जब पानी जमता है तो उसका घनत्व

Jab Pani Jamta Hai To Uska Ghanatwa

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 06-02-2019


अक्सर जब कोई भी तरल पदार्थ ठोस अवस्था में बदलता है तो उसका आयतन घट जाता है और घनत्व बढ़ जाता है। जिसके कारण वो ठोस पदार्थ भारी हो जाता है।

परन्तु पानी के सन्दर्भ में उपर्युक्त बातें लागू नहीं होती है। पानी जमने के बाद ज्यादा जगह घेरती (आयतन) है जिस कारण बर्फ़ का घनत्व पानी के घनत्व से कम हो जाता है। और इसी कारण से पानी की तुलना में बर्फ़ हल्की होती है।

वास्तव में पानी के इस गुण के लिए पानी के अणु द्वारा बनाए गए हाइड्रोजन बंधन जिम्मेदार होते है। जब पानी तरल अवस्था में रहता है तो पानी के अणु(Molecule) एक दूसरे के इर्द गिर्द स्वतंत्र घूमते रहते है और उनके बीच का हाइड्रोजन बंधन बनते और टूटते रहता है। तरल अवस्था में पानी के अणुओं के बीच के औसत - अंतः अणु - दूरी (Average inter molecular distance) अधिक होता है जिसके कारण तरल अवस्था में आयतन कम होता हैै।
परन्तु जब पानी बर्फ़ में बदलता है तो पानी के अणु पास पास आ जाते है (when temperatures of water decreases, water molecules comes closer) और उन अणुओं के बीच जो हाइड्रोजन बंधन बनता है वो हाइड्रोजन बंधन शक्तिशाली होता है और वो एक तरह से पानी के अणुओं का क्रिस्टल जाल(crystal lattice) बनाते है जिस कारण बर्फ़ का आयतन अधिक होता है।




Comments

आप यहाँ पर जमता gk, उसका question answers, general knowledge, जमता सामान्य ज्ञान, उसका questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 246
Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment