अग्रवालों की उत्पत्ति

अग्रवालों Ki Utpatti

Pradeep Chawla on 09-10-2018

श्री अग्रसेन महाराज के 18 पुत्रों के नाम और सम्बंधित गौत्र निम्नानुसार हैं -
1. पुष्पदेव गर्ग 2. गेंदुमल सिंघल 3. करणचन्द सिंघल 4. विलन्द्र गोवाल 5. मुनिपाल उर्फ़ कानकं कौशल
6. ढाउदेव ढासन 7. जीतजग जैंदल 8 . मंत्रपति मित्तल 9. सिंधापत गोयल 10. वीरभान बांसल
11. गोधर गौन 12. बासुदेव कासल 13. अमृतसेन मंगल 14. माधोसेन मधुकुल 15. इंद्रमल ऐरन
16. नारसिंह तांगल 17. ताराचंद तायल 18. तम्बोल तेंगल
उक्त विवरण में गौत्र के नाम उसी रूप में दिए गए हैं जैसे कि चित्र में लिखे गए हैं।
चित्र में लाल, हरे और पीले रंग का प्रयोग किया गया है। उसमे रंगों का कोड निम्नानुसार है :
लाल : देश वंशी हरा : विष वंशी पीला : ऋषि / गौत्र का नाम
महाराज अग्रसेन अपनी पुत्रों की संतानों को दो नामों से पुकारने लगे थे 1. जो देशी राजाओं की पुत्रियों की संतानों को देशवंशी 2. राजा वासक की पुत्रियों (नागकन्याओं) की संतानों को विष वंशी
शिक्षा की अवनति के कारण देशवंशी नाम बिगड़ कर देशे रहा जिसका बिगड़ कर दसे रह गया।
विषवंशी शब्द बिगड़ कर बिशे और फिर बीसे हो गया।
चित्र में दिए गए विवरण के अनुसार बंगाल के पाल वंश और सेन वंश भी अग्रवाल ही हैं। ओसवाल और गौतम बुद्ध भी अग्रवाल वंश से गए हैं।



Comments अंकाक्षा on 04-10-2021

महाराज अग्रसेन जी ने गुरु आश्रम में किस ऋषि कन्या की रक्षा की थी?

Kashi Prasad Jajodia on 01-01-2021

अग्रवालों की कुलदेवी व कुलदेवता कोण है

Rupa A. Jaipuria on 08-12-2020

agrasen ka bhai and परिक्षित ke age ma kitna difference tha

Swapna on 17-10-2020

Sateshwar Agrasenji ka prakatya kis din hua thha?

Sneha on 01-07-2020

Maharaja agrasen ki putri Ka kya naam tha

Vineeta Agarwal on 15-06-2020

Agrasen ji ka janm samay kya hai


नीरज on 17-12-2019

सरालिय कोन है जी

Sanchi on 25-09-2019

अग्रसेन जी ने किस ऋषि के आश्रम मेन शरण ली थी

Jagdish singla on 30-08-2018

Aagarwalo ki utpatti namk book kaha milegi



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment