रीढ़ की हड्डी की मजबूती की देशी दवाई

Reedh Ki Haddi Ki Majbooti Ki Deshi Dawai

Gk Exams at  2020-10-15

GkExams on 06-05-2020



हड्डियों को मजबूत बनाती हैं कैल्शियम से भरपूर ये 6 चीजें

आइए जानते हैं कैल्शियम से भरपूर वे चीजें जिन्हें खाने से आपके शरीर की हड्डियां रहेंगी मजबूत और शरीर रहेगा स्वस्थ-


हड्डियों को मजबूत बनाती हैं कैल्शियम से भरपूर ये 6 चीजेंकैल्शियम से भरपूर चीजें

हमारे शरीर को स्वस्थ और मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम की जरूरत होती है. केवल यही नहीं बल्कि हमारी मांसपेशियों और नर्व सिस्टम के सुचारू तरीके से काम करने के लिए भी कैल्शियम जरूरी होता है. आइए जानते हैं कैल्शियम से भरपूर वे चीजें जिन्हें खाने से आपके शरीर की हड्डियां रहेंगी मजबूत और शरीर रहेगा स्वस्थ-


1- दूध- जब हम कैल्शियम के बारे में सोचते हैं तो हमारे दिमाग में सबसे पहले जो चीज आती है वो है -दूध. आसानी से पाच्य दूध सबसे बढ़िया कैल्शियम का स्त्रोत है. बचपन से लेकर बड़े तक हड्डियों को मजबूत बनाने में दूध बहुत जरूरी है. एक कप दूध में 280 मिलीग्राम कैल्शियम होता है.


2-संतरा- एक संतरे में 60 मिलीग्राम कैल्शियम


हम सब जानते हैं कि संतरा हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने में मदद करता है. इसमें विटामिन डी के साथ कैल्शियम की प्रचुर मात्रा होती है. विटामिन डी शरीर में कैल्शियम के अवशोषण में बहुत जरूरी होता है.


3-बादाम- 1 कप रोस्टेड बादाम में 457 mg कैल्शियम


कैल्शियम की उच्च मात्रा वाली चीजों में कैल्शियम सबसे ऊपर आता है. इसमें प्रोटीन भी भरपूर होता है. इससे हार्ट की बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है. साथ ही बादाम आपकी याद्दाश्त बढ़ाने में तो मदद करता ही है.


4-अंजीर- 1 कप सूखे हुए अंजीर में 242 mg कैल्शियम


फाइबर और पोटैशियम से युक्त अंजीर में कैल्शियम भी प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है. यह आपकी हड्डियों को भी मजबूत करने में भी मदद करता है. मैग्नीशियम के साथ अंजीर हार्ट बीट को भी सही रखता है.




5-योगर्ट


रोजाना खाने में शामिल किया जाने वाला योगर्ट कैल्शियम रिच भी होता है. अगर आपको दूध पसंद नहीं है तो प्रोटीन से भरपूर योगर्ट आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकता है.


6-पनीर-


कैल्शियम के मामले में अमीर होने की सूची में पनीर का भी नाम शामिल है. प्रोटीन के साथ-साथ यह कैल्शियम का भी बढ़िया स्त्रोत है.





GkExams on 06-05-2020

किसी व्यक्ति को गठिया, साइटिका या रीढ़ की हड्डी या अन्य हड्डी से जुड़ी कोई परेशानी है तो उसके लिए गृद्धासन काफी कारगर उपाय हैं। इसके नियमित अभ्यास से काफी फायदा होता है।

गृद्धासन की विधि

- समतल स्थान पर कंबल आदि बिछाकर जमीन पर सीधा खड़े हो जाएं।

- फिर दाएं पैर को घुटनें से मोड़कर बाएं पैर में रस्सी की तरह लपेटकर खड़े हो जाएं तथा पूरे शरीर का भार एक पैर पर डालें।

- इस तरह दोनों हाथों को भी आपस में इस तरह से लपेटे की अंगूलियां गिद्ध की चोंच की तरह बन जाएं।

- हाथों को मुंह के सामने रखें।

- आसन की इस स्थिति में कुछ देर तक रहें और सामान्य स्थिति में आकर इस क्रिया को दूसरे पैरों से भी करें।

- इसमें घुटनों को हमेशा मुड़े हुए रखें। इस आसन का अभ्यास शुरु में कठिन होता है।

- इस आसन को शुरु में करते समय किसी दूसरे की सहायता ले सकते हैं। बाद में बिना किसी की सहायता से ही करें। इस आसन में शरीर का पूर्ण भार एक पैर पर ही टिका होता है। इसमें शरीर का संतुलन बनाना आवश्यक है।

आसन से रोगों में लाभ

इससे पिण्डलियों की मांसपेशियां विकसित व सक्त बनती है। इस से पैरों व हाथों की हड्डियां मजबूत होती है तथा रीढ़ की हड्डी भी मजबूत होती है। यह हाथ-पैरों को विकसित एवं पुष्ट करता है। यह गठिया तथा पुरानी गृधसी (वातरोग, साइटिका पेन) को ठीक करता हैं।

सावधानी

यदि आपको किसी तरह की बीमारी है तो किसी योग प्रशिक्षक से परामर्श अवश्य करें।


GkExams on 06-05-2020



रीढ़ की हड्डी के कार्य :-


1.शरीर को सीधा रखना


2.स्पाइनल कोड को सुरक्षा देना


रीढ़ की हड्डी की बीमारी


रीढ़ की हड्डी के 33 मनके होते है। रीढ़ की हड्डी के मनकों के बीच में डिस्क होती है जो खिस्क जाए तो तकलीफ करती है। मनको के अंदर काफी समस्या होती है। इनमें इंफेक्शन, चेप लगना, मनके टूट जाना ,मनकों का आगे-पीछे होना व हिलना, मनकों का दब जाना, मनकों के बीच में जगह कम होना।


रीढ़ की हड्डी में क्या आती है दिक्कतें :-


पीठ व कमर में दर्द ,टांगों का सुन होना, टांगों में झनझनाहट होना, चलने में दिक्कत होना, टांगों का चलना बंद होना, पेशाब रुक जाना। अगर कमर दर्द ठीक नहीं होता है और साथ में बुखार या टांगों में दर्द है तो तुंरत स्पाइनल सर्जन को दिखाएं। अगर पैर या टांग का कोई भी हिस्सा चलना बंद हो जाए तो तुरंत अस्पताल या रीढ़ की हड्डी के विशेषज्ञ को दिखाएं।


इलाज : अधिकतर लोग दवाओं, कसरत तथा गर्म सेक से आराम से ठीक हो सकते हैं और कुछ लोगों को इंजेक्शन से ठीक किया जा सकता है। अगर उनसे ठीक न हो तो ऑपरेशन भी किया जा सकता है। ऑपरेशन से लकवा होना या पैर हिलने बंद होना या पेशाब आना रुक जाना, ये तमाम भ्रांतियां बेबुनियाद हैं।


यह अपनाएं सलाह


आगे झुक कर कोई काम न करें। भारी वजन बिल्कुल न उठाएं, कमर को स्पोर्ट देकर बैठें, दूध व दूध से बने पदार्थ, विटामिन डी युक्त पदार्थो का सेवन करें।


कब होता है यह दर्द


गिरने के कारण, बढ़ती उम्र के कारण, अधिक वजन उठाने के कारण, गलत तरीके से बैठने के कारण।


क्या गर्दन व बाजू के सारे दर्द सरवाइकल के हैं ? कमल, दुगरी


उ. नहीं, सरवाइकल एक विस्तृत बीमारी है। आम डॉक्टर के लिए सभी गर्दन व बाजू के दर्द सरवाइकल हैं। लेकिन सबसे आम कारण मांसपेशियों में दर्द, कंधे का दर्द, कारपलटनल सिंड्रोम जैसी वस्तुएं सरवाइकल के दर्द की तरह होती हैं।


प्र. एमआरआइ की रिपोर्ट में काफी कुछ लिखा होता है क्या इससे डरना चाहिए? संगीता, किचलू नगर


उ. इलाज इंसान का होता है, एमआरआइ व एक्स-रे का नहीं होता है। जब तक मरीज की पूरी जांच न हो तो इलाज नहीं हो सकता है।


प्र.रीढ़ की हड्डी के मनके दबे हुए है? पुनीत, हैबोवाल


उ. मनके दस-बारह तरह से टूटते हैं। मनकों के दबने का इलाज इंजेक्शन से संभव है।


प्र. स्पाइनल कोड में दर्द रहता है ? अरुण, 32 सेक्टर


उ. अगर एक सप्ताह से दर्द होती रही है तो तुंरत डॉक्टर को दिखाएं।


प्र.रीढ़ की हड्डी में मनकों के दबाव के कारण दर्द रहता है, राकेश कुमार, मुंडियां


उ.रीढ़ की हड्डी में जगह कम होने के कारण दर्द होता है, इसका दवाओं, इंजेक्शन व एक्सरसाइज से इलाज संभव है।


प्र. बेटी की रीढ़ की हड्डी के तीन मनके दबने के कारण दर्द हैं? अंजू गोयल


उ. इसको कुब हो सकता है,आपकी बेटी को शुमरमैनस काइफोसिस भी हो सकता है। कुबड़ेपन का इलाज ऑपरेशन है।




Comments Amit on 13-09-2020

Mere manka ya point bar bar hil jata h

vandana markam on 10-12-2019

मैं कुमारी वंदना मरकाम मैं कमर से परेशान हॅू 2007 में मेरी रीढ की हडडी का ऑपरेशन हुआ है मेरे कमर में रॉड लगा है जिस कारण से मैं कुछ कर नहीं पा रही हूॅ मुझे चलने फिरने में परेशानी हो रही है क़पया उपाय बताये की मैं क्‍या करूं मेरे हडडी भी बहुत कमजोर है मै ज्‍यादा मेहनत का काम नहीं कर पा रही हॅूा


Sourabh dodiya on 12-05-2019

मे 30 वर्ष का हु मेरी रीड की हडीयो के बीच जगह सी बन गई है जिसके कारण सोने मे बहुत परेशानी होती है चलने फिरने उठने मे भी धिककत होती है क्पया उपाय बताये

7600321321

गुजरात

भावनगर


Narendra kumar on 13-04-2019

मेरी पत्नी की कमर व जोडो मे दर्द रहता है चलने में पैरों दर्द होता है शरीर का वजन उठाने मे पैरों में दिक्कत होती है ृकृप्या उचित दवा बताए


सुनील तेजस्वी on 22-02-2019

मेरे पापा का सायटिका का ऑप्रेशन हुआ हे 2 महिने पहले हालाकि अब वो स्वस्थ हे पर डॉक्टर का कहना हे की इनकी हड्डियां पहले से कमजोर हो गई हे तो क्या हड्डियों को मजबुत किया जा सकता हे क्या इसके लिए कोई दवाई हे ओर उनको क्या खिलाएं जिससे उनकी हड्डियां मजबुत हौ जाएँ


Abbas Abbas Abbas on 30-01-2019

Reed ki haddi kaise majboot hoti hai


Naincy on 02-01-2019

Back pain bone weak



Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment