1857 की क्रान्ति-ब्रिटिश समर्थक भारतीय Gk ebooks


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 09:30 PM
विषय सूची: आधुनिक-भारत का इतिहास >> 1857 की क्रांति विस्तारपूर्वक >>> ब्रिटिश समर्थक भारतीय

ब्रिटिश समर्थक भारतीय


जगन्नाथ सिंह
पवन के राजा जगन्नाथ सिंह ने ब्रितानियोें के साथ मिलकर क्रांतिकारी मौलवी अहमद शाह को मौत के घाट उतार दिया।

रिपुभंजनसिंह और गुमानसिंह
कुँवर सिंह के दो भतीजों रिपुभंजनसिंह और गुमानसिंह ने ब्रितानियों का साथ दिया था।

डूमराव के महाराज
डूमराव के महाराज ने भी ब्रितानियों का साथ दिया ।

जंग बहादुर
ये नेपाल के राजा थे। इन्होंने क्रांतिकारियों को बंदी बनाने व उनकी हत्या करवाने में ब्रितानियों का साथ दिया था।

मानसिंह
इसने तांत्या टोपे को गिरफ़्तार करवाने में ब्रितानियों का साथ दिया था।

अमीर दोस्त मुहम्मद
यह अफ़ग़ानिस्तान के बादशाह थे और ब्रितानियों के मित्र थे।

नवाब सालार जंग
ये हैदराबाद के नवाब थे। ये क्रांतिकारियों के विरोधी व ब्रितानियों के समर्थक थे।

सर सैयद मोहम्मद
इन्होंने हमेशा ब्रितानियों का ही साथ दिया था।

इलाही बख्श
ये बहादुरशाह के समधी तथा ब्रितानियों के समर्थक थे।



सम्बन्धित महत्वपूर्ण लेख
रूपरेखा 1857 की क्रांति
1857 की क्रांति के मुख्य कारण
1857 की क्रान्ति का फ़ैलाव
1857 की क्रांति की शुरुआत
1857 की क्रांति कुछ महत्वपूर्ण तथ्य
ब्रिटिश ऑफिसर्स
स्वतंत्रता संग्राम की प्रमुख तारीखें
फ़ूट डालो और राज करो
1857 के विद्रोह की असफ़लता के कारण
1857 की क्रांति के परिणाम
ब्रिटिश समर्थक भारतीय
1857 के क्रांतिकारियों की सूची

British Samarthak Indian Jagannath Singh Pawan Ke Raja ne Sath Milkar Krantikari Maulavi Ahmad Shah Ko Maut Ghat Utar Diya Ripubhanjansingh Aur GuMaansingh Kunvar Do Bhatijon Britanian Ka Tha DoomRao MahaRaj Bhi Jung Bahadur Ye Nepal The Inhone Krantikariyon Bandi Banane Wa Unki Hatya Karwane Me Maansingh Isne Tantya Tope Giraftaar Ameer Dost Muhammad Yah Afaganistan BaadShah Mitra Nawab Salaar Hyedrabad Virodhi Sar Saiyad Mohammad


Labels,,,