Rajasthan GK Rajya Sarkaar Ne Panchayat ( Anusoochit Area Me Vistar ) Adhiniyam 1996 Ke pravdhanon Ke Prabhavi Kriyanvayan Ke Liye adhyaDesh Kis Dinank Ko Jari Kiya Jo Rajya Ke Anusoochit Area Ke Liye Laya Gaya Hai ? Is Mahatvapurnn Decision Se Anusoochit Area Ki Gram Sabhaon Ko Vyapak Shaktiyon Aur Karya Ke Adhikar diye Gaye Hai Jo Ki Samvidhan Ke Bhag 9 Ke Mukhya pravdhanon Me Nahin Hai . Is adhyaDesh Ke Dwara Gram Sabhaon Ko Vyapak Adhikar diye Gaye Hai Taki anusuChit Area Me Village Ki samasyaein Ganvon Me niptane Aivam Vikash Karya Ganvon Me Hee Kar Sake . Yah

Q.22604: राज्य सरकार ने पंचायत ( अनुसूचित क्षेत्रों में विस्तार ) अधिनियम 1996 के प्रावधानों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये अध्यादेश किस दिनांक को जारी किया जो राज्य के अनुसूचित क्षेत्रों के लिए लाया गया है ? इस महत्वपूर्ण निर्णय से अनुसूचित क्षेत्रों की ग्राम सभाओं को व्यापक शक्तियों और कार्य के अधिकार दिये गये है जो कि संविधान के भाग नौ के मुख्य प्रावधानों में नहीं है . इस अध्यादेश के द्वारा ग्राम सभाओं को व्यापक अधिकार दिये गये है ताकि अनूसूचित क्षेत्रों में गांव की समस्याएं गांवों में निपटाने एवं विकास कार्य गांवों में ही कर सके . यह भी प्रावधान है कि अनुसूचित क्षेत्रों में पंचायत , पंचायत समितियों व जिला प्रमुखें के पद केवल अनुसूचित जाति के व्यक्ति के लिये आरक्षित है :
A
B
C
D
Previous Join Telegram Next
कृपया शेयर करें=>


राज्य सरकार ने पंचायत ( अनुसूचित क्षेत्रों में विस्तार ) अधिनियम 1996 के प्रावधानों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये अध्यादेश किस दिनांक को जारी किया जो राज्य के अनुसूचित क्षेत्रों के लिए लाया गया है ? इस महत्वपूर्ण निर्णय से अनुसूचित क्षेत्रों की ग्राम सभाओं को व्यापक शक्तियों और कार्य के अधिकार दिये गये है जो कि संविधान के भाग नौ के मुख्य प्रावधानों में नहीं है . इस अध्यादेश के द्वारा ग्राम सभाओं को व्यापक अधिकार दिये गये है ताकि अनूसूचित क्षेत्रों में गांव की समस्याएं गांवों में निपटाने एवं विकास कार्य गांवों में ही कर सके . यह भी प्रावधान है कि अनुसूचित क्षेत्रों में पंचायत , पंचायत समितियों व जिला प्रमुखें के पद केवल अनुसूचित जाति के व्यक्ति के लिये आरक्षित है : - On which date did the state government issue an ordinance for the effective implementation of the provisions of the Panchayat (Extension in Scheduled Areas) Act, 1996, which has been brought to the Scheduled Areas of the State? With this important decision, gram sabhas of scheduled areas have been given the powers of broad powers and work, which is not in the main provisions of Part 9 of the Constitution. Through this Ordinance, Gram Sabhas have been given extensive rights so that in villages, in the identified areas, the problem of village problems can be settled in the villages and development works only in the villages. It is also a provision that the post of panchayat, panchayat committees and district heads in the Scheduled Areas is reserved for the Scheduled Castes only. - Rajya Sarkaar Ne Panchayat ( Anusoochit Area Me Vistar ) Adhiniyam 1996 Ke pravdhanon Ke Prabhavi Kriyanvayan Ke Liye adhyaDesh Kis Dinank Ko Jari Kiya Jo Rajya Ke Anusoochit Area Ke Liye Laya Gaya Hai ? Is Mahatvapurnn Decision Se Anusoochit Area Ki Gram Sabhaon Ko Vyapak Shaktiyon Aur Karya Ke Adhikar diye Gaye Hai Jo Ki Samvidhan Ke Bhag 9 Ke Mukhya pravdhanon Me Nahin Hai . Is adhyaDesh Ke Dwara Gram Sabhaon Ko Vyapak Adhikar diye Gaye Hai Taki anusuChit Area Me Village Ki samasyaein Ganvon Me niptane Aivam Vikash Karya Ganvon Me Hee Kar Sake . Yah Rajasthan GK in hindi,   19 . 7 . 1999 question answers in hindi pdf  08 September 1999 questions in hindi, Know About 29 . 6 . 1999 Rajasthan GK online test Rajasthan GK notes in hindi quiz book    29 . 10 . 1999


Comments।