बुलेट प्रूफ जैकेट

Bulet Proof जैकेट

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz

GkExams on 26-12-2018


हाइड्रोजन बम, परमाणु बम से अधिक खतरनाक क्यों है
बुलेटप्रूफ जैकेट कैसे काम करती है?
जब कोई गोली बुलेटप्रूफ जैकेट से टकराती है तो सबसे पहले वह सेरैमिक लेयर से टकराती है. बेहद मजबूत सेरैमिक लेयर से टकराते ही गोली का आगे का नुकीला सिरा टुकड़ों में टूट जाता है और गोली छोटे कणों के रूप में जैकेट पर फ़ैल जाती है. इस कारण गोली का फोर्स कम हो जाता है और उसकी भेदन क्षमता कम हो जाती है और गोली लगने वाले व्यक्ति को कम नुकसान होता है. इसके बाद का काम बैलिस्टिक पर्त करती है. गोली के सेरैमिक लेयर से टकराकर टूटने के बाद बड़ी मात्रा में जो ऊर्जा निकलती है, उसे बैलिस्टिक पर्त सोख लेती है. इसके चलते बुलेटप्रूफ पहने सैनिक को कम से कम नुकसान होता है और वह सुरक्षित बच जाता है.


(बुलेटप्रूफ जैकेट गोली से इस प्रकार बचाव करती है)



Image source:Bullet Blocker
बुलेटप्रूफ जैकेट के कितने प्रकार होते हैं


केवलर एक कॉमन मैटेरियल है, जिसका इस्तेहमाल बुलेट प्रूफ जैकेट बनाने में किया जाता है. इस मैटेरियल से बनी जैकेट और हेल्मेट को केवलर जैकेट या हेल्मेट कहा जाता है. इसके अलावा वेकट्रैन नाम के मैटेरियल की सहयता से भी बुलेटप्रूफ जैकेट तैयार किये जाते हैं. इससे बनने वाले जैकेट और हेल्मेट को वेकट्रैन जैकेट या वेकट्रैन हेल्मेट के नाम से जाना जाता है. वेकट्रैन जैकेट केवलर से मजबूत मानी जाती है क्योंकि यह स्टील से भी 10 गुना ज्यादा मजबूत मानी जाती है.


bullet proof vests


Image source:WorkingPerson.me
कितनी कीमत की होती है एक जैकेट
इस जैकेट की कीमत इसमें इस्तेमाल किये जाने वाले मटेरियल के आधार पर तय होती है. वेकट्रैन से बनने वाली जैकेट की कीमत केवलर जैकेट से अधिक होती है. सामान्यी तौर पर एक जैकेट की कीमत 40000 रुपए से शुरू होकर 2 लाख रुपये तक होती है. इस जैकेट का वजन 8 किलो के आसपास होता है. हालाँकि कानपुर स्थित आर्डिनेंस फैक्ट्री में इससे कम वजन की जैकेट को बनाने का काम जारी है. इन जैकेट्स की एक विशेषता यह भी है कि इनको जरूरत के अनुसार अलग-अलग हिस्सों में बांटा जा सकता है जैसे केवल गश्त ड्यूटी में इसके पीछे वाले हिस्से को हटाया जा सकता है और केवल अगले हिस्से को ही पहना जा सकता है. इसी तरह इसके साथ हेल्मेट, गर्दन, कोहनी और कमर के टुकड़ों को अलग किया जा सकता है. इनमें विशेष किस्म की नवीनतम सामग्री लगाई गई है.
भारत में बनने वाली सॉलिड बुलेटप्रूफ जैकेट 100 से ज्या्दा देशों की सेनाओं द्वारा इस्तेमाल की जा रही हैं जिनमे कुछ बड़े नाम हैं: ब्रिटेन, जर्मनी, स्पे‍न और फ्रांस आदि. भारत में दिल्ली से सटा हुआ फरीदाबाद क्षेत्र इस दिशा में बहुत ही तरक्की कर रहा है औत यहाँ पर बड़ी मात्रा में बुलेटप्रूफ जैकेटों का उत्पादन किया जा रहा है.



Comments Ashoo maurya on 16-01-2020

Which type of glass is used for making bullet proof material

Ravindra chaudhary on 07-10-2018

Bullet proof jacket kavaskar Kis Desh Mein Kya Kisne Kiya Kiya



आप यहाँ पर बुलेट gk, प्रूफ question answers, जैकेट general knowledge, बुलेट सामान्य ज्ञान, प्रूफ questions in hindi, जैकेट notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 158
Labels: , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment