दुश्मन को पागल करने का मंत्र

Dushman Ko Pagal Karne Ka Mantra

Pradeep Chawla on 11-10-2018


ओम उल्लूकाना विद्वेषय फट” .. इस मंत्र का जाप 1000 दफा करें उल्लू के पंख को सामने रखकर | अब इस पंख को आप अपने शत्रु के घर पर फेंक दें वहां पर विद्वेषण हो जाएगा |



2) “नृसिंहाय वीद्यहे, बज्र नखाय धि मही तान्नो नृसहीं प्रचोदयात |” यह मंत्र जपे प्रतिदिन सूर्योदय के पूर्व | इसका प्रभाव आपके शत्रु को कभी भी षड्यंत्र नहीं करने देगा आपके विरुद्ध |



3) मां काली की आराधना करें | यह आप रविवार को पड़ने वाली अमावस्या के दिन करें | इसके लिए सबसे पहले एक काले कपड़े के ऊपर मां की मूर्ति को विराजें | ध्यान रहे मूर्ति का चेहरा उत्तर दिशा की ओर रहे | अब आप साधारण विधि से मां की पूजा करें | पूजा पूरी हो जाने पर अपने दुश्मन के नाम को लिखे एक नींबू पर और साथ ही साथ मां से शत्रु -मुक्ति के लिए प्रार्थना करें | अब रुद्राक्ष/ मूंगे / काले हकीक की माला से नीचे दिए गए मंत्र का जाप करें | जाप-माला की संख्या होनी चाहिए 11 माला | हर एक माला जाप संपन्न होने पर काली मां के सामने रखे हुए निंबू पर दाल चढ़ाएं उड़द की | जाप संख्या पूरी हो जाने के बाद इस नींबू को किसी मिट्टी की हंडिया में डाल दे और काला कपड़ा (जिसमें मां काली को विराजमान किया गया था) से बांध दे मटकी का मुहँ | अब इसे गाड़ दें किसी सुने स्थान पर | शत्रु शमन के इस टोटके के बाद शत्रु अपनी शत्रुता भूल जाएगा | मंत्र है–”क्री क्रीं शत्रु नाशिनी क्री क्रीं फट “



4) जिन दो व्यक्तियों का आपस में संबंध विच्छेद करना हो उन दोनों की फोटो या पहने हुए कपड़े के टुकड़े या दो छोटे पत्थर ले लें | अब बुधवार की मध्यरात्रि में इन्हें अपने सामने किसी पात्र में रखे और उनपर काजल से नाम लिखें उन व्यक्तियों का अलग अलग | अब नीचे दिए गए शाबर मंत्र का जाप करें 21 माला का काले हकीक /गधे के दांतो की माला से | आसन का रंग काला रखें और जाप लगातार तीन दिन तक करें | जाप समाप्त होने के पश्चात चौथे दिन माला, कपड़ा / फोटो / पत्थर को विसर्जित कर दे पानी में | लेकिन, ध्यान रहे दोनों व्यक्तियों की यह समान एक दूसरे के विपरीत दिशा की ओर विसर्जित करें | मंत्र हैं –”ओम् खं फलाने (नाम) को फलाने (नाम) से विद्वषय विद्वषय मारजटा आदिपुरुषाय हूं “







शत्रु विद्वेषण उच्चाटन प्रयोग/टोटके



1) आपका शत्रु आपको बहुत परेशान कर रहा है तथा आप उस परेशानी को शांत करना चाहते हैं आप उड़द की काली दाल के 38 दाने और चावल के 40 दाने मिला लें | अब इसे किसी गढ्ढ़े में डाल दें | ऊपर से निंबू का रस निचोड़ दें | रस निचोड़ते वक्त अपने शत्रु के नाम का उच्चारण करते रहे लगातार | शत्रु को हराने के बेहतरीन टोटके में यह एक बेहतरीन टोटका है | इससे आपका शत्रु कुछ भी अहित नहीं कर पाएगा आपका और शांत होकर बैठ जाएगा |



2) बेवजह परेशान कर रहे शत्रुओं को शांत करने के लिए आप एक भोजपत्र ले



लें | अब इसके ऊपर अपने शत्रु के नाम को अंकित करें लाल रंग के चंदन से | फिर इसे शहद एक छोटी बोतल में भिगोकर रख दे | कुछ ही दिनों में प्रभाव पता चल जाएगा |



3) शनिवार या मंगलवार के दिन हनुमान जी के मस्तक से सिंदूर लेकर मोरपंख के ऊपर नाम लिखिए अपने शत्रु का | अब इस पंख को अपने घर के पूजा स्थान पर रखें और दूसरे दिन सुबह स्नान किए बिना इसे बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें |



4) वन टू अपना एक फटा हुआ पुराना जूता अपने घर के किसी कोने पर लटका



दें | उसके तलवे में नाम लिखे अपने शत्रु का | उसका दमन निश्चित है |



5) 5 गोमती चक्र लेकर आएं | अब इसे शुक्ल पक्ष में पड़ने वाले बुधवार के दिन अपने सर के ऊपर से घूमाएं और बाहर फेंक दें |



6) एक अंडा ले | उस पर अपने दुश्मन का नाम लिखें | फिर इस अंडे को किसी दीवार पर बड़ी जोर से मार कर तोड़ दे | अंडे को दीवार पर मरते वक्त यह कहे कि अमुक के सारे रास्ते बंद रहे इस बंद दीवार की तरह और वह भी फूटे अंडे की तरह |







दुश्मन को वश में करने का मंत्र/ उपाय



1) लाल चंदन, छोटी इलायची, सिंदूर, काकड़ सिंगी और कंगनी को मिलाकर धूप बनाए | इस धूप को रोज सुबह-शाम घर में जलाएं अपने दुश्मन का नाम लेते हुए | कुछ ही दिनों में वह आपके वश में होने लगेगा |



2) वन टू आप अपने गले में वैजंती माला को धारण करें | इससे आपका शत्रु आपके वशीभूत हो जाएगा |



3) “ओम् क्षौं क्षौं भैरवाय स्वाहा” इस मंत्र का जाप करते करते एक छोटे से कागज के टुकड़े पर अपने शत्रु के नाम को अंकित करें | अब इस कागज के टुकड़े को डूबों दे शहद की शीशी में | शीशी के ढ़क्कन को बंद कर दें | आपका शत्रु शांति धारण कर लेगा |



Comments A k on 21-05-2021

Kya ye sahi he

राजेश on 27-03-2021

दुशमन को पागल करने का उपाए

Pinki on 06-02-2021

Muje ek ldka bhot preshan krta h uski sadi hogyi h m usse bat nhi krna chahti ab vo phir bhi preshan krta h to kya upay kru jo jldi se muje bhuljaye

Raman on 07-08-2020

Pariwar k log h paresan kr rhe h please upay btaye

Rj on 17-11-2019

Sir me apne dushman se bhot pareshan hu. Wo janbujhkr Mujhe tang krti rehti hai please jald se koi upaay batay

neeta on 12-08-2018

mer uncle aunty baut parsan kartai hai mer pur parivar ko unk bachai bi plz upay btay




Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment