राजस्थान की लम्बाई

Rajasthan Ki Lambai

GkExams on 21-02-2019

राजस्थान की स्थिति विस्तार आकृति एवं भौगोलिक स्वरूप



राजस्थान भारत के उत्तर पश्चिम में स्थित हैं तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य मध्य प्रदेश से छत्तीसगढ़ अलग होने के बाद है।
2011 में राजस्थान की कुल जनसंख्या 6,86,21,012 थी जो की देश की जनसंख्या का 5.67 प्रतिशत है।
स्थिति- 23 ’3’ उतरी अक्षांश से 30 ’12’ उतरी अक्षांश (अक्षांशीय विस्तार 7 ’9 ’) तथा 69 ’30’ पूर्वी देशान्तर से 78 ’17’ पूर्वी देशान्तर (विस्तार 8 ’47) के मध्य स्थित राजस्थान का अधिकांश भाग कर्क रेखा (231/2’ कर्क रेखा अर्थात 23 0 30’ उतरी अक्षांश रेखा के उतर में स्थित है।भुमध्य रेखा के सापेक्ष राजस्थान उतरी गोलाद्र्व में स्थित है।ग्रीन वीच रेखा के सापेक्ष राजस्थान पुर्वी गोलाद्र्व में स्थित है। भुमध्य रेखा व ग्रीनवीच दोनों के सापेक्ष राजस्थान उतरी पूर्वी गोलाद्र्व में स्थित है।
उत्तर से दक्षिण तक लम्बाई 826 कि. मी. व विस्तार उत्तर में कोणा गाँव (गंगानगर) से दक्षिण में बोरकुण्ड गाँव (कुशलगढ़, बांसवाड़ा) तक है।
पूर्व से पश्चिम तक चौड़ाई 869 कि. मी. व विस्तार पूर्व में सिलाना गाँव (राजाखेड़ा, धौलपुर) से पश्चिम में कटरा (फतेहगढ़,सम, जैसलमेर) तक है। कर्क रेखा राज्य में डूंगरपुर जिले की दक्षिणी सीमा से होती हुई बाँसवाड़ा जिले के लगभग मध्य से गुजरती हैं। बाँसवाड़ा शहर कर्क रेखा से राज्य का सर्वाधिक नजदीक स्थित शहर है


विस्तार-इसका क्षेत्रफल 342239 वर्ग किलोमीटर है। जो भारत के कुल क्षेत्रफल का 10.41% है। राजस्थान पूर्व में गंगा यमुना नदियों के दक्षिण में मालवा का पठार उत्तर पश्चिम में सतलज व्यास नदियों के मैदान द्वारा तथा पश्चिम में पाकिस्तान से घिरा हुआ है। जलवायु की दृष्टि से राज्य का अधिकांश भाग उपोष्ण या शीतोष्ण कटिबन्ध में स्थित है।
राजस्थान का भौगोलिक स्वरूप अत्यधिक जैव विविधता पूर्ण है। जहां एक ओर विशाल मरूभूमि है। तो वहीं दूसरी ओर पहाड़ी एवं मैदानी भाग है। इस भू भाग का भौतिक स्वरूप, भूगर्भिक इतिहास में होने वाली आंतरिक शक्तियों तथा जलवायु से नियंत्रित बाह्य शक्तियों के सम्मिलित प्रभाव से उत्पन्न क्रियाओं का परिणाम हैं। यह भूखण्ड विश्व के प्राचीनतम भूखण्डों (गोंडवाना लैण्ड) का अवशिष्ट भाग है। राज्य के मध्य में उतर पूर्व भाग से दक्षिण पश्चिम तक फैली अरावली पर्वतमाला इसे जलवायु की एवं भू-धरातल की दृष्टि से दो असमान भागो में विभाजित करती हैं।


आकृति-विषमकोणीय चतुर्भुज या पतंग के समान


स्थलीय सीमा-5920 कि.मी.(1070 अन्तराष्ट्रीय व 4850 अन्तराज्जीय)।


रेडक्लिफ रेखा-इसके संस्थापक सर सिरिल एम रेडक्लिफ को माना जाता है।यह रेखा भारत और पाकिस्तान के मध्य स्थित है। इसकी भारत के साथ कुल सीमा 3310 कि.मी. है।इसकी स्थापना 14/15 अगस्त, 1947 को की गयी।


रेडक्लिफ रेखा पर भारत के चार राज्य स्थित है।


गुजरात(512 कि.मी.)राजस्थान(1070 कि.मी.)
पंजाब(547 कि.मी.)जम्मू-कश्मीर(1216 कि.मी.)



महत्वपूर्ण तथ्य


रेडक्लिफ रेखा के सर्वाधिक नजदीक राजधानी मुख्यालय- श्री नगर



रेडक्लिफ रेखा के साथ सबसे कम सीमा- गुजरात(512 कि.मी.)



रेडक्लिफ रेखा के साथ सर्वाधिक सीमा- राजस्थान(1070 कि.मी.)



रेडक्लिफ रेखा के सर्वाधिक दुर राजधानी मुख्यालय- जयपुर


रेडक्लिफ रेखा पर क्षेत्र में सबसे छोटा राज्य- पंजाब



रेडक्लिफ रेखा पर क्षेत्र में बड़ा राज्य- राजस्थान



रेडक्लिफ रेखा के साथ राजस्थान की कुल सीमा 1070 कि.मी. है। जो राजस्थान के चार जिलों से लगती है।


जैसलमेर- 464 कि.मी.बाड़मेर- 228 कि.मी.श्री गंगानगर- 210 कि.मी.बीकानेर- 168 कि.मी.


रेडक्लिफ रेखा राज्य में उत्तर में गंगानगर के हिंदुमल कोट से लेकर दक्षिण में बाड़मेर के शाहगढ़ बाखासर गाँव तक विस्तृत है।


राजस्थान के साथ न्युनतम सीमा- खैरपुर



राजस्थान के साथ सर्वाधिक सीमा- बहावलपुर



पाकिस्तान के दो राज्य(प्रांत) राजस्थान से छुते हैं।



रेडक्लिफ रेखा पर पाकिस्तान के 9 जिले पंजाब प्रान्त का बहावलपुर, बहावलनगर व रहीमयार खान तथा सिंध प्रान्त के घोटकी, सुक्कुर, खेरपुर, संघर, उमरकोट व थारपाकर राजस्थान से सीमा बनाते हैं।


रेडक्लिफ रेखा एक कृत्रिम रेखा है।


रेडक्लिफ के सर्वाधिक दुर जिला मुख्यालय- बीकानेर


रेडक्लिफ के नजदीक जिला मुख्यालय- श्री गंगानगर


रेडक्लिफ रेखा पर क्षेत्रफल में छोटा जिला- श्री गंगानगर



रेडक्लिफ पर क्षेत्रफल में बड़ा जिला- जैसलमेर



राजस्थान से सर्वाधिक सीमा जैसलमेर(464 कि.मी.) व न्युनतम सीमा बीकानेर(168 कि.मी.) की रेडक्लिफ रेखा से लगती है।



राजस्थान के केवल अन्तराष्ट्रीय सीमा वाले जिले- 2(बीकानेर, जैसलमेर)


राजस्थान के केवल अन्तर्राज्जीय सीमा वाले जिले - 21


राजस्थान के अन्तर्राज्जीय सीमा वाले जिले - 23


राजस्थान के परिधिय जिले - 25


राजस्थान के 4 जिले ऐसे है जिनकी सीमा दो - दो राज्यों से लगती है-


धौलपुर:- उतरप्रदेश + मध्यप्रदेशबांसवाड़ा:- मध्यप्रेदश + गुजरात हनुमानगढ़:- पंजाब + हरियाणा भरतपुर:- हरियाणा + उतरप्रदेश


राजस्थान के 2 ऐसे जिले है जिनकी अन्तर्राज्जीय एवं अन्तराष्ट्रीय सीमा है- बाड़मेर(पाकिस्तान+ गुजरात)
गंगानगर(पाकिस्तान + पंजाब),


नोट-राजस्थान में कर्क रेखा बाॅंसवाडा जिले के कुषलगढ़ तहसील से होकर गुजरती है। अतः बांसवाडा जिले में सूर्य की किरणे सर्वाधिक सीधी पड़ती है। जबकी श्री गंगानगर जिला कर्क रेखा से सर्वाधिक दूरी पर स्थित है अतः श्री गंगानगर जिले में सूर्य की किरणे सर्वाधिक तिरछी पडती है।राज्स्थान में सबसे पहले सूर्य उदय धौलपुर जिले के सिलाना गाॅंव में होता है। राजस्थान में सबसे बाद में सूर्यउदय जैसलमेर जिले के कटरा गाॅंव में होता है और यही पर सबसे बाद में सूर्यस्त होता है।


कर्क रेखा


230 30' उतरी अक्षाश को कर्क रेखा कहते है। कर्क रेखा भारत के आठ राज्यों से होकर गुजरती है - 1. गुजरात 2. राजस्थान 3. मध्यप्रदेश 4. छत्तीसगढ़ 5. झारखण्ड 6. पश्चिम बंगाल 7. त्रिपुरा 8. मिजोरम


कर्क रेखा राजस्थान के डूंगरपूर जिले को स्पर्श करती हुई बांसवाड़ा के मध्य से होकर गुजरती है।


राजस्थान:-राजस्थान शब्द का प्रथम उल्लेख 7 वी. सदी के बसंन्तगढ़ के लेख में हुआ है। बसंन्तगढ़ लेख सिरोही राज्य में है।मारवाड इतिहास के लेखक मुहणौत नैणसी ने अपनी पुस्तक "नैणसी री ख्यात" में "राजस्थान" शब्द का प्रयोग किया। 19 वी. सदी में कर्नल जेम्स टाॅड ने अपनी पुस्तक "एनाॅल्स एंड एटीक्विटिज आॅफ राजस्थान" मेे राजस्थान शब्द का प्रयोग किया। इस पुस्तक का दूसरा नाम "सैण्ट्रल एंड वेस्टर्न स्टेट्स आॅफ इंडिया" है।कर्नल जेम्स टाॅड से पहले सन् 1800 ई.में "जार्ज थामस" ने राजस्थान के लिए "राजपुताना" की संज्ञा दी। इस बात का उल्लेख विलियम फ्रेंकलिन की पुस्तक "मिलिट्री मेमोयरी" में आता है।


"एनाॅल्स एंड एटीक्विटिज आॅफ राजस्थान" पुस्तक का पहली बार हिन्दी अनुवाद राजस्थान के प्रसिद्ध इतिहासकार गोरीशंकर- हीराचंद ओझा ने किया। इसे हिन्दी में "प्राचीन राजस्थान का विश्लेषण" कहते है।कर्नल जेम्स टाॅड 1818-1821 के मध्य मेवाड़ (उदयपुर) प्रांत में पोलिटिकल ऐजेन्ट थे। उन्होने अपने घोडे़ पर बैठकर घूम-घूम कर इतिहास लेखन किया अतः कर्नल जम्स डाॅड को "घोडे वाला बाबा" के नाम से भी जाना जाता है।


राजस्थान का सांस्कृतिक विभाजन
बागड़ - डुंगरपुर, बांसवाडा
हाडौती - कोटा , बूंदी, बांरा, झालावाड़
दुंढाड़ - जयपुर, दौसा, टोंक व अजमेर का भाग मेवात - अलवर, भरतपुर
मारवाड़ -जोधपुर, नागौर, पाली, बीकानेर, जैसलमेर, बाडमेर
शेखावाटी - चुरू, सीकर, झुन्झुनू
मेवाड़ - उदयपुर, राजसंमद, भीलवाडा, चितौड़गढ़, प्रतापगढ़


महत्वपूर्ण प्रश्न


1 राजस्‍थान में सर्वाधिक तहसीलोंकी संख्‍या किस जिले में है - जयपुर


2 राजस्‍‍थान के कौनसे भाग में सर्वाधिक वर्षा होती है - दक्षिणी-पूर्वी


3 राजस्‍थान में सर्वप्रथम सूर्योदय किस जिले में होता है - धौलपुर


4 राजस्‍थान में पूर्ण मरूस्‍थल वाले जिलें हैंा - जैसलमेर, बाडमेर


5 उङिया पठार किस जिले में स्थित है - सिरोही


6 जून माह में सूर्य किस जिले में लम्‍बत चमकता है - बॉसवाङा


7 राजस्‍थान में किन वनोंका अभाव है - शंकुधारी वन


8 राजस्‍थान के किसा क्षेत्र में सागौन के वन पाये जाते है - दक्षिणी
9 राजस्‍थान के क्षेत्रफल का कितना भू-भाग रेगिस्‍तानी है - लगभग दो-तिहाई


10 राजस्‍थान का सागवान कौनसा वक्ष कहलाता है - रोहिङा


11 राजस्‍थान के पश्चिम भाग में पाये जाने वाला सर्वाधिक विषैला सर्प - पीवणा सर्प


12 राजस्‍थान का सबसे पूर्वी जिला है - धौलपुर


13 राजस्‍थान के पूर्णतया वनस्‍पतिरहित क्षेत्र - समगॉव (जैसलमेर)


14 राज्‍य की कुल स्‍थलीय सीमा की लम्‍बाई है - 5920 किमी


15 राजस्‍थान के किस जिले में सूर्यकिरणों का तिरछापन सर्वाधिक होता है - श्रीगंगानगर


16 राजस्‍थान के किस जिले का क्षेत्रफल सबसे ज्‍यादा है - जैसलमेर


17 राजस्‍थान का क्षेतफल इजरायल से कितना गुना है - 17 गुना बङा है


18 राजस्‍थान की आकति है - विषमकोण चतुर्भुज


19 राजस्‍थान की 1070 किमी लम्‍बी पाकिस्‍तान से लगीसिमा रेखा का नाम - रेडक्लिफ रेखा


20 राजस्‍थान में किस शहर को सन सिटी के नाम से जाना जाता है - जोधपुर को


21 कर्क रेखा राजस्‍थान केकिस जिले से छूती हुई गुजरती है - डूंगरपुर व बॉसवाङा से होकर


22 राजस्‍थान में गुरू शिखर चोटी की उचाई कितनी है - 1722 मीटर


23 राजस्‍थान में जनसंख्‍या की द़ष्टि से सबसे बङा जिला - जयपुर


24 राजस्‍थान में मानसून वर्षा किस दिशा मे बढती है - दक्षिण पश्चिम से उत्‍तर पूर्व


25 थार के रेगिस्‍तान के कुल क्षेत्रफल का कितना प्रतिशत राजस्‍थान में है - 58 प्रतिशत


26 राजस्‍थान में छप्‍पनिया अकाल किस वर्ष पङा - 1956 वि स


27 राजस्‍थान के रेगिस्‍तान में रेत के विशाल लहरदार टीले को क्‍या कहते है - धोरे


28 महुआ के पेङ पाये जाते है - अदयपुर व चितैङगढ


29 राजस्‍थान का एकमात्र जीवाश्‍म पार्क स्थित है - आकलगॉव (जैसलमेर)


30 राजस्‍थान का प्रवेश द्वार किसे कहा जाता है - भरतपुर





Comments Ashish on 19-11-2018

भारत मे कर्क रेखा की सबसे कम लम्बाई किस राज्य की है



आप यहाँ पर लम्बाई gk, question answers, general knowledge, लम्बाई सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment