आक के पते से क्या शुगर और मोटापा कम होता है

Aak Ke Patte Se Kya Sugar Aur मोटापा Kam Hota Hai

Gk Exams at  2020-10-15

GkExams on 20-11-2018


हमारे आस-पास कुछ ऐसे पेड़ पौधे होते है जिनके बारे में हम अनजान रहते है और कुछ ऐसे पौधे होते है जो जहरीले होने के साथ हमारे शरीर को अमृतीय गुण प्रदान करते है. पर इसके बारे में अनजान होने के कारण हम इन पौधों से दूर रहते है. इसी प्रकार से शिवलिंग में चढ़ाया जाने वाला आक का फूल है, श्रृद्धालुओं की सभी मनोकामनाएं तो पूर्ण करता ही है इसके कुछ चमत्कारी लाभ भी हमारे शरीर में अपना विशेष असर डालते है.


आक का पौधा जिसे हम मंदार,आक या पारद अकौआ के नाम से जानते है यह विषैला होता है. यह पौधा छोटा और छत्तेदार होता है. इसमें सफेद या बैगनी रंग के फूल पाए जाते है जो शंकर जी को चढ़ाये जाते है.मदार का फूल आपकी सेहत के लिए भी बहुत लाभदायक होता है. आइये जानते हैं मदार के फायदों के बारे में.


मदार के पौधे के स्वास्थवर्धक फायदे



अगर किसी को चलती गाड़ी में उलटी आती है तो पैर के नीचे आक के पत्ते को रख लें. इससे यात्रा में कोई दिक्कत नहीं होगी.इस विषैली पौधे का उपयोग शुगर के लेवल को कम करने में किया जा सकता है. बताया जाता है कि इससे निकलने वाले दूध को यदि झड़ते बालों में लगाया जाए तो उस स्थान पर बाल आ जाते है.


कान का दर्द


अगर कान में दर्द हो रहा है तो आक के पीले पड़े पत्तों को घी में गर्मकर उसका रस कान में डाल लें.


दांत का दर्द


रुई को आक के दूध और थोड़े से घी में भिगोकर दांत में रखने से दर्द ठीक हो जाता है.


पीलिया ठीक


आक की कोंपल सुबह खाली पेट पान के पत्ते में रख चबाकर खाने से 3-5 दिन में पीलिया ठीक हो जाता है.


दाद में लाभ



आक केदूध में सामान मात्रा में शहद मिलाकर लगाने से दाद में लाभ मिलता है. आक के फूल के दूध को नारियल तेल में मिलाकर लगाने से खाज दूर होती है.


बवासीर दूर करने


आक के पांच कोमल पत्तों पर नमक और तेललगाकर आग में जला दें. इन की राख को निकालकर रख लें. और रोजाना 2 चुटकी खाने से 15 दिन के बाद बवासीर ठीक हो जाती है .


नाखून का रोग


यदि आपके नाखूनों में किसी भी तरह का संक्रमण हो जाए तो आप मदार के पौघे की जड़ को पानी के साथ अच्छी तरह घिसकर नाखून के उपर लगा दें.


कांटा या कांच घुसना


यदि शरीर के किसी अंग में कांच या कांटा घुस गया हो तो आप मदार के पौधे से निकलने वाले सफेद रंग के दूध को उस जगह पर लगा लें. कांच व कांटा पक करके अपने आप ही बाहर निकल जाएगा.


खांसी में


खांसी यदि ठीक नहीं हो रही हो तो मदार की जड़ को अच्छी तरह से पीस लें और उसमें थाड़ी सी काली मिर्च का पाउडर मिला लें. एक छोटी गोली बनाकर इसका सेवन सुबह व शाम दोनों समय पानी के साथ करें.


फोडे पर मदार का असर


फोडा ठीक ना हो रहा हो तो आप मदार की जड़ को अच्छी तरह से पीस लें और उसका लेप फोडे पर लगाएं. इस उपाय से फोडा जल्दी ठीक हो जाता है.


उंगलियों का संक्रमण


मदार के पौधे से निकलने वाले दूध को अंगलियों पर लगाने से उंगलियों का संक्रमण दूर हो जाता है.



Comments Amar on 14-02-2019

Agar aak ke dhud se gangapan theek hota hai to india me itne gange kyo hai bhai



आप यहाँ पर आक gk, पते question answers, शुगर general knowledge, मोटापा सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment