प्रकाश का वेग सबसे पहले किसने मापा था

Prakash Ka Veg Sabse Pehle Kisne Mapa Tha

Pradeep Chawla on 17-10-2018

सत्राहवीं सदी के मध्य तक धारणा यह थी कि प्रकाश का वेग अनंत होता है, अर्थात् उसे एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुँचने में कुछ भी समय नहीं लगता। गैलिलियो ने प्रकाश की चाल को मापने का प्रयास किया था, परन्तु उनके प्रयोग में मानव-प्रतिक्रिया-काल से होने वाली त्रुटी की वजह से वे प्रकाश की गति मापने में नाकामयाब रहे| सितंबर1676 में रोमर ने बताया कि प्रकाश का वेग तीव्र होने के बावजूद 'परिमित' है। बृहस्पति के एक उपग्रह, इओ, के ग्रहणों के अंतर काल में पृथ्वी से संबंधित दूरी के बदलने से होने वाले परिवर्तन का अध्ययन कर, रोमर ने प्रकाश को पृथ्वी की कक्षा के व्यास को पार करने में लगनेवाले काल को निकालाने का तरीका सुझाया| हालांकि, उस तरीके के आधार पर गणना करने वाले पहले व्यक्ति क्रिस्चियन हुय्गेंस थे, जो 2,14,300 किलोमीटर प्रति सेकंड के बराबर ज्ञात हुआ, फिर भी प्रकाश की गति निकालने वाले व्यक्ति के रूप में रोमर को ही श्री मिलता है । उन समय के वैज्ञानिक ज्ञान को देखते हुए यह अत्यंत प्रशंसनीय कार्य था|



Comments Komal Singh Thakur on 18-02-2020

Prakash ki gati ko kisne maps tha

Vijay Yadav on 16-01-2020

Parkas ka veg sabse pahle

Vijay Yadav on 16-01-2020

Parkas ka veg sabse pahle kisane mapa tha

Vijay Yadav on 16-01-2020

Bled groph ki khoj kisane ki the

Vinay Kumar Ram on 08-01-2020

परम दाब हैं

MD Shahid on 19-12-2019

Antriksh mein sabse jyada Diya takrane wala aadami ka naam kya hai


Anu on 12-05-2019

Romer ne



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment