जलियांवाला बाग शायरी

Jaliyanwala Baag Shayari

Gk Exams at  2020-10-15

Pradeep Chawla on 12-05-2019

अरुण सिंह

मैं जलियांवाला बाग हूँ...







विप्लव राग कि सप्त-स्वरी

विद्रोह-वेदि की आग हूँ...



अपनों के शव से दबती

बहनों का उजड़ा सुहाग हूँ...



सेना के बूटों से कुचले

शिशु-पुष्पों का पराग हूँ...



क्रान्ति क्षेत्र, शोणित सिंचित,

मैं जलियांवाला बाग हूँ...



भारत के ‘भगत’ का महत्तीर्थ

मैं ‘ऊधम’ का अनुराग हूँ...



पहले था शुष्क व अपसर्जित,

अब ऊष्ण-लहू का तडाग हूँ...



यातना से भावना जागृति”

का साक्षी भूभाग हूँ...



क्रान्ति क्षेत्र, शोणित सिंचित,

मैं जलियांवाला बाग हूँ...



महायुद्ध में फिरंगियों के

साथियों का मोह-त्याग हूँ...



तथाकथित उस ‘सभ्य’ ब्रितानी

‘सूर्य’ में काला दाग हूँ...



संवेदनशील मनों में चलता

विचार-क्रान्ति का याग हूँ...



क्रान्ति क्षेत्र, शोणित सिंचित,

मैं जलियांवाला बाग हूँ...



राष्ट्र-भाव से भरे हुए

हर क्रांत-दर्शी का दिमाग हूँ...



राष्ट्र-प्रेम के वासंतिक

उत्सव का रक्तिम फाग हूँ...



हर दमन-चक्र की तिमिर-निशा में

अविरल जलता चिराग हूँ...



क्रान्ति क्षेत्र, शोणित सिंचित,

मैं जलियांवाला बाग हूँ...



क्रान्ति क्षेत्र, शोणित सिंचित,

मैं जलियांवाला बाग हूँ...



Comments Khushi Yadav on 26-04-2020

Who is the finance minister of india 2020

Khushi panchal on 07-01-2020

Jaliyavala bagh hatyya kand ki bagha sayri

rajesh yadav on 12-05-2019

bharat ke taraf se hatyakand ka badla kis ne liya



आप यहाँ पर जलियांवाला gk, बाग question answers, शायरी general knowledge, जलियांवाला सामान्य ज्ञान, बाग questions in hindi, शायरी notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment