संगठनात्मक संघर्ष परिभाषा

Sangathanatmak Sangharsh Paribhasha



GkExams on 23-06-2022


संगठनात्मक संघर्ष (Organizational conflict) परिभाषा : संगठनात्मक संघर्ष दो या दो से अधिक संगठन के सदस्यों या समूहों के बीच एक असहमति है जो इस तथ्य से उत्पन्न होता है कि उन्हें दुर्लभ संसाधनों या कार्य गतिविधियों या इस तथ्य से साझा करना चाहिए कि उनके पास अलग-अलग स्थितियां, लक्ष्य, मूल्य या धारणाएं हैं।


संगठनात्मक संघर्षों के प्रकार :




यहाँ हम निम्नलिखित बिन्दुओं द्वारा आपको संगठनात्मक संघर्षों के प्रकारों (Types of Organizational conflict) के बारें में अवगत करा रहे है, जो इस प्रकार है...


खड़ा :


जब प्रबंधन के स्तर के बीच संघर्ष की स्थिति उत्पन्न होती है अक्सर यह शक्ति का वितरण, प्रभाव होता है।


क्षैतिज :


समान स्थिति वाले लोगों के स्तर पर। अक्सर, वे लक्ष्यों, उद्देश्यों और उन्हें हल करने के तरीके में एक बेमेल के कारण होते हैं।


रैखिक कार्यात्मक :


प्रबंधक और विशेषज्ञों के बीच संघर्ष।


भूमिका निभाना :


भूमिकाओं का निष्पादन व्यक्ति की अपेक्षाओं के अनुरूप नहीं है। कार्य (भूमिकाएं) की संख्या एक कर्मचारी की तुलना में अधिक हो सकती है जो शारीरिक रूप से कार्य कर सकती है।




सम्बन्धित प्रश्न



Comments

आप यहाँ पर संगठनात्मक gk, संघर्ष question answers, general knowledge, संगठनात्मक सामान्य ज्ञान, संघर्ष questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment