Rajasthan budget 2017-18 विधानसभा से LIVE अपडेट लगातार


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 12:57:22
Rajasthan budget 2017-18 in hindi detailed live

विधानसभा से LIVE अपडेट लगातार...
जयपुर।सीएम वसुंधरा राजे राजस्थान का बजट पेश कर रही हैं। सभी सदस्य विधानसभा सदन में पहुंच गए हैं। वसुंधरा राजे महिला दिवस और अपने जन्म दिन पर पीले बॉर्डर की सफेद साड़ी में पहुंची हैं। बजट पढ़ने से पहले विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल और नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने बधाई दी। इसके बाद राजे ने बजट पेश करना शुरू कर दिया है। यहां जानें बजट का हर पल अपडेट...
Advertisement

- बजट की शुरुआत में राजे ने कहा कि यह बजट प्रदेश के आर्थिक और सामाजिक व समग्र विकास के लिए खासा महत्वपूर्ण है।
- उन्होंने कहा कि प्रदेश निरंतर प्रगति के मार्ग पर तीन साल से आगे बढ़ रहा है।
- उन्होंने कहा कि ये तीन साल खासे चुनौतीपूर्ण रहे हैं और ये चुनौतियां हमेशा हमें मंजूर हैं और हम इनका सामना कर रहे हैं।
- हमने प्रदेश के विकास में कोई अवरोध नहीं आने दिया। जिसका परिणाम सामने है।
- कौशल विकास के मामले में हमे लगातार दो साल से पुरस्कार मिल रहे हैं।
- इसके अलावा एलईडी लाइट, राज्य ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार। सहित कई पुरस्कार केंद्र सरकार से मिल रहे हैं।
- इन कार्यों की सराहना प्रदेश की जनता के साथ उद्योगपतियों व अन्य सभी ने की है।
- हमें इन उपलब्धियों को और ऊंचाई पर ले जाना है।
इससे विकास योजनाओं का भरपूर लाभ उठाया जा सके।
विजन 2020
- आर्थिक विकास में तेजी लाना, सुशासन देना और रोजगार के नए अवसर तलाशना इसकी पहली प्राथिमकताएं हैं।
- सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता प्रमुख बिंदु है। जेंडर इकॉलोजी को प्रोत्साहित करना और महिला सशक्तीकरण को प्रोत्साहित करना हमारी प्राथमिकता है।
बजट में प्लान व नॉन प्लान का वर्गीकरण समाप्त

- वर्ष 2017-18 के बजट में प्लान व नॉन प्लान के वर्गीकरण को समाप्त कर दिया गया है।
- संपत्तियों के रख-रखाव का समुचित रखरखाव नहीं हो पाता था।
- हमने केंद्र सरकार के पास ये मुद्दा उठाया था।
- केंद्र सरकार ने भी ऐसा कर दिया है।
- पेपर लेस बजट प्रस्तुतिकरण की दिशा में भी हमने ऐसा किया है।
- बजट संबंधी सारगर्भित विवरण उसी के अनुसार पेश कराया गया है।
- विधायकों व सांसदों को यह बजट सीडी व पेन ड्राइव में उपलब्ध कराया जा रहा है
मिसिंग लिंक योजना में ये होगा
- मिसिंग लिंक योजना की सड़कों का शेष निर्माण चालू वर्ष में पूरा कर लिया जाएगा।
- राज्य की 5907 ग्राम पंचायतों में मिसिंग लिंक निर्माण कार्य पूरे कर लिए गए हैं। शेष को भी आने वाले समय में पूरा करा लिया जाएगा।
- नाबार्ड योजना के तहत 825 करोड़ के 1518 कार्य शुरू कराए गए हैं। उन्हें आगामी वर्ष में पूरा करा लिया जाएगा।
- प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत भी काम शुरू कराए गए हैं।
- सड़कों के रखरखाव के दूसरे चरण में 465 किलोमीटर की सड़कों के काम अब शुरू कराए जाएंगे।
- करीब 1000 किलोमीटर के राज्य राजमार्गों के लिए काम शुरू कराया जाएगा।
केकड़ी में स्कूलों के रास्ते के लिए 17 किलोमीटर मार्ग बनाया जाएगा।
- जोधपुर बाप क्षेत्र में डलब लेन की घोषणा।
सीएम वसुंधरा राजे ने ये शायरी पढ़ी, जिस दिन से चलूं मेरी मंजिल पर नजर है आंखों ने कभी मील का पत्थर नहीं देखा।
इन शहरों को जोड़ा जाएगा हवाई सेवा से

- कोटा, अजमेर और रणथंभौर को जयपुर के साथ हवाई सेवा से जोड़ा जाएगा।
बीकानेर को नई दिल्ली से और जोधपुर को आगरा से जोड़ा जाएगा।
- अन्य आधारभूत सेवाओं जिसमें एटीएफ में वैट में कमी की जाएगी।
ये होगा परिवहन क्षेत्र में
- सिंधी कैंप पर मल्टीमॉडल बस स्टैंड बनाया जा रहा है। इसे जल्द पूरा कराया जाएगा।
ये होगा पेयजल क्षेत्र में
- 5525 ग्राम ढाणियों को पेयजल से लाभान्वित किया जा चुका है।
- अब 2039 गांवों को लाभान्वित किया जाएगा।
- शहरी एवं ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं पर गत सरकार द्वारा 6093 करोड़ रुपए का व्य तीन साल में किया गया, जबकि हमारी सरकार ने तीन साल में दोगुना खर्च किया।
- तीन सालों में पूर्व स्वीकृत 32 पेयजल योजनाअों को पूरा कर लिया गया है। शेष भी जल्द पूरा होंगी।
- लंबित घोषणाओं की पेयजल योजनाएं भी 2018 में पूरी कर ली जाएंगी।

सदन में हंगामा शुरू किया कांग्रेस ने, पेयजल योजनाओं को लेकर किया हंगामा
सीएम बजट पढ़ रही थी तब किया हंगामा। संसदीय कार्य मंत्री ने शर्मनाक बताया इस हंगामे को। बोले, इन्हें रोकना चाहिए।

सीएम वसुंधरा राजे ने फिर से पढ़ना शुरू किया राजस्थान का बजट
- क्षेत्रीय जल प्रदाय योजनाओं के भी पूर्ण होने से 19 कस्बे सहित राज्य की 41 लाख लोगों को फायदा मिलेगा।
- अलवर में 600 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण होगा।
- जयपुर, अजमेर, बीकानेर, उदयपुर, भरतपुर में जलापूर्ति के दो चरणों में कार्य होंगे।
जयपुर में 24 बाई 7 जलापूर्ति की जाएगी।

एनसीआर वित्त से ये कार्य कराए जाएंगे

- भरतपुर जिले के डीग, कामा सहित कई कस्बों में पीपीपी पर आरओ प्लांट स्थापित किए जाएंगे।
निजी कंपनियां अपने खर्च पर करती हैं पेयजल योजनाओं का संरक्षण।
- इसके साथ जयपुर, अजमेर, बीकानेर, उदयपुर आदि में कार्य कराए जाएंगे। इसमें 120 करोड़ रुपए व्यय होंगे।

ऊर्जा
- विद्युत वितरण निगम पर 727000 करोड़ रुपए घाटा हो गया था। जिसके लिए राज्य में कई कदम उठाए गए।
- ऋण लिए गए, जनवरी 2017 तक ऊर्जा में वृद्ध हुई है।
- राज्य में कई सब स्टेशन स्थापित किए गए।
400 केवी के दो सहित कई सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे।
वर्तमान में कुल 7500 करोड़ रुपए से अधिक का अनुदान आगामी वर्ष में बढ़ाया जा रहा है।
ये खास है किसानों के लिए
- किसानों के हित में हमने ये फैसला किया या है।
- सामान्य कृषि क्षेत्र की दरें लागू करने की मांगें की जाती रही हैं।
- ग्राम की सफलता को देखते हुए आगामी दो वर्षों में संभाग स्तर पर ग्राम का आयोजन किया जाएगा।
- 2016-17 में उर्वरक उपलब्ध कराया गया। अब भी मांग के अनुसार यूरिया और डीएपी उपलब्ध कराया जाएगा।
- उद्यानिकी एवं मानविकी महाविद्यालय में झालावाड़ में नए पाठ्यक्रम शुरु किए जाएंगे
केंद्रीय सहकारी बैंकों के माध्यम से फसल ऋण के रूप में 150 करोड़ रुपए उपलब्ध कराए जाएंगे।
- राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक की ओर से 10 करोड़ रुपए ऋण के प्रावधान।
- भेड़ पालकों के लिए अविका योजना फिर से चालू की जाएगी।
- नवीन पशु चिकित्सालय खोले जाएंगे सभी ग्राम पंचायतों में।
- वर्तमान में 8 पंचायत समितियों में पशु चिकित्सा स्थापित नहीं हैं। ऐसे में अब कई पशु।
- चिकित्सा संस्थानों को प्रथम श्रेणी में क्रमोन्नत किया जाएगा।
कृषि क्षेत्र की घोषणाओं पर कांग्रेस विधायक ने किया हंगामा। अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने दी चेतावनी। यदि हंगामा किया तो बाहर निकलवा दूंगा।

एक लाख नए कृषि कनेक्शन

सीएम ने घोषणा की कि आगामी एक साल में नए कृषि कनेक्शन दिए जाएंगे।
- इस पर सदन में मेजें थपथपाई गईं।
- मेघवाल की चेतावनी पर नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने आपत्ति जताई।
- इस पर संसदीय कार्य मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने भी कहा कि आसन के साथ इस तरह का व्यवहार नहीं किया जाना चाहिए।

- डूडी ने कहा, ऐसे कैसे हमारे सदस्य को बाहर फिंकवा देंगे अध्यक्ष जी।
पर्यटन के क्षेत्र में ये होगा खास

- हमने जनवरी 2016 में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय व सोशल मीडिया पर एग्रेसिव मार्केटिंग की थी। फिल्में बनाकर मार्केटिंग की। जिसमें हमें अच्छा रिस्पॉन्स मिला है। 2015 में 3.67 और 2016 में 4 करोड़ देशी-विदेशी पर्यटक आए।
- आगामी वर्ष में आधारभूत सुविधाएं, संरक्षण व जीर्णोद्धार के कार्य 36 करोड़ रुपए की लागत से कराए जाएंगे।
- 2017-18 में आठ संग्राहालय, अलवर, डूंगरपुर सहित संरक्षण व विकास कार्य कराए जाएंगे।
- अजमेर व जोधपुर में 2-2 स्थानों पर भी काम होंगे।
- खेतड़ी में भी काम होंगे।
- टोंक में प्राचीन दुर्लभ हस्तलिखित संग्रहों का डिजिटलाइजेशन कराया जाएगा।

एएसआई की सहमति के साथ चित्तौड़गढ़

- अलवर में कृष्णभक्त पेनेरोमा का निर्माण कराया जाएगा।
- नागौर, कोटा, झालावाडृ, बूंदी की दरगाहों को पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित किया जाएगा।
देवस्थान के लिए ये होगा खास
- बिहारी जी, गंगा मंदिर भरतपुर, केशोरायपाटन के मंदिरों का जीर्णोद्धार होगा।
- आगामी वर्ष में 20 हजार वरिष्ठ नागरिकों को यात्रा कराई जाएगी, जिनमें 5 हजार को हवाई यात्रा धार्मिक स्थलों की कराई जाएगी।
- बनारस में अलवर मंदिर का जीर्णाेद्धार कराया जाएगा।
- राज्यसरकार तिरुपति बालाजी और बद्रीनाथ में धर्मशाला बनवाएगी।

