शनि ग्रह के वलय की संख्या

Shani Grah Ke Valay Ki Sankhya

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

Pradeep Chawla on 12-05-2019

डी छल्ला66,900 – 74,5107,500सी छल्ला74,658 – 92,00017,500बी छल्ला92,000 – 117,58025,500इसे एक मुख्य छल्ला समझा जाता है; यह छल्ला काफ़ी घना है - ए और बी छल्ले सब से घने छल्ले हैंकैसीनी दरार117,580 – 122,1704,700ए और बी छल्लों के बीच की यह दरार पृथ्वी से दूरबीन से देखी जा सकती हैए छल्ला122,170 – 136,77514,600इसे एक मुख्य छल्ला समझा जाता है; यह छल्ला काफ़ी घना है - ए और बी छल्ले सब से घने छल्ले हैंरोश दरार136,775 – 139,3802,600
ऍफ़ छल्ला140,18030 – 500जैनस/ऍपिमीथयस छल्ला149,000 – 154,0005,000यह एक धुल से भरा हुआ छल्ला है और इसी छल्ले के अन्दर जैनस और ऍपिमीथयस नाम के दो उपग्रह शनि की परिक्रमा करते हैंजी छल्ला166,000 – 175,0009,000मिथोनी छल्ला खंड194,230?इसमें मिथोनी नाम का उपग्रह परिक्रमा कर रहा है; यह एक धूलग्रस्त छल्ला है और अनुमान है के यह धुल मिथोनी से उड़ती है जब उसपर अंतरिक्ष से पत्थर गिरते हैंऐन्थी छल्ला खंड197,665?इसमें ऐन्थी नाम का उपग्रह परिक्रमा कर रहा है; यह एक धूलग्रस्त छल्ला है और अनुमान है के यह धुल मिथोनी से उड़ती है जब उसपर अंतरिक्ष से पत्थर गिरते हैंपलीनी छल्ला211,000 – 213,5002,500इसमें पलीनी नाम का उपग्रह परिक्रमा कर रहा है; यह एक धूलग्रस्त छल्ला है और अनुमान है के यह धुल मिथोनी से उड़ती है जब उसपर अंतरिक्ष से पत्थर गिरते हैंई छल्ला180,000 – 480,000300,000यह सबसे बाहरी छल्ला माना जाता था और बहुत ही चौड़ा हैफ़ीबी छल्ला~4,000,000 – >13,000,000
यह छल्ला पहली दफ़ा 2009 में देखा गया; इसमें फ़ीबी नाम का उपग्रह परिक्रमा कर रहा है; यह एक बहुत ही कमज़ोर छल्ला है जिसमें बिलकुल हलकी-हलकी धुल मौजूद है



Comments Rakesh moti on 12-05-2019

Ye sank valay kya hai

Vishal Prajapati on 12-05-2019

Sanike kitne valay hote he?

Rajendra meena on 12-05-2019

शनि ग्रह की वलय की संख्या

sani me kitni valay hoti hai on 12-05-2019

10

Rajesh kumar on 03-05-2019

Sani grah ki walo ki sankhya kitni hai



Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment