सामाजिक अनुसंधान के उद्देश्य

Samajik Anusandhan Ke Uddeshya

Gk Exams at  2018-03-25

Pradeep Chawla on 12-05-2019

नुसंधान का वर्गीकरण, उसकी प्रेरणा और उद्देश्य के आधार पर, किया जा सकता है। उपयोगिता और नीतिनिर्माण से रहित, वैज्ञानिक तटस्थता के साथ, किसी प्राक्कल्पना का समर्थन करना बुनियादी अनुसंधान (Fundamental Research) है परंतु उसका व्यावहारिक उपयोग दो तरह से किया जाता है-

परिचालन अनुसंधान (Operational Research)



प्रशासनिक समस्याओं के संबंध में होनेवाला अनुसंधान है। इसमें गणित और सांख्यकीय विधियों का प्रयोग संभावनासिद्धांत, (Probability Theory) के आधार पर किया जाता है। आँकड़ों का चयन, विश्लेषण, आमूर्तीकरण, भविष्यवाणी, सिद्धांत, निर्माण आदि इस अनुसंधान की प्रक्रिया होता हैं।

क्रियात्मक अनुसंधान (Action Research)

किसी समुदाय की विशेषताओं को ध्यान में रखकर, नियोजित प्रयास, जो सामुदायिक जीवन के अनेक पहलुओं को प्रभावित करते हैं और सामाजिक प्रयोजनों की पूर्ति के लिये किए जाते हैं, इस अनुसंधान के अंतर्गत आते हैं, जैसे आवास, खेती, सफाई, मनोरंजन से संबंधित कार्यक्रम। समुदाय के सदस्यों का सहयोग, आर्थिक स्थिति, संगठित विरोध आदि विशेषताओं का मूल्यांकन (Factor Analysis) करके कार्यक्रम को सफल बनाने का प्रयत्न किया जाता है। यह अनुसंधान भारत में चलनेवाले नियोजन का एक मुख्य उपकरण है।



Comments

आप यहाँ पर सामाजिक gk, अनुसंधान question answers, general knowledge, सामाजिक सामान्य ज्ञान, अनुसंधान questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Total views 573
Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।
आपका कमेंट बहुत ही छोटा है
Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment