केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान

Kendriya Khadya Praudyogiki Anusandhan Sansthan

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 06-12-2018

केन्द्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान (अंग्रेज़ी : सेन्ट्रल फ़ूड रिसर्स इंस्टीट्यूट) कर्नाटक राज्य में मैसूर में स्थित एक संस्थान है।


केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिक अनुसंधान संस्थान (सी.एफ.टी.आर.आई), मैसूर (वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली की एक संघटक प्रयोगशाला) सन्‌ 1950 में संस्थापकों की दूरदर्शिता और खाद्य विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उच्च अनंसुधान एवं विकास कार्य के प्रति समर्पित उत्साही वैज्ञानिकों के नेटवर्क के कारण अस्तित्व में आयाI संस्थान की सस्ती परन्तु प्रभावशाली प्रौद्योगिकियों का विकास, देशी कच्चे माल का उपयुक्त एवं प्रभावपूर्ण उपयोग, जैव प्रौद्योगिकियाँ, विशेषकर एकीकृत प्रविधियों का विकास, संपूर्ण प्रौद्योगिकी के लिए उच्च स्तरीय अनुसंधान प्रयास, खाद्य सुरक्षा, सभी वर्गों की जनता के लिए पोषण इत्यादि विषयों की ओर विशेष रूझान रहा है I


संस्थान को अपने अनुसंधान एवं विकास कार्य बढाने और वैश्वीकरण से टक्कर के कारण राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा बाह्यत: निधिक कई परियोजनाओं से बड़ा लाभ प्राप्त हुआ है। खाद्य उद्योग में बढ़ती पूँजी निवेश के साथ देश में प्रस्तुत परिदृश्य बड़ा उत्साहवर्धक है जिसका शहरी बजार में पर्यावरणानुकूल प्रौद्योगिकियों द्वारा प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों के लिए, विशेष रूप से पारंपरिक खाद्यों के लिए शीघ्र गति से विस्तार हो रहा है I


इंस्टिच्यूट ऑफ फूड़ टेकनालजिस्ट्‌स (यू एस ए), संयुक्त राष्ट्र विश्र्वविद्यालय (टोकियो), यूरोपीय आर्थिक आयोग (बेल्जियम), नेशनल साइन्स फाउण्डेशन (यूएसए) जैसे कई और अन्य अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों के जरिए पोषित मानव संसाधन विकास एवं अ. & वि. साझेदारी के क्षेत्र में सीएफटीआरआई की भूमिका हमेशा ऊंची रही है। सीएफटीआरआई आईएसओ 9001-2008 और आई एस ओ 14001:2004 संगठन होने के अलावा इसे नमूनों के रसायन एवं जैविकी परीक्षणों के लिए एनएबीएल प्रत्यायन भी प्राप्त है I


विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए संबंधित उद्योगों और एजेंसियों के साथ स्थायी साझेदारी करने और दीर्घकालीन अप्रतिम प्रौद्योगिकी के विकास के लिये प्रायोजित, परामर्शी अनुसंधान और व्यापारिक अनुबंध के साथ-साथ खाद्य विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी क्षेत्र में अतुलनीय प्रौद्योगिकी विकसित करने में संस्थान की विलक्षण क्षमताओं का विशेष महत्च है।


इस उत्साहवर्धक वातावरण ने सीएफटीआरआई को समेकित रूप से अपनी उत्कृष्ट क्षमताओं का विकास करने और अनुकूल, किफायती एवं उपयुक्त प्रौद्यागिकियों के जरिए अपने अनुसंधान एवं विकास को लोगों तक पहुंचाते हुए प्रतिबद्धता के साथ विश्व के एक अग्रणी अनुसंधान एवं विकास संस्थान के रूप में स्थान पाने हेतु प्रयासरत है I





Comments

आप यहाँ पर केंद्रीय gk, खाद्य question answers, प्रौद्योगिकी general knowledge, अनुसंधान सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 135
Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment