कवि कृपाराम खिडिया

Kavi KripaRam Khidiya

Gk Exams at  2018-03-25

GkExams on 12-05-2019

कृपाराम बारहठ राजस्थानी कवि एवं नीतिकार थे। उन्होने राजिया रा दूहा नामक नीतिग्रन्थ की रचना की। वे राव राजा देवी सिंह के समय में हुए थे।



कवि कृपाराम जी तत्कालीन मारवाड़ राज्य के खराडी गांव के निवासी खिडिया शाखा के चारण जाति के जगराम जी के पुत्र थे | वे राजस्थान में शेखावाटी क्षेत्र में सीकर के राव राजा देवीसिंह के दरबार में रहते थे. पिता जगराम जी को नागौर के कुचामण के शासक ठाकुर जालिम सिंह जी ने जसुरी गांव की जागीर प्रदान की थी. वहीं इस विद्वान कवि का जन्म हुआ था | राजस्थानी भाषा डिंगल और पिंगल के उतम कवि व अच्छे संस्कृज्ञ होने नाते उनकी विद्वता और गुणों से प्रभावित हो सीकर के राव राजा लक्ष्मण सिंह जी ने महाराजपुर और लछमनपुरा गांव इन्हे वि.स, 1847 और 1858 में जागीर में दिए थे



Comments Bbb on 02-10-2020

क्लास 10 कृपाराम खिड़िया की व्याख्या

saloni on 17-09-2020

dil ko chune vale kripa ram khidiya ke dohe chahiye

Ankit Prajapat on 19-03-2020

Kavi kriparam khidiya ki mata ka nam

Mohit Sharma on 05-03-2020

Kriparam khidhiya ka janm and death kb hui

कृपाराम खिड़िया की माता का नाम on 02-01-2020

कृपाराम खेड़िया की माता का नाम क्या है बताइए

santosh kumar on 06-12-2019

kriparam khidiya ka janm aor death


Date of death of Kavi Kriparam khidya on 31-10-2019

Date of death of Kavi Kriparam khidya

Kuldeep on 30-09-2019

कवि कृपाराम खिडीया का जन्म कब हुआ

Somay agarwal on 20-09-2019

Kriparam khidiya ka Janam ka saal Aur mrityu ka saal

परम on 16-09-2019

इनकी माता का नाम

सौरभ on 13-12-2018

करपराम खिदिया का जीवन परिचय

Lokendra kumar verma on 20-11-2018

Inka janam kab or kha hua


Tejasvi on 04-11-2018

When was kriparam born and die?

Rishabh on 23-10-2018

Born in 1773
Death date
1867

Atul on 06-10-2018

In which year did kriparam died ?

RAM GOPAL MEENA LECTURE GHSS ROSHANDA BLOCK HINDOL on 25-08-2018

KRIPA RAM KHIDIYA BIRTHDAY DATE SAMNDHIT KAVITAYEN FOLLOW KARE

Khushi on 19-08-2018

Inka Janam or mritu kaha or kab hui

Richpal singh jodha on 18-08-2018

कर्पाराम जी का जन्म कब हुआ था




Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment