उत्तर प्रदेश tet के बारे में हिंदी में बताएं

Uttar Pradesh tet Ke Bare Me Hindi Me Batayein

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 10-01-2019

UPTET (उत्तर प्रदेश अध्यापक पात्रता परीक्षा) उत्तर प्रदेश शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित की जाने वाली एक राज्य स्तरीय पात्रता परीक्षा है जिसके माध्यम से स्कूलों में प्राइमरी (कक्षा 1 से 5 तक) एवं अपर-प्राइमरी (कक्षा 6 से 8 तक) के लिए टीचर्स की भर्ती के लिए उम्मीदवार की जांच की जाती है. कोई भी बीएड डिग्री कर चुका उम्मीदवार यदि टीचर की सरकारी नौकरी पाने की इच्छा रखता है उसे UPTET की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी. UPTET परीक्षा प्रत्येक वर्ष नवंबर या दिसंबर में आयोजित की जाती है.


UPTET परीक्षा को ध्यान में रखते हुए हमने इस परीक्षा के लिए आवश्यक जानकारियों को उम्मीदवारों के लिए एकत्र किया है.


UPTET परीक्षा योजना


UPTET परीक्षा दो बहुविकल्पीय प्रकृति के एवं एक घंटे व 30 मिनट की समय सीमा वाले प्रश्न पत्रों के माध्यम से आयोजित की जाती है. दोनो ही प्रश्न पत्र अलग-अलग स्तर की कक्षाओं में टीचिंग जॉब के लिए निर्धारित किये गये हैं.


• पेपर 1: ऐसे उम्मीदवार जो कि प्राइमरी सेक्शन की कक्षाओं में टीचिंग करना चाहते हैं उन्हें प्रथम प्रश्न पत्र की परीक्षा में बैठना चाहिए.


• पेपर 2: ऐसे उम्मीदवार जो कि अपर-प्राइमरी सेक्शन की कक्षाओं में टीचिंग करना चाहते हैं उन्हें द्वितीय प्रश्न पत्र की परीक्षा में बैठना चाहिए.


• पेपर 1 व 2: जबकि ऐसे उम्मीदवार जो कि प्राइमरी एवं अपर-प्राइमरी दोनो सेक्शन्स की कक्षाओं में टीचिंग करना चाहते हैं उन्हें दोनो प्रश्न पत्रों की परीक्षा में बैठना चाहिए.


UPTET आवश्यक योग्यता मानदंड


UPTET में प्रश्न पत्रों के अनुसार पात्रता मानदंड नीचे दिये गये हैं. उम्मीदवारों को जरूरी है कि उनके पास टीचर इलिजिबिलिटी टेस्ट में बैठने के लिए इन मानदंड को पूरा करते हों.


UPTET शैक्षणिक योग्यता प्राइमरी सेक्शन (कक्षा I-V) के लिए


• किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 50% अंकों के साथ बैचलर्स डिग्री और NCTE या भारतीय पुनर्वास परिषद (RCI) से मान्यता प्राप्त दो वर्षीय डिप्लोमा.


या


• बैचलर्स डिग्री और दो वर्षीय BTC, CT (नर्सरी)/ नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (NTT)


या


• बैचलर्स डिग्री और स्पेशल BTC प्रशिक्षण में योग्यता


या


• बैचलर्स डिग्री और दो वर्षीय BTC उर्दू का विशेष प्रशिक्षण उत्तर प्रदेश में


या


• बैचलर्स डिग्री और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से टीचिंग में डिप्लोमा (उर्दू टीचर के लिए) या 11-08-1997 से पूर्व मौलमी-ई-उर्दू


UPTET शैक्षणिक योग्यता अपर-प्राइमरी सेक्शन (कक्षा VI-VIII) के लिए


• बैचलर्स डिग्री और नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजूकेशन (NCTE) से मान्यता प्राप्त संस्थान से BTC डिग्री


OR


न्यूनतम 50% अंकों के साथ बैचलर्स डिग्री और भारतीय पुनर्वास परिषद (RCI) से बीड या बीएड स्पेशल एजूकेशन


या


• न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट (10+2) और NCTE एवं UGC से मान्यता प्राप्त संस्थान से चार वर्षीय बीएससी बीएड/बीए बीएड


OR


• न्यूनतम 50% अंकों के साथ इंटरमीडिएट (10+2) और प्राइनरी एजूकेशन में चार वर्षीय डिग्री (B.El.Ed)


या


• न्यूनतम 45% अंकों के साथ बैचलर्स डिग्री और BEd डिग्री


संस्कृत एवं अंग्रेजी टीचर के लिए UPTET शैक्षणिक योग्यता प्राइमरी सेक्शन (कक्षा I-V) के लिए


• संस्कृत/अंग्रेजी विषय के साथ बैचलर्स डिग्री


और


• NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से BCT


अथवा


• NCTE या भारतीय पुनर्वास परिषद (RCI) से मान्यता प्राप्त संस्थान से दो वर्षीय डिप्लोमा (डीएड)


अथवा


• NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से दो वर्षीय CT (नर्सरी)/ नर्सरी टीचर ट्रेनिंग (NTT)


संस्कृत एवं अंग्रेजी टीचर के लिए UPTET शैक्षणिक योग्यता अपर-प्राइमरी सेक्शन (कक्षा VI-VIII) के लिए


• संस्कृत/अंग्रेजी विषय के साथ बैचलर्स डिग्री और NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से BCT


या


• न्यूनतम 50% अंकों के साथ संस्कृत/अंग्रेजी विषय के साथ बैचलर्स डिग्री और NCTE/RCI से मान्यता प्राप्त संस्थान से B.Ed / B.Ed स्पेशल डिग्री


या


• न्यूनतम 45% अंकों के साथ संस्कृत/अंग्रेजी विषय के साथ बैचलर्स डिग्री और NCTE/RCI से मान्यता प्राप्त संस्थान से B.Ed डिग्री


उर्दू टीचर के लिए UPTET शैक्षणिक योग्यता प्राइमरी सेक्शन (कक्षा I-V) के लिए


• किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से उर्दू एक मुख्य विषय के साथ बैचलर्स या पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री


या


• उत्तर प्रदेश में NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से बीटीसी


या


• उत्तर प्रदेश में उर्दू में BCT (2 वर्षीय)


या


• 11-08-1997 से पूर्व मौलमी-ई-उर्दू डिग्री


उर्दू टीचर के लिए UPTET शैक्षणिक योग्यता अपर-प्राइमरी सेक्शन (कक्षा VI-VIII) के लिए


• किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से उर्दू एक मुख्य विषय के साथ बैचलर्स या पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री


या


• उत्तर प्रदेश में NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से बीटीसी


या


• उत्तर प्रदेश में NCTE/RCI से मान्यता प्राप्त संस्थान से B.Ed/B.Ed स्पेशल डिग्री


या


• उत्तर प्रदेश में उर्दू में BCT (2 वर्षीय)


या


• 11-08-1997 से पूर्व मौलमी-ई-उर्दू डिग्री


या


• अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से डिप्लोमा इन टीचिंग


कहां-कहां लगा सकते हैं UPTET का सर्टिफिकेट


उत्तर प्रदेश में सरकारी स्कूलों में टीचर की जॉब पाने के लिए UPTET परीक्षा पास होने का प्रमाण पत्र लगाना आवश्यक है. UPTET प्रमाण पत्र का उपयोग उत्तर प्रदेश सरकार के अधीन स्कूलों में टीचर के पदों पर भर्ती के लिए आवश्यक जांच एवं योग्यता निर्धारित करने के लिए किया जाता है. हालांकि, UPTET प्रमाण पत्र की वैधता परीक्षा उत्तीण होने से अधिकतम दो वर्ष तक ही है. यदि UPTET परीक्षा पास किसी उम्मीदवार को दो वर्ष के भीतर कहीं टीचर की जॉब नहीं मिलती तो उन्हें UPTET की परीक्षा पुन: देनी होगी. हालांकि, ऐसे उम्मीदवार जो कि UPTET की परीक्षा में अपने स्कोर को अच्छा करना चाहते हैं तो वे लोग UPTET की परीक्षा में दोबार बैठ सकते हैं.


UPTET योग्यता, UPTET प्रमाण पत्र


सभी B.Ed. पास उम्मीदवार जो कि उत्तर प्रदेश सरकार में टीचर की जॉब पाना चाहते हैं उन्हें इन पदों के लिए हो भर्ती में अपनी उम्मीदवारी के लिए UPTET की परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है.





Comments

आप यहाँ पर tet gk, बताएं question answers, general knowledge, tet सामान्य ज्ञान, बताएं questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment