फ़ से शुरू होने वाले शब्द

फ़ Se Shuru Hone Wale Shabd

Pradeep Chawla on 12-05-2019

फकीर पुंलिंग पुंलिंग - - - भिखमंगा, भिखारी संत, साधु, महात्मा। - - -

फटकना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - - सूप आदि के द्वारा अन्न साफ करना कपड़े को इस प्रकार झाड़ना कि उसमें से लगी हुई धूल या सिलवटें निकल जाएँ। - - -

फड़कना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - शरीर के किसी अंग में स्फुरण होना। कोई बहुत बढ़िया या विलक्षण चीज देखकर मन में उक्त प्रकार का स्फुरण होना जो उस चीज के विशेष प्रशंसक होने का सूचक होता है। पक्षियों के पर हिलना, फड़फड़ाना। - -

फबना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - - किसी वस्तु या व्यक्ति का शोभन तथा सुंदर लगना बात आदि का ठीक मौके पर उपयुक्त लगना। - - -

फर्क पुंलिंग पुंलिंग पुंलिंग - - दो विभिन्न वस्तुओं, व्यक्तियों आदि में होने वाली विषमता, भिन्नता हिसाब-किताब आदि में भूल-त्रुटि आदि के कारण पड़ने वाला अंतर भेद-भाव, दुराव। - -

फल पुंलिंग पुंलिंग - - - पेड़ का फल किसी प्रकार की क्रिया, घटना, प्रयत्न आदि के परिणाम के रूप में होने वाली बात। - - -

फलना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - वृक्ष का फलों से युक्त होना किसी काम या बात का शुभ परिणाम प्रकट होना सुख-समृद्धि का कारण बनना। - -

फसल स्त्रीलिंग - - - - खेत मेंबोये हुए अनाजों आदि की पैदावार (क्रॉप/हार्वेस्ट)। - - - -

फब्बारा पुंलिंग - - - - एक विशिष्ट प्रकार का उपकरण जिससे पानी या किसी तरल पदार्थ की बूंदें निरन्तर गिरती हैं, फुहारा (फाउन्टेन)। - - - -

फहराना अकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - - खुले या फैले हुए वस्त्रों या झंडे का हवा में उड़ना (हाइस्ट)। कोई चीज इस प्रकार खुली छोड़ देना जिससे वह हवा में हिले और उड़े। - - -

फांसना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - - फंदे में किसी पशु-पक्षी को फंसाना छल, ठगी, युक्ति आदि से किसी व्यक्ति को अपने लाभ के लिए फंसाना। - - -

फांसी स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - प्राणदंड रस्सी का वह फंदा जिसे लोग गले में फंसाकर आत्महत्या के लिए झूल या लटक जाते हैं। - - -

फाटक पुंलिंग - - - - मुख्य द्वार पर लगा हुआ बड़ा दरवाजा (मेन गेट)। - - - -

फाड़ना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - कागज, कपड़े आदि को बलपूर्वक खींचकर टुकड़े-टुकड़े कर देना किसी वस्तु का मुंह साधारण से अधिक और दूर तक फैलाना या बढ़ाना किसी गाढ़े द्रव पदार्थ के संबंध में ऐसी क्रिया करना कि उसका जलीय अंश तथा ठोस अंश अलग हो जाए। - -

फालतू विशेषण विशेषण - - - जो किसी उपयोग में न आ रहा हो आवश्यकता से अधिक बेकार। - - -

फिर क्रिया विशेषण क्रिया विशेषण क्रिया विशेषण - - दोबारा या पुन: पीछे, अनंतर, उपरान्त, बाद तब। - -

फीका विशेषण विशेषण विशेषण - - स्वादहीन (पदार्थ) जो यथेष्ट चमकीला या तेज न हो, (रंग) जिसमें आनन्द की प्राप्ति न हुई हो, नीरस (खेल) तमाशा आदि। - -

फीता पुंलिंग पुंलिंग - - - सूत आदि की बनी हुई कम चौड़ी और लम्बी पट्टी (लेस) वह पट्टी जिस पर इंचों आदि के निशान बने होते हैं और जो लंबाई, चौड़ाई आदि नापने के काम आती है (टेप)। - - -

फीस स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - विशिष्ट कार्यों के बदले दिया गया धन वह धन जो विद्यार्थी की शिक्षा के लिए मासिक रूप में देना पड़ता है, शुल्क। - - -

फुंकार स्त्रीलिंग - - - - वह शब्द जो कुछ जंतुओ के वेगपूर्वक सांस बाहर निकालते समय होता है फूत्कार, फुफ़कार। - - - -

फुटकर विशेषण विशेषण - - - भिन्न या अनेक प्रकार का जो इकट्ठा या एक साथ नहीं बल्कि अलग-अलग या खंडों में आता या रहता हो, थोक का विपर्याय (रिटेल)। - - -

फुदकना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - - थोड़ी-थोड़ी दूरी पर उछलते हुए आते-जाते रहना उमंग में आकर अथवा प्रसन्नता-पूर्वक उछलते हुए इधर-उधर आना-जाना। - - -

फुलझड़ी स्त्रीलिंग - - - - छोटी, पतली डंडी की तरह की आतिशबाजी जिसमें से फूल की सी चिनगारियाँ निकली हैं। - - - -

फूलवारी स्त्रीलिंग - - - - फूलों से भरा छोटा उद्यान या बगीचा। - - - -

फुसफुसाना सकारात्मक क्रिया - - - - बहुत ही धीमे स्वर में कुछ बोलना। - - - -

फुहार स्त्रीलिंग - - - - ऊपर से गिरने वाली पानी की या किसी तरल पदार्थ की छोटी-छोटी बूँदे। - - - -

फुहारा पुंलिंग पुंलिंग - - - ज़मीन से फूट पड़ने वाली तेज धार (स्प्रिंग) एक विशिष्ट प्रकार का उपकरण जिससे पानीया किसी तरल पदार्थ की बूंदे निरन्तर गिरती हैं, फव्वारा (फाउन्टेन)। - - -

फूंकना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - मुँह का विवर समेटकर वेग के साथ हवा छोड़ना आग लगाना, जलाना या सुलगाना बुरी तरह से नष्ट या बरबाद करना। - -

फूट स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - आपसी अनबन या बिगाड़ एक प्रकार की बड़ी ककड़ी जो पकने पर प्राय: खेतों में ही फट जाती है। - - -

फूल पुंलिंग पुंलिंग - - - पुष्प, कुसुम शव के जल जाने के बाद बची हुई हड्डियाँ। - - -

फूलदान पुंलिंग - - - - फूल सजाने के लिए मिट्टी, धातु, शीशे आदि का बना पात्र, गुलदान। - - - -

फूलना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - फूलों से युक्त होना उमंग से भर जाना, बहुत प्रसन्न होना बहुत अधिक उभर जाना या ऊंचा होना, सूजना। - -

फेंकना सकारात्मक क्रिया - - - - हाथ से किसी चीज को ऊंचा उछाल कर गिरा देना। - - - -

फेन पुंलिंग - - - - बुलबुलों का समूह, झाग। - - - -

फेरा पुंलिंग पुंलिंग पुंलिंग - - किसी चीज के चारों ओर घूमने की क्रिया या भाव विवाह के समय वर-बधू द्वारा की जाने वाली अग्नि की परिक्रमा बार-बार कहीं आने-जाने की क्रिया या भाव। - -

फैलना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - - किसी चीज का विस्तार होना किसी बात आदि का व्यापक क्षेत्र में चर्चा का विषय बनना। - - -

फोड़ना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - शीशा, चीनी, या मिट्टी आदि की कोई वस्तु खंड-खंड करना या तोड़ना किसी खोखली या वायु-भरी वस्तु को आघात या दबाव द्वारा तोड़ना किसी दल या पक्ष के व्यक्ति को प्रलोभन देकर अपनी ओर मिलाना। - -



Comments Riya on 12-05-2019

फ् से shuru hone wale shabd

Priya on 12-05-2019

ज़ suru hone vale shabd

Priya on 12-05-2019

Nukkta ki paribhasha

संसकृति बरनवाल on 16-12-2018

जियpgtdiaeutwwthf



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment