q वैदिक काल में योद्धा को क्या कहा जाता था 1⃣ पुरोहित 2⃣ सेनानी 3⃣ योद्धा 4⃣ सैनिक

q Vaidik Kaal Me Yoddha Ko Kya Kahaa Jata Tha 1⃣ purohit 2⃣ Senani 3⃣ Yoddha 4⃣ Sainik

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 03-01-2019


वैदिक काल प्राचीन भारतीय संस्कृति का एक काल खंड है. उस दौरान वेदों की रचना हुई थी. हड़प्पा संस्कृति के पतन के बाद भारत में एक नई सभ्यता का आविर्भाव हुआ. इस सभ्यता की जानकारी के स्रोत वेदों के आधार पर इसे वैदिक सभ्यता का नाम दिया गया.

(1) वैदिक काल का विभाजन दो भागों ऋग्वैदिक काल- 1500-1000 ई. पू. और उत्तर वैदिक काल- 1000-600 ई. पू. में किया गया है.

(2) आर्य सर्वप्रथम पंजाब और अफगानिस्तान में बसे थे. मैक्समूलर ने आर्यों का निवास स्थान मध्य एशिया को माना है. आर्यों द्वारा निर्मित सभ्यता ही वैदिक सभ्यता कहलाई है.

(3)
आर्यों द्वारा विकसित सभ्यता ग्रामीण सभ्यता थी.

ऋग्‍वैदिककालीन देवता

प्राचीन नाम

आधुनिक नाम

क्रुभ

कुर्रम

कुभा

काबुल

वितस्‍ता

झेलम

आस्किनी

चिनाव

परुषणी

रावी

शतुद्रि

सतलज

विपाशा

व्‍यास

सदानीरा

गंडक

दृसद्धती

घग्‍घर

गोमल

गोमती

सुवस्‍तु

स्‍वात्

(36) आर्यों का प्रिय पशु घोड़ा और प्रिय देवता इंद्र थे.

(37) आर्यों द्वारा खोजी गई धातु लोहा थी.

(38)
व्यापार के दूर-दूर जाने वाले व्यक्ति को पणि कहा जाता था.

(39)
लेन-देन में वस्तु-विनिमय प्रणाली मौजूद थी.

(40)
ऋण देकर ब्याज देने वाले को सूदखोर कहा जाता था.

(41)
सभी नदियों में सरस्वती सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र नदी मानी जाती थी.

(42)
उत्तरवैदिक काल में प्रजापति प्रिय देवता बन गए थे.

(43)
उत्तरवैदिक काल में वर्ण व्यवसाय की बजाय जन्म के आधार पर निर्धारित होते थे.

(44)
उत्तरवैदिक काल में हल को सीरा और हल रेखा को सीता कहा जाता था.

(45)
उत्तरवैदिक काल में निष्क और शतमान मु्द्रा की इकाइयां थीं.

(46)
सांख्य दर्शन भारत के सभी दर्शनों में सबसे पुराना था. इसके अनुसार मूल तत्व 25 हैं, जिनमें पहला तत्व प्रकृति है.

(47)
सत्यमेव जयते, मुण्डकोपनिषद् से लिया गया है.

(48)
गायत्री मंत्र सविता नामक देवता को संबोधित है जिसका संबंध ऋग्वेद से है.

(49)
उत्तर वैदिक काल में कौशांबी नगर में पहली बार पक्की ईंटों का इस्तेमाल हुआ था.

(50)
महाकाव्य दो हैं- महाभारत और रामायण.

(51)
महाभारत का पुराना नाम जयसंहिता है यह विश्व का सबसे बड़ा महाकाव्य है.

(52)
सर्वप्रथम 'जाबालोपनिषद ' में चारों आश्रम ब्रम्हचर्य, गृहस्थ, वानप्रस्थ तथा संन्यास आश्रम का उल्लेख मिलता है.

(53)
गोत्र नामक संस्था का जन्म उत्तर वैदिक काल में हुआ.

(54)
ऋग्वेद में धातुओं में सबसे पहले तांबे या कांसे का जिक्र किया गया है. वे सोना और चांदी से भी परिचित थे. लेकिन ऋग्वेद में लोहे का जिक्र नहीं है.

दिशा

उत्तर वैदिक शब्‍द

राजा का नाम

पूर्व

प्राची

सम्राट

पश्चिम

प्रतीची

स्‍वराष्‍ट्र

उत्तर

उदीची

विराट

मध्‍य

राजा

दक्षिण

भोज



Comments

आप यहाँ पर q gk, वैदिक question answers, योद्धा general knowledge, 1⃣ सामान्य ज्ञान, पुरोहित questions in hindi, 2⃣ notes in hindi, सेनानी pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment