कुचालक और सुचालक क्या है

Kuchalak Aur Suchalak Kya Hai

GkExams on 27-12-2018

ऐसे पदार्थ जिनमें से इलेक्ट्रॉन्स या करंट प्रवाह नहीं हो सकते. या यूं कहें कि जिन पदार्थों में से हम बिजली को नहीं लेकर जा सकते ऐसे पदार्थों को कुचालक कहते हैं. इनकी प्रतिरोधक क्षमता बहुत अधिक होती है जिसके कारण इनमें से करंट प्रवाह नहीं हो सकता. इनकी चालकता ना के बराबर होती है.

कुचालक को अलग-अलग काम के अनुसार और उनके आकार के अनुसार कुछ श्रेणियों में बांटा गया है जिसके बारे में नीचे आपको एक एक करके बताया गया है.


1.ठोस कुचालक :– ऐसे कुचालक जो भारी और कठोर होते हैं वह ठोस कुचालक की श्रेणी में आते हैं जैसे कि कांच , मार्बल , चीनी मिट्टी इत्यादि .
2.नरम कुचालक :– ऐसे कुचालक जो वजन में कुछ हल्के होते हैं ऐसे पदार्थों को नरम कुचालक की श्रेणी में रखा जाता है जैसे कि रबड़, मायका ,PVC इत्यादि.
3.तरल कुचालक :– ऐसे कुचालक जो कि तरल अवस्था में होते हैं उन्हें तरल कुचालक की श्रेणी में रखा जाता है जैसे कि तेल वार्निश इत्यादि.



कुचालक की विशेषताएं

एक अच्छा कुचालक बनने के लिए उस पदार्थ में कुछ खास विशेषताएं होनी बहुत जरूरी है तभी उसे एक अच्छा कुचालक माना जा सकता है तो एक अच्छे कुचालक में क्या क्या खास बातें होने चाहिए उसके बारे में नीचे आपको बताया गया है.

  1. एक अच्छा कुचालक वाटर प्रूफ और नमी रोधी होना चाहिए. ताकि उस पर किसी प्रकार के वातावरण का प्रभाव ना पड़े.
  2. कुचालक कभी भी ज्वलनशील नहीं होना चाहिए.
  3. कुचालक की प्रतिरोधक क्षमता बहुत ज्यादा होने चाहिए.
  4. कुचालक यांत्रिक तौर पर मजबूत होना चाहिए कुचालक पर किसी प्रकार की रासायनिक क्रिया का प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए .
  5. कुचालक आसानी से बाजार में उपलब्ध होने वाला होना चाहिए .




Comments Jitendra pal on 26-10-2021

Suchalak ke pribhasha

Sobhit on 23-02-2021

suchalak kuchalak kya h

Mamta on 07-09-2020

किसी कुचालक के लिए परावैद्युतांक K नहीं हो सकता

Veer singh on 12-05-2019

Kuchalak



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment