संचायक बैटरी में किसका प्रयोग होता है

Sanchayak Battery Me Kiska Prayog Hota Hai

Pradeep Chawla on 17-10-2018

संचायक (Accumulator), संचित करनेवाला उपकरण है। द्रवइंजीनियरी (hydraulics) मे द्रवचालित संपीडक तथा उत्थापक (elevator) को शक्ति (power) प्रदान करने के लिए, एक प्रकार का संचायक होता है, जिसके ऊर्ध्वाधर बेलन में मज्जक (plunger) भारी भार से भारित रहता है। बेलन में पानी, जो भारयुक्त मज्जक उठा देता है, पंप द्वारा भर दिया जाता है। भारयुक्त मज्जक की क्रिया के कारण उच्चदाब पर पानी तीव्रता से विसर्जित होता है, जिससे यंत्रों को चलाने के लिए द्रवचालित शक्ति प्राप्त होती है। संचायक अल्पकाल के लिए बड़े परिणाम में शक्ति संभरित करता है और इसका भरण निम्न शक्तिवाले पंप से हो सकता है। जल-विद्युत्शक्ति प्रणाली में संचायक संयंत्र के रूप में दूसरे प्रकार के संचायक का उपयोग किया जाता है। ब्रिटेन में संचायक बैटरी (storage battery) को भी संचायक कहते हैं।

संचायक बैटरी

संचायक बैटरी एक युक्ति है जिसमें रासायनिक ऊर्जा संचित की जाती है, जो किसी भी समय के रूप में निर्मुक्त हो सकती है। सामान्य उपयोग में आनेवाली संचायक बैटरियाँ दो प्रकार की होती हैं :

  • (1) लेड अम्ल संचायक बैटरी तथा
  • (2) क्षारीय संचायक बैटरी।




Comments Krishna on 05-12-2019

सीसा संचायक बैटरी में किस अम्ल का प्रयोग होता है

सुमन खोजा on 12-05-2019

संचायक बेटरी में किस धातु का प्रयोग होता है

Shiv on 14-10-2018

Good

Rahul on 08-09-2018

Sisa sanchayan battery me kiska prayog hota hai



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment