टोक्यो दर्शनीय स्थल

Tokyo Darshaniy Sthal

Gk Exams at  2020-10-15

GkExams on 10-12-2018

टोक्यो के पर्यटन स्थल निम्नलिखित हैं:

शाही महल

शाही महल जापान के राजा का आधिकारिक निवास है। इस महल में जापानी परंपराओं को देखा जा सकता है। महल में बहुत से सुरक्षा भवन और दरवाजें हैं। यहां की सबसे प्रसिद्ध जगहों में से कुछ हैं- ईस्ट गार्डन, प्लाजा और निजुबाशी पुल। यह महल सम्राट के जन्मदिन के दिन जनता के लिए खोला जाता है।

टोक्यो टावर

इस टावर का निर्माण 1958 में हुआ था। 333 मीटर ऊंचा यह टावर एफिल टावर से भी 13 मीटर ऊंचा है। यहां पर दो वेधशालाएं हैं जहाँ से टोक्यो का दृश्य देखा जा सकता है। साफ़ मौसम में यहां से माउंट फ़्यूजी भी दिखता है। मुख्य वेधशाला 150 मीटर ऊंची है और विशेष वेधशाला 250 मीटर ऊंची है। इस टावर के अंदर टोक्यो टावर मोम संग्रहालय, रहस्मय पैदल क्षेत्र और हस्तलाघव कला गलियारा भी है।

असाकुसा श्राइन

दंतकथाओं के अनुसार सैकड़ों वर्ष पहले हिरोकुमा बंधुओं के मछली पकड़ने के जाल में कैनन की प्रतिमा फंस गई। तब गांव के मुखिया ने वहां प्रतिमा की स्थापना की। इन तीन लोगों को समर्पित असाकुसा श्राइन की स्थापना 1649 में हुई थी। इसके बाद इस मंदिर का एक उपनाम संजा-समा पड़ा। यह टोक्यो का सबसे प्रमुख मंदिर है। मई के महीने में यहां संजा उत्सव भी मनाया जाता है।

मीजी जिंगू श्राइन

यह मंदिर शिंतो वास्तुकला का उत्तम नमूना है। इसका निर्माण 1920 में यहां के शासक मीजी (1912) की स्मृति में किया गया था। 72 हैक्टेयर में फैले पेड़ों और मीजी जिंगू पार्क की जापानी वनस्पतियों से घिरा यह स्थान जापानी की सबसे सुन्दर और पवित्र जगहों में से एक है।

अमेयोको

अमेयोको में जूतों से लेकर कपड़ों तक, हर प्रकार की उपभोक्ता वस्तु खरीदी जा सकती हैं। बालों पर लगाने वाली क्रीम हो या छतरी यहां सब कुछ मिलता है। यह बाजार उएनो स्टेशन के पास है इसलिए यहां आने वाले लोग इस बाजार में आना पसंद करते हैं। यदि आप जापान के कामकाजी लोगों को निकट से देखना चाहते हैं और अद्भुत चीजें कम दाम पर खरीदना चाहते हैं तो यह जगह बिल्कुल उपयुक्त है।

इन्द्रधनुषी पुल

इस अनोखे नाम का कारण इस पुल पर रात को जलने वाली रंगबिरंगी रोशनी हैं। यह पुल मिनटोकु और ओडैबा को जोड़ता है। यहां पर आठ यातायात लेन और दो रेलमारग हैं। पैदल चलने वालों के लिए भी रास्ता है। यह पुल 1993 में चालू किया गया था। इस पुल की सुन्दरता को देखने का एक अन्य उपाय है मोनोरल, जो शिम्बाशी से चलती है। इसके अतिरिक्त हिनोक पीयर से असाकुसा के बीच क्रूज से यात्रा करके इसकी सुन्दरता को निहारा जा सकता है।


समय: सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक, अप्रैल से अक्टूबर: सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक


महीने के तीसर सोमवार और राष्ट्रीय अवकाश के दिन बंद

तोशोगु मंदिर

इस मंदिर का मुख्य आकर्षण पत्थर की बनी 50 विशाल लालटेन हैं। इनमें से कई सामंती दासों द्वारा दान की गई थीं। यहां का मुख्य भवन जिसका निर्माण 1651 में हुआ था, सोने से बनी थी। इसे बनाने का श्रेय तीसर शोगुम इमीत्सु तोकुगावा को जाता है। यह मंदिर जापान की राष्ट्रीय संपदा का भाग है।

सूमो संग्रहालय

सूमो रसलिंग जापान का सबसे प्रसिद्ध खेल है। इस संग्रहालय में समारोह के दौरान पहले जाने वाले कपड़ों, सूमो वस्त्रों, रैफरी के पैडलों को प्रदर्शित किया गया है और प्रसिद्ध रसलरों के बार में बताया गया है। यह संग्रहालय नेशनल सूमो स्टेडियम के साथ बना है।

गिंजा

गिंजा जापान का और कदाचित एशिया का सबसे अच्छा और भव्य शॉपिंग एरिया है। दुनिया भर के प्रसिद्ध ब्रैण्ड स्टोर यहां मिल जाएंगे। मित्सुकोशी, मत्सुया और मत्सुजकाया डिपार्टमेंटल स्टोर यहां हैं, साथ ही यामहा म्यूजिक शॉप और सबसे मशहूर कॉस्मेटिक्स शीसेडो भी यहां हैं। गिंजा कार्यालय में काम करने वालों से लेकर विद्यार्थियों तक को पसंद आता है। यहां पर मदिरा, पानी और खाना खाने की कई जगहें मिल जाएंगी। इनमें साधारण और महंगी दोनों तरह के स्थान सम्मिलित हैं।

नेशनल म्यूजियम ऑफ वेस्टर्न आर्ट

यह संग्रहालय पर्यटकों के बीच बहुत की प्रसिद्ध है क्योंकि यहां सुदूर पूर्व में पश्चिमी कला का आधुनिकतम संग्रह है। इस संग्रह के पीछे का इतिहास बहुत रोचक है। सैन फ़्रांसिस्को शांति समक्षौते में कहा गया कि कोजिरो मत्सुकाता संग्रह जो द्वितीय विश्वयुद्ध के समय फ़्रांस के पास चला गया था, अब फ्रांस की संपत्ति होगा। बाद में फ्रांस सरकार ने यह संग्रह जापान को वापस कर दिया। यह संग्रहालय 1959 में खुला था।


कुल मिलाकर देखें तो यह शहर आधुनिकता और परंपराओ का एक अनुपम उदाहरण है। अत्याधुनिक महानगर होते हुए भी इसने अपनी परंपराओं को छोड़ा नहीं है। यहां आपको जापान की उन्नति दिखाई देगी, तो साथ ही इसकी संस्कृति भी।





Comments

आप यहाँ पर टोक्यो gk, question answers, general knowledge, टोक्यो सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment