India History- Karnal Malsan Ne Kahaa : company Ke Adhikariyon Ka Ab Ek Hee Uddeshya Hai - Jitna Loot Sako , looto Aur Yah Ki " Wah " sone Ki Aisi Thaili Hain Jisme Jab Ji Chahe Hath Dal Lo - Isme " Wah " Kiske Liye Prayukt Kiya Gaya Hai -

Q.31647: कर्नल मालसन ने कहा : कंपनी के अधिकारियों का अब एक ही उद्देश्य है - जितना लूट सको , लूटो और यह कि " वह " सोने की ऐसी थैली हैं जिसमें जब जी चाहे हाथ डाल लो - इसमें " वह " किसके लिए प्रयुक्त किया गया है -
A.
B.
C.
D.
इस प्रश्न पर चर्चा करें
Previous Next

कर्नल मालसन ने कहा : कंपनी के अधिकारियों का अब एक ही उद्देश्य है - जितना लूट सको , लूटो और यह कि " वह " सोने की ऐसी थैली हैं जिसमें जब जी चाहे हाथ डाल लो - इसमें " वह " किसके लिए प्रयुक्त किया गया है - - Colonel Malson said: Do the officers of the company now have the same purpose? Loot as much as you can, loot and that "he" is such a gold pouch in which you want to put your hand in it - in what "he" has been used for? India History in hindi,   Meer Zafar question answers in hindi pdf  Meer Kasim questions in hindi, Know About Sirajudaula India History online test India History notes in hindi quiz book    najmudaulla