राजस्थान का पहनावा

Rajasthan Ka Pahnawa

GkExams on 12-05-2019

राजस्थानी वेशभूषा

राजस्थान के लोगों का पहनावा रंग-रगीला है।

रेत और पहाड़ियों के सुस्त रंगों के बीच चमकीले

रंगों की पोशाक राजस्थान के लोगों को जीवंत

बनाती है। सिर से लेकर पांव तक, पगड़ी, कपड़े, गहने

और यहां तक कि जूते भी राजस्थान की आर्थिक

और सामाजिक स्थिति को दर्शाते हैं।

सदियों बीत जाने के बाद

भी यहां की वेशभूषा अपनी पहचान बनाये हुए है।

राजस्थान की जीवन शैली के आधार पर अलग-

अलग वर्ग के लोगों के लिए अलग-अलग परिधान के

अंतर्गत पगड़ी यहां के लोगों की शान और मान

का प्रतीक है। यहां के लोग 1000 से भी अधिक

प्रकार से पगड़ी बांधते हैं। कहा जाता है

कि यहां हर 1 किमी. से पगड़ी बांधने

का तरीका बदल जाता है। पुरुष पोशाक में पगड़ी,

अंगरखा, धोती या पजामा, कमरबंद

या पटका शामिल है और महिलाओं की पोशाक में

घाघरा, जिसे लंबी स्कर्ट भी कहते हैं,

कुर्ती या चोली और ओढ़नी शामिल हैं। घाघरे

की लंबाई थोड़ी छोटी होती है ताकि पांव में

पहने गहने दिखायी दे सकें और ओढ़नी घूंघट करने के

काम आती है।

ऊंट, बकरी और भेड़ की खाल से बने जूते पुरुष और

महिलाओं के जरिये पहने जाते हैं। मखमल या जरी के

ऊपर कढ़ाई कर के जूते के बाहरी भाग पर

चिपकाया जाता है। जैसलमेर, जोधपुर,

रामजीपुरा और जयपुर

की जूतियां पूरी दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं।



Comments Dipika Kumari on 15-02-2021

Rajasthan ka pehnawa kya hai

Sanjay on 12-11-2020

I am a bit of a new one. I will have the opportunity 8 the. . 7h 355. 30th 99k9oi.

Yogendra Kumar on 28-10-2020

पंजाब का पहनावा

Naveen on 15-07-2020

राजस्थान में कौनसा अवनध/ताल वाद्य यंत्र हे

Shaheenparween on 07-07-2020

Rajasthan mein konsa pahnawa prasidhh hai

Simram on 03-06-2020

Purush ka pehnawa rajasthan mein


Jaipur ka phanawa on 03-05-2020

Jaipur ka phanawa



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment