 06-07-2020

हमारे नाम के जमीन पर 1-8 तक की सरकारी स्कूल खुला है जो कि 60-70 साल से है। हम क्या कर सकते हैं।

अ on 28-05-2020

धारा 219 के बारे में बताएं

Laxmi Kant Bajpsi on 04-03-2020

चकबंदी COने बटवारे मे मुझे सारी खराब कम मालियत वालीभूमि आबनटित कर दीSOCसुनवाई नहीं कर रहा है
मै क्या करु Pl Help Me
अपील न 2018541033000126है


balramk07@gmail.com on 05-02-2020

उoप्रo भू-राजस्‍व अधिनियम,1901 , 201 Kya hai

अखिलेश कुमार on 17-01-2020

किसी आदमी के चार पुत्र है और उस आदमी के चार खेत अर्थात चार खसरा नंबर में जमीन है तो क्या धारा 176 up za के अनुसार चारो पुत्रो को एक एक नंबर का खेत मिल सकता है यदि उन सभी का पारिवारिक बटवारा हो गया है कि एक एक खेत नंबर पर एक एक भाई काबिज रहेगा। यदि कोई आदेश हो तो कृपया उस आदेश की प्रति send करें


Shrikant Sharma on 23-12-2019

Zalr176 par CPC 10 Laago Hoti he


Shwetankar on 12-05-2019

Uttar pradesh land revenue act ki section 41 ki niyamawali

Raj on 12-05-2019

Transfer application process in 192 Land revenue act ?

Pooja on 12-05-2019

U.P. land rajashav adhiniyam ka gathan aur karya

नवीन on 12-05-2019

उत्तर प्रदेश भू राजस्व अधिनियम 1901 क्या है

Vinay shanker Mishra on 12-05-2019

SDM के यहां से धारा 176 के अंतर्गत बंटवारा हुआ फिर विपक्षी गणों द्वारा बंटवारे से असंतुष्ट होने पर निगरानी दाखिल किया निगरानी इस आधार पर निरस्त कर दी गई की निगरानी करता गणों द्वारा अवर न्यायालय में विभाजन वाद के बाबत कोई प्रतिवाद नहीं प्रस्तुत किया गया है और अवर न्यायालय द्वारा निर्मित बाद में कोई त्रुटि नहीं है सभी पक्षों को बराबर अंश हर घाटोल में दिया गया है इसलिए निगरानी करता की निगरानी अपास्त की जाती है निगरानी करता राजस्व परिषद इलाहाबाद में कमिश्नरी के आदेश के खिलाफ निगरानी दाखिल करना चाहते हैं जो कि किस धारा के अंतर्गत की जाएगी और इसके क्या नियम हैं कृपया बताएं


Vinay shanker Mishra on 12-05-2019

SDM के यहां से धारा 176 के अंतर्गत बंटवारा हुआ फिर विपक्षी गणों द्वारा बंटवारे से असंतुष्ट होने पर निगरानी दाखिल किया निगरानी इस आधार पर निरस्त कर दी गई की निगरानी करता गणों द्वारा अवर न्यायालय में विभाजन वाद के बाबत कोई प्रतिवाद नहीं प्रस्तुत किया गया है और अवर न्यायालयं nistarit Aadesh mein में कई त्रुटि नही है सभी पक्षों को बराबर अंश हर घाटोल में दिया गया है इसलिए निगरानी करता की निगरानी अपास्त की जाती है निगरानी करता राजस्व परिषद इलाहाबाद में कमिश्नरी के आदेश के खिलाफ निगरानी दाखिल करना चाहते हैं जो कि किस धारा के अंतर्गत की जाएगी और इसके क्या नियम हैं कृपया बताएं


Vinay shanker Mishra on 12-05-2019

विभाजन वाद की अपील राजस्व परिषद इलाहाबाद में किस धारा के अंतर्गत होती है

Vinay shanker Mishra on 12-05-2019

क्या कमिश्नरी से विभाजन बाद निर्मित होने के बाद यदि निगरानी करता की निगरानी कमिश्नरी से निरस्त हो गई हो तो क्या फिर रेस्टोरेशन दाखिल हो सकता है


Vinay shanker Mishra on 12-05-2019

राजस्व परिषद में क्या ऑनलाइन कैविएट दाखिल होने में कोई शुल्क लगता है

Sirda on 12-05-2019

Sirdar

mittal.dineshgc7@gmail.com on 19-12-2018

नहीं



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment