आदिवासी संविधान

Aadiwasi Samvidhan

GkExams on 26-05-2022


आदिवासी संविधान : आदिवासियों (Tribal) को भारतीय संविधान में की पांचवी अनुसूची में "अनुसूचित जनजातियों" के रूप में मान्यता दी है। आपकी बेहतर जानकारी के लिए बता दे की अक्सर इन्हें अनुसूचित जातियों के साथ एक ही श्रेणी "अनुसूचित जाति एवं जनजाति" में रखा जाता है। बहुत से छोटे आदिवासी समूह आधुनिकीकरण के कारण हो रहे पारिस्थितिकी पतन के प्रति काफी संवेदनशील हैं।


Aadiwasi-Samvidhan


आदिवासी (Tribal meaning) कौन होते है?




आदिवासी (tribal development) लोग वह होते है जिनका, "रहन-सहन, खान-पान और रीति-रिवाज और पहनावा आदि बाकी अन्य लोगों से अलग होता है। समाज के मुख्यधारा से कटे होने की वजह से दुनियाभर में आदिवासी लोग आज भी काफी पिछड़े हुए हैं।"


बात करें भारत की तो यहां मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा आदिवासी लोगों की जनसंख्या पाई जाती है। जिसमे (tribal cast list) गोंड, भील और ओरोन, कोरकू, सहरिया और बैगा जनजाति के लोग बड़ी संख्या में निवास करते हैं। जनजाति के बारे में कहा जाता है की यह एशिया का सबसे बड़ा आदिवासी ग्रुप है, जिनकी संख्या 30 लाख से अधिक है।


भारतीय संविधान के बारें में :




भारत का संविधान, भारत का सर्वोच्च विधान है जो संविधान सभा द्वारा 26 नवम्बर 1949 को पारित हुआ तथा 26 जनवरी 1950 से प्रभावी हुआ।


यह दिन (26 नवम्बर) भारत के संविधान दिवस के रूप में घोषित किया गया है। जबकि 26 जनवरी का दिन भारत में गणतन्त्र दिवस के रूप में मनाया जाता है...Read More




सम्बन्धित प्रश्न



Comments Navnath sabale on 23-05-2022

भारत सरकार 5/6 अनिसुची पुरी तरह लागू क्यो नही करती है?

Durga lal on 18-04-2022

Ye kiya he

Nivrutii ambadas gatve on 13-09-2021

5वी आनुसूची केव्हा कोणत्या सालामध्ये लागु झाली


Suraj uikey on 10-08-2021

5 anusuchi ke kya likha hai



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment