Rajasthan GK- Tharparkar nasl Ke Samuchit Sanrakhshan Aur sanwardhan Ke Liye Kis Jile Me chandhan Village Me 1946 Me Pashu prajanan Center Ke Roop Me gulmadar form Sthapit Kiya Gaya Tha Jiska Mukhya Lakshya Tharparkar nasl Ke sand Paida Karna Tha

Q.23248: थारपारकर नस्ल के समुचित संरक्षण और संवर्धन के लिए किस जिले में चांधन गांव में 1946 में पशु प्रजनन केन्द्र के रूप में गुलमदर फार्म स्थापित किया गया था जिसका मुख्य लक्ष्य थारपारकर नस्ल के सांड पैदा करना था
A
B
C
D
 कमेंट करें 
Previous Next
कृपया शेयर करें=>

थारपारकर नस्ल के समुचित संरक्षण और संवर्धन के लिए किस जिले में चांधन गांव में 1946 में पशु प्रजनन केन्द्र के रूप में गुलमदर फार्म स्थापित किया गया था जिसका मुख्य लक्ष्य थारपारकर नस्ल के सांड पैदा करना था - For proper protection and promotion of Tharparkar breed, Gulmadar farm was established in Chhanhan village in 1946 as a breeding center of the village whose main goal was to create bulls of tharparkar breed Rajasthan GK in hindi,   Bikaner question answers in hindi pdf  Jaisalmer questions in hindi, Know About Badmer Rajasthan GK online test Rajasthan GK notes in hindi quiz book    Jodhpur