वन क्षेत्र के लिए ये होगा खास

- डेजर्ट नेशनल पार्क में गोडावन के संरक्षण के लिए 10 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
- लेपर्ट से प्रभावित क्षेत्रों में लेपर्ट के संरक्षण के लिए प्रोजेक्ट लेपर्ड शुरू कराया जाएगा।
- प्रदेश में टाइगर व लेपर्ड के लिए रणथंभौर, सरिस्का, झालाना आदि में सुरक्षा के लिए विशेष फोर्स लगाई जाएगी।
- 60 लाख पौधे दूसरे चरण में लगाने का काम हाथ में लिया जाएगा। इसके लिए 2 करोड़ रुपए का प्रावधान।
- शहरी क्षेत्र में पर्यावरण के लिए राज्य में बांसवाड़ा त्रिपुरा सुंदरी, बाड़मेर, जालौर, भीलवाड़ा में स्मृति वन बनाए जांएगे।
पर्यावरण
- कारखानों से निकलने वाले कास्टिक सोड़ा को देखते हुए भिवाड़ी में प्लांट लगाए जाएंगे।
उद्योग
- राज्य में उद्यम की स्थापना के लिए काम होंगे।
- जयपुर में हाई लर्निंग सेंटर की स्थापना की जाएगी।
- कपड़ा उद्योग में इंपोर्ट एक्सपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए दो नए सेंटर स्थापित किए जाएंगे।
- 90 लाख के ऋण पर 6 प्रतिशत ब्याज लिया जाएगा। इस ब्याज को बढ़ाकर डेढ़ करोड़ किया जाएगा।
- रीको द्वारा प्रदत्त सेवाओं का प्रबंधन ऑनलाइन किया जाएगा।
- पांच औद्योगिक क्षेत्रों में दमकल विभाग बनाए जाएंगे।
- जयनारायण व्यास जोधपुर व कोटा वर्द्धमान महावीर में उद्यमिता विकास केंद्र बनाए जाएंगे।
- स्टार्टअप व सूक्ष्म लघु उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा।
खनन
- खनन प्रभावित क्षेत्र के लोगों के लिए स्वास्थ्य शिक्षा, ऊर्जा आदि पर 500 करोड़ का प्रावधान।
महिलाओं को ये दी सौगात
- 1000 महिला दुग्ध उत्पादन केंद्र बनाए जाएंगे।
- आगामी वर्ष में पशु पालन व मत्स्य के लिए 822 कराेड़ रुपए का प्रावधान।
- आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं की बेटियों को आर्थिक सहायता।
- बालिका शिक्षा के लिए 5000 रुपए प्रोत्साहन राशि।
- कन्या के विवाह पर देय अनुदान राशि व प्रोत्साहन राशि को दोगुना करने की घोषणा।
- भारत सरकार 18 वर्ष से कम आयु के विशेष योग्यजन को भी 750 रुपए प्रतिमाह पेंशन की घोषणा।
- कई शिक्षण संस्थाओं में अध्ययन के लिए दूरी के कारण आवागमन के लिए साइकिल उपलब्ध कराई जाएगी।
- संस्थागत प्रसव पर भामाशाह प्लेटफार्म पर महिलाओं को भुगतान कराया जाएगा।
- राज्य के करौली, जालौर, बारां, बीकानेर, झुंझुनूं, हनुमानगढ़ व प्रतापगढ़ में अस्पतालों में बड़े केंद्र स्थापित किए जाएंगे।
- महिला एवं बालविकास विभाग के लिए कई प्रावधान किए गए हैं।
- इस वर्ष का नारी शक्ति पुरस्कार भी राज्य को दिया जा रहा है।
- किशोर न्याय अधिनियम के लिए बाल गृह, जोधपुर, भरतपुर, भीलवाड़ा, दौसा, हनुमानगढ़ में बनाए जाएंगे।
- 90 प्रतिशत के अधिक पाने वाली बोर्ड की छात्राओं को स्कूटी दी जाएगी। 100 छात्राओं को।
- छात्र-छात्राओं के लिए कॅरियर काउंसलिंग, साइकिल आदि की व्यवस्थाएं कराई जाएंगी।
- बांसवाड़ा सहित कई जिलों में खेल छात्रावास, आबूरोड सिरोही में मौजूदा की कैपेसिटी बढ़ाई जाएगी।
सभी वर्गों के लिए

- लावारिस की मृत्यु होने पर उसका कर्म कराने वाली संस्थाओं को 5000 रुपए प्रोत्साहन राशि।
- 1000 विशेष योग्यजन को लाभान्वित किया जाएगा। विवाह बाद जीवन व्यतीत करने के लिए राशि 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार की गई।
- 97 आवासीय व गैर आवासीय आवासों का संचालन के लिए में वृद्धि।
- स्वरोजगार व आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जाने के लिए लाभ दिए जाएंगे।
- राज्य के एससीएसटी के परिवारों के ढाई लाख रुपए से कम पारिवारिक आय है, उनके बच्चों को पढ़ाने के लिए विशेष योजना लाई जाएगी।
- खाद्य सुरक्षा योजना के तहत 97.90 करोड़ का प्रावधान।
- राशन वितरण की पॉस व्यवस्था को आैर आगे बढ़ाया जाएगा।
हरेक राह में चिराग जलाना हमारा काम है। ....

- राज्य के आर्थिक पिछड़ा वर्ग के लिए सामान्य वर्ग के मेधावी स्टूडेंट्स के लिए 2.50 लाख आय वर्ग के लिए आईआईटी, आईआईएम सहित अन्य पढ़ाई में मेधावियों को कैश पुरस्कार।
- जनजातीय विकास में हमारी सरकार अनुकूल कार्य कर रही है।

अल्पसंख्यक

- प्रकाश उत्सव के लिए कई कार्य कराए जाएंगे।
- गुरुद्वारा श्री चरण कमल साहब नारायणा दूदू में पेनेरोमा का निर्माण।
- माध्यमिक शिक्षा के आधारभूत काम के तहत मदरसा में आधारभूत संरचना के तहत 60 प्रतिशत राशि उपलब्ध कराई जाएगी।
खेल के क्षेत्र में ये रहा बजट में खास

- 14 एकेडमी के बीकानेर में साइकिल एकेडमी और कोटा में कुश्ती अकादमी खोली जाएगी। झुंझुनूं में भी एकेडमी खोली जाएगी।
- जनजातीय समुदाय के लिए राज्यस्तरीय खेल और महोत्सव का आयोजन किया जाएगा।
- जोधपुर, करौली व अलवर में इंडोर गेम्स के लिए साढ़े चार करोड़ खर्च होंगे।
- हॉकी मैदान के लिए एस्ट्रोटर्फ के लिए 2 करोड़ रूपए, विद्याधर नगर स्टेडियम में सोलर लाइट, चौगान में इंडोर, जोधपुर में बास्केटबॉल कोर्ट, सूरतगढ़ में भी ऐसे ही संरचना निर्माण होगी।
शिक्षा के क्षेत्र में ये रहा बजट में खास
- 13900 स्कूलों को क्रमोन्नत किया गया है। एकीकृत स्कूलों की स्थापना की गई है।
- ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षकों की उपलब्धता के लिए पदों का निर्धारित समानीकरण किया गया ।
- 33 हजार शिक्षकों की भर्ती की गई।
- पदस्थापन किया गया एक लाख से अधिक शिक्षकों का।
- ग्रामीण स्कूलों में बच्चों के प्रवेश में बढ़ोतरी हुई है। यह बढ़ोतरी तीन सालों में अंग्रेजी, गणित क्षेत्र में भी हुई है।
- राष्ट्रीय अंतर खेलकूद बढ़ने से अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी भी निकल रहे हैं।
- चयनित स्कूलों को उच्च माध्यमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत किया गया। अब आगे आने वाले समय में भी ऐसा होगा।
- वर्तमान में 772 ग्राम पंचायतों में निजी स्कूल हैं लेकिन सरकारी नहीं। चालीस से अधिक नामाकंन वाले प्राथमिक स्कूलों को क्रमोन्नत किया जाएगा।
- 100 से अधिक कला संकाय वाले स्कूलों में साइंस लाई गई। सत्र में बांसवाड़ा, डूंगरपुर, पाली, अलवर, जोधपुर, जोधपुर सहित ज्यादातर जिलों में स्कूलों में विज्ञान संकाय शुरू होगी।
- आगामी सत्र में उदयपुर, बूंदी, जयपुर, प्रतापगढ़ सहित राज्य के कई स्कूलों में भी वाणिज्य के साथ विज्ञान सब्जेक्ट लाया जाएगा।
- व्यावसायिक शिक्षा 50 स्कूलों में शुरू की जाएगी।
- 133 स्कूलों में 746 क्लासरूम सहित पेयजल सुविधा, शोचालय निर्माण कराए जाएंगे।
उच्च शिक्षा
- आगामी वर्ष में राजसमंद, बाप जोधपुर, कुंभलगढ़, अंता, चूरू में राजकीय कन्या
- महाविद्यालय सहित महाविद्यालय खोले जाएंगे।
- कई कॉलेजों में नए सब्जेक्ट शामिल किए जाएंगे।
- सात संभागीय मुख्यालयों पर स्मॉल साइंस लैब बनाई जाएगी। ढाई करोड़ का खर्च होगा।
- अलवर, बांसवाड़ा, सीकर, भरतपुर यूनिवर्सिटी भवन के निर्माण के लिए राशि स्वीकृत।
- करौली व धौलपुर के नए इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए राशि स्वीकृत।
- राज्य के आठ पॉलीटैक्नीक में इंडस्ट्रियल सेल खोले गए हैं। शेष में भी अब खोले जाएंगे।
भामाशाह योजना में खास

- भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत अब तक 300 करोड़ की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई गई।
- जिला अस्पताल धौलपुर के लिए नया भवन व कॉटेज बनाया जाएगा। 100 करोड़ रुपए का खर्च होगा।
- सात जिला चिकित्सालय ब्यावर, अलवर, बूंदी आदि के ब्लड बैंक को विकसित किया जाएगा।
- राज्य में आमजन की मांग के लिए कई स्वास्थ्य केंद्र क्रमोन्नत होंगे।
- ब्रेस्ट कैंसर के इंसीडेंट को देखते हुए जांच के कार्यक्रम शुरू कराए जाएंगे।
- करौली में आईटीडी भवन का निर्माण कराया जाएगा।

मेडिकल एजूकेशन

- ट्रोमा अस्पताल निर्माण कराए जाएंगे।
- जोधपुर में आईसीयू में कैथ लैब की स्थापना कराई जाएगी।


Vidhansabha Se LIVE UpDate Lagataar Jaipur । CM Vasundhara Raje Rajasthan Ka Budget Pesh Kar Rahi Hain Sabhi Sadasya Sadan Me Pahunch Gaye Mahila Diwas Aur Apne Janm Din Par Pile BOrder Ki Safed Saadi Pahunchi Padhne Pehle Adhyaksh Kailash Meghwal Neta Pratipaksh Rameshvar डूडी ne Badhai Dee Iske Baad Karna Shuru Diya Hai Yahan Jane Har Pal Advertisement - Shuruat Kahaa Yah Pradesh Ke Aarthik Samajik Wa Samagra Vikash Liye Khasa Mahatvapurnn Unhonne Nirantar Pragati Marg Teen Sal Aage Badh Raha Ye खासे ChunautiPurnn Rahe Chunautiyaan Hamesha Hamein Manjoor Ham Inka Samna Hamne Koi Avrodh Nahi Ane Jiska Parinnam Samne Kaushal Mamale Hame Do Puraskar Mil ALava एलईडी Light, Rajya Urja Sanrakhshan Sahit Kai Kendra Sarkaar In Karyon Saraahna Public Sath Udyaogpatiyon Anya Uplabdhiyon Ko Unchai Le Jana Isse Yojnaon Bharpoor Labh Uthaya Jaa Sake Vision 2020 Teji Lana Sushashan Dena Rojgar Naye Awsar Talashna Iski Pehli प्राथिमकताएं Nyay Aivam Adhikarita Pramukh Bindu जेंडर इकॉलोजी Protsahit S

Labels: All careernews