विद्युत परिपथ के अवयव के प्रतीक

Vidyut Paripath Ke Avyav Ke Pratik

GkExams on 11-02-2019

विद्युत अवयवों (वोल्टेज स्रोत, प्रतिरोध, प्रेरकत्व, संधारित्र एवं कुंजियों आदि) एवं विद्युतयांत्रिक अवयवों (स्विच, मोटर, स्पीकर आदि) का परस्पर संयोजन विद्युत परिपथ (Electric circuit) अथवा विद्युत नेटवर्क (electrical network) कहलाता है।


विद्युत परिपथ बहुत विशाल क्षेत्र में फैले हो सकते हैं; जैसे-विद्युत-शक्ति के उत्पादन, ट्रान्समिसन, वितरण एवं उपभोग का नेटवर्क। बहुत से विद्युत परिपथ प्राय: प्रिन्टेड सर्किट बोर्डों पर संजोये जाते हैं। विद्युत परिपथ अत्यन्त लघु आकार के भी हो सकते हैं; जैसे एकीकृत परिपथ।


जब किसी परिपथ में डायोड, ट्रान्जिस्टर या आईसी आदि लगे होते हैं तो उसे एलेक्ट्रॉनिक परिपथ भी कहा जाता है जो कि विद्युत परिपथ का ही एक रूप है।


विद्युत परिपथ को परिपथ आरेख (सर्किट डायग्राम) के द्वारा प्रदर्शित किया जाता है।


प्रायः एक या अधिक बन्द लूप वाले नेटवर्क ही विद्युत परिपथ कहलाते हैं।


परिपथ सम्बन्धी नियमों एवं प्रमेयों का उपयोग करते हुए मानवी रीति (मनुअली) से परिपथ के विभिन्न नोडों का वोल्टेज या विभिन्न शाखाओं की धारा ज्ञात की जा सकती है। किन्तु जटिल एवं बहुत से अवयवों वाले परिपथ का विश्लेषण आजकल कम्प्यूटर प्रोग्रामों की सहायता से किया जाता है। इसे परिपथ सिमुलेशन या सर्किट सिमुलेशन कहते हैं। इसके लिये पीस्पाइस (PSpice), पीसिम (PSIM), सिमूलिंक (Simulink), साईकॉस, सेबर, gEDA, EMTP आदि सॉफ्टवेयरों का प्रयोग किया जाता है।

कुछ प्रसिद्ध परिपथ

एक फेजी ब्रिज रेक्टिफायर
  • श्रेणीक्रम परिपथ, समान्तर परिपथ
  • पैसिव फिल्टर - RC फिल्टर, LC फिल्टर, एलिप्टिक फिल्टर , चेविशेव फिल्टर आदि
  • ऐक्टिव फिल्टर - सालेन-की (Sallen–Key) संरचना, स्टेट-वैरिएबल फिल्टर, वीन नॉच फिल्टर आदि
  • ब्रिज परिपथ - ह्वीटस्टोन ब्रिज, मैक्सवेल ब्रिज, आदि
  • इलेक्ट्रानिक परिपथ - धारा दर्पण, भेद प्रवर्धक, संक्रियात्मक प्रवर्धक, इन्स्ट्रुमेन्टेशन प्रवर्धक, वोल्टेज रेगुलेटर, रिफरेन्स आदि
  • शक्ति इलेक्टानिकी के परिपथ - ऋजुकारी ब्रिज, जोन्स चॉपर, बक कन्वर्टर, बूस्ट कन्वर्टर, बक-बूस्ट कन्वर्टर, ब्रिज इन्वर्टर, आदि
  • संचार के परिपथ - ऐम्प्लित्युड मॉडुलेशन, फ्रेक्वेन्सी मॉडुलेशन, डिटेक्टर परिपथ, पीएलएल आदि




Comments Surpal Singh solanki on 24-01-2022

Yah question kaksha aathvin Pratibha per Vigyan ka hai aur ise Kaise Sahi Karta Hai batao please

Gaurav on 19-01-2021

Baidhut motar ka sidhant namankit Chitra ke sath likhi

Abdullah on 14-02-2020

Vidhut paripth ke vibhin avyobo ke parateek

Gangadhar meena on 06-01-2019

रात के समय तारे क्यों दिखाई देते है



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment