आमंत्रण और निमंत्रण में अंतर

Aamantrann Aur Nimantrann Me Antar


Comments Google Kumar on 04-09-2020

आमंत्रण- आमंत्रण का अर्थ भी किसी को बुलाना ही होता है. जब कभी भी कहीं कोई सामाजिक कार्यक्रम में आयोजित किया जाता है या कोई सामूहिक प्रोग्राम किया जाता है वहां पर सभी लोगो को आमंत्रित किया जाता है. आमंत्रण में लोगो की इच्छा पर बात होती है कि उनकी इच्छा हो रही है आने की या नहीं. उसमे कुछ विशेष नहीं की आपको आना ही आना है वह उसकी इच्छा पर निर्भर करता है. इसी को आप आमंत्रण कहते हैं.
निमंत्रण- निमंत्रण की बात करें तो निमंत्रण का अर्थ भी किसी को बुलाना ही होता है. निमंत्रण किसी को सत्कार पूर्वक अपने घर बुलाना होता है. जैसे निमंत्रण हम किसी व्यक्ति को विशेष रूप से भेजते है, वैसे ही निमंत्रण विशेष आयोजन पर अपने प्रिय जनों को दिया जाता है. किसी के घर में विवाह है या चूड़ा कर्म है या अन्य कोई अपने घर के आयोजन है तो उसमे आप सबको निमंत्रण भेजते है. यहां पर आप किसी को अपने घर आमंत्रित नहीं करते हो किसी को. यानिक इसमें सभी को आना ही होता है. निमंत्रण का अर्थ है कि आपको आना ही आना है आप माना नहीं कर सकते. अगर आपको निमंत्रण दे रखा है और आप नहीं गए तो इसमें उनको दुख होगा कि आप नहीं आए. बस यही फर्क है निमंत्रण और आमंत्रण में.




आप यहाँ पर आमंत्रण gk, निमंत्रण question answers, general knowledge, आमंत्रण सामान्य ज्ञान, निमंत्रण questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment