गोविन्द गिरी का जीवन परिचय

Govind Giri Ka Jeevan Parichay



GkExams on 04-04-2022


इस लेख में हम गोविंद गिरी जी के जीवन परिचय के बारे में बात करेंगे जिन्होंने स्वामी दयानन्द सरस्वती की प्रेरणा से आदिवासी जाती भीलो में समाज एवं धर्म सुधार अंदोलन किया था। आपकी बेहतर जानकारी के लिए बता दे की गोविंद गिरी जी को गोविंद गुरु के नाम से भी जाना जाता है।


इन्होने भीलों को हिन्दू धर्म के दायरे में रखने के लिए "भगत पन्थ" की स्थापना की। इसके अलावा गोविन्द गुरु ने शिक्षा का प्रसार एवं सामाजिक सुधार का संदेश दिया।


और गोविंद गुरु ने 1883 ई में "सम्प सभा" की स्थापना की व इसके माध्यम से भीलों में सामाजिक एवं राजनीतिक जागृति पैदा कर उन्हें संगठित किया।


Biography of Govind Giri :


  • जन्म तारीख - 20-दिसंबर1858
  • जन्म स्थान - डूंगरपुर बासिया गांव राजस्थान
  • वंश - बंजारा
  • पत्नी का नाम - गनी देवी
  • माता का नाम - लाटकी देवी
  • पिता का नाम - बसर बंजारा
  • गुरु/शिक्षक - राजगिरी जी
  • राज्य छेत्र - डूंगरगढ़, राजस्थान और गुजरात
  • धर्म - हिन्दू
  • राष्ट्रीयता - भारतीय
  • मृत्यु - 30-अक्टूबर 1931






  • सम्बन्धित प्रश्न



    Comments Pradnya Rajderkar on 24-01-2022

    आचार्य गोविंद देव गिरी महाराज यांचे मूळ नाव काय



    आप यहाँ पर गिरी gk, question answers, general knowledge, गिरी सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

    Labels: , , , , ,
    अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




    Register to Comment