राजस्थान सामान्य ज्ञान-राजसमंद झील Gk ebooks


Rajesh Kumar at  2018-08-27  at 09:30 PM
विषय सूची: राजस्थान सामान्य ज्ञान Rajasthan Gk in Hindi >> राजस्थान की झीलें >>> राजसमंद झील

राजसमंद झील (राजसमंद)
इसका निर्माण मेवाड़ के राजा राजसिंह ने गोमती नदी का पानी रोककर (1662-76) इस झील का निर्माण करवाया गया। इस झील का उतरी भाग "नौ चौकी" कहलाता है। यही पर 25 काले संगमरमर की चट्टानों पर मेवाड़ का पूरा इतिहास संस्कृत में उत्कीर्ण है। इसे राजप्रशस्ति कहते है। जो की संसार की सबसे बड़ी प्रशस्ति है। राजप्रशस्ति अमरकाव्य वंशावली नामक पुस्तक पर आधारित है। जिसके लेखक - रणछोड़ भट्ट तैलंग है। इसके किनारे "घेवर माता" का मन्दिर है।



सम्बन्धित महत्वपूर्ण लेख
साम्भर झील
राजस्थान की मुख्य झीलें
डीडवाना पचपदरा लूणकरणसर आदि झीलें
जयसमंद झील
राजसमंद झील
पिछोला झील
उदयसागर झील
फतहसागर झील उदयपुर
नक्की झील
आनासागर झील अजमेर
फॉयसागर झील
पुष्कर झील अजमेर
सीलीसेढ झील
कोलायत झील बीकानेर

RajSamand Jheel Iska Nirmann Mewad Ke Raja Rajsingh ne Gomati Nadi Ka Pani RokKar 1662 - 76 Is Karwaya Gaya Uttari Bhag 9 Chauki Kehlata Hai Yahi Par 25 Kaale Sangmarmar Ki Chattanon Pura Itihas Sanskrit Me Utkirnn Ise RajPrashasti Kehte Jo Sansar Sabse Badi Prashashti Amarkavya Vanshavali Namak Pustak Aadharit Jiske Lekhak Ranchhod Bhatt Tailang Iske Kinare Ghevar Mata Mandir


Labels,,,