उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता - 2006 धारा 34

Uttar Pradesh Rajaswa Sanhita - 2006 Dhara 34

Gk Exams at  2018-03-25


Go To Quiz


Comments S. R. Yadav on 04-12-2019

Varasat ke adesh me naam galat likha ho to sahi karane ke lie kis dhara me application dia jayega aur kya processes hai batae

नंदराम on 19-11-2019

Hmare tau ne mujhe jameen ki rajistry dan patrme kra de aur bad me unhone dakhil kharij par apti lga de kya results rhega

राम विलास on 12-05-2019

उ,प,रा,स,2006 धारा 34.110क,108,107.112.की जानकारी

बृजपाल on 12-05-2019

सन 1968 के बनाने का दाखिला खारिज होकर बारिशों के नाम Chandni है इसमें रेवेन्यू एक्ट 2006 के अनुसार क्या-क्या समस्याएं आ सकती हैं संबंधित धारा की रूलिंग भी बता


डां भूपेंद्र प्रसाद on 12-05-2019

धारा 34 की जानकारी दिजिये

काली दास आगरा on 12-05-2019

अधिनियम एवं धारा उत्तर प्रदेश संहिता 34/2006 की जानकारी दी जाये


javed Ali saurikh on 12-05-2019

86 dhismil rakwa hai intkhab me , mauke par 120 dhismil hai lagbhag jab paymais karao to bo biyakti kahne lagta hai ki mera chak aaut me hai, iska matlab kya hua, or 86 dhismal she upar ka rakwa kayse chudaya jaye, kiu ki rasta bhi sab gher rakha hai us insan ne ?

राजन on 12-05-2019

122b 4f के स्थान पर राजस्व संहिता की धारा

Radha Krishna Agarwal on 12-05-2019

explain the definition of section 34

फूलसिंह on 12-05-2019

Meri jameen Avadh roop se dusre ke Naam chadi hai kya Voh cancel ho jayegi

Pankaj k on 12-05-2019

Mere bhumi banana dvara dusre ke naam ho gaye hai kya uska naam hataya ja sakta hai

Mahesh chandr on 20-04-2019

My name mahesh chandra hy i varasat karai but no daakhil nahy huwa 3year


Mahesh chandr on 20-04-2019

My name mahesh chandra hy i varasat karai but no daakhil nahy huwa 3year

SK YADAV on 25-02-2019

MAY TEEN BHAI HI MERE PITA KI VIRASAT HUM TEENO KE NAME HO GAYI HI BUT DO KHATO MAY NAME DO BHAI KE SAHI HI MERE NAME KI JAGH DUSRE BHAI KA DUSRA NAME AA RHA HI

Rahul Sharma on 12-01-2019

Utterpardesh 134 rajasv shita 2006 ke bare me janna Hai ye kya Hai puri jankari DE

Dharmendra on 28-12-2018

Dhara 34 Kya hai

surendera on 13-12-2018

registered will

Akhilesh Kumar on 17-11-2018

धारा 34 की जानकारी दीजिए


Himanshu Kumar Singh on 10-11-2018

Tehsil se sambandhit dhara 34 kya hai

दिनेश चन्द मौर्य on 25-09-2018

प्रश्न 1-यह कि क्या बिक्री के बाद बिक्री की गई जमीन आराजी में विक्रेता का हित निहित अधिकार है?
प्रश्न 2-यह कि क्या दीवानी न्यायालय मे मुकदमा करके सुलहनामा डिग्री द्वारा कुछ रकबा विक्रेता द्वारा प्राप्त कर लेने पर सुलहनामा से प्राप्त संम्पति का बीना रजिस्ट्री के राजस्व न्यायालय से नामांतरण किया जा सकता है?


दिनेश चन्द मौर्य on 25-09-2018

प्रश्न 1-यह कि क्या बिक्री के बाद बिक्री की गई जमीन आराजी में विक्रेता का हित निहित अधिकार है?
प्रश्न 2-यह कि क्या दीवानी न्यायालय मे मुकदमा करके सुलहनामा डिग्री द्वारा कुछ रकबा विक्रेता द्वारा प्राप्त कर लेने पर सुलहनामा से प्राप्त संम्पति का बीना रजिस्ट्री के राजस्व न्यायालय से नामांतरण किया जा सकता है?


Tapendra gathone on 22-09-2018

Yadi kisi mritak admi ki Virasat 15 sal phle huyi or uski patni ka Nam Virasat me nhi h to kya aaj ki date me uski patni or uski unmarried ladki ka Naam darj ho skta h khatoni me

राजेश कुमार पाण्डेय on 03-09-2018

एक परिवार में4सगे भाई थे जिनमें से2लोगों की शादी हूई थी तथा 2अविवाहित थे जिसमें से ददुराज पुत्र बद्री अविवाहित थे इनकी मृत्यु के बाद वर्ष1993 मे कुछ भू माफियोँ द्वारा इनकी फर्जी बिधवा रामकली पत्नी ददुराज के नाम फर्जी वरासत इनके बड़े भूमि गाटा का करा लिया और उसे वर्ष 1994 मे फर्जी रामकली पत्नी ददुराज से जमीन बैनामा कराके अपने नाम खारिज दाखिल करा लिया वर्तमान तक मेंं तीन चार बार जमीन का क्रय बिक्रय हो चुका है वर्ष 1996 मेंं उपरोक्त मृतक ददुराज के अन्य सामिल खातों की सही वरासत