ज़रीब एवं फीता सर्वेक्षण

ज़रीब Aivam Feeta Sarvekshann

GkExams on 12-05-2019

ज़रीब एवं फीता सर्वेक्षण में केवल रैखिय मापों के आधार पर किसी भू-भाग का मानचित्र या प्लान बनाया जाता हैं। इस विधी से सर्वेक्षण करते समय किसी क्षेत्र में विभिन्न बिन्दुओं के बीच की क्षेतिज दूरियां तो मापी जाती है, किन्तु रेखाओं के बीच मध्य बनने वाले कोण का अंशों मे मान ज्ञात करने की आवश्यकता नही होती।


जरीब - लम्बाई नापने की एक इकाई है, साथ ही जिस जंजीर से यह दूरी नापी जाती है उसे भी जरीब कहते हैं। एक जरीब की मानक लम्बाई 66 फीट अथवा 22 गज अथवा 4 लट्ठे (Rods) होती है। जरीब में कुल 100 कड़ियाँ होती हैं, इस प्रकार प्रत्येक कड़ी की लम्बाई 0.6 फ़ुट या 7.92 इंच होती है।


10 जरीब की दूरी 1 फर्लांग के बराबर और 80 जरीब की दूरी 1 मील के बराबर होती है।




मापक फीता (tape measure या measuring tape) एक प्रकार का लचीला रेखनी (रूलर) है जो कपड़ा, प्लास्टिक, फाइबर ग्लास, या किसी धातु की पतली पट्टी से बना होता है। इससे हम मिलीमीटर, सेन्टीमीटर, मीटर, इंच, फुट आदि में दूरियाँ बड़ी आसानी से माप कर सकते हैं। आजकल यह छोटी या बडी दूरी मापने का एक सामान्य (आम) औजार है। इसकी लम्बाई सामान्यतः 1 मीटर से लेकर 20 मीटर तक होती है।


GkExams on 12-05-2019

ज़रीब एवं फीता सर्वेक्षण में केवल रैखिय मापों के आधार पर किसी भू-भाग का मानचित्र या प्लान बनाया जाता हैं। इस विधी से सर्वेक्षण करते समय किसी क्षेत्र में विभिन्न बिन्दुओं के बीच की क्षेतिज दूरियां तो मापी जाती है, किन्तु रेखाओं के बीच मध्य बनने वाले कोण का अंशों मे मान ज्ञात करने की आवश्यकता नही होती।



Comments Savita sahu on 21-06-2021

जरीब एवं फीता सर्वेक्षण मे उपयोगी यंत्रों का वर्णन



आप यहाँ पर ज़रीब gk, फीता question answers, सर्वेक्षण general knowledge, ज़रीब सामान्य ज्ञान, फीता questions in hindi, सर्वेक्षण notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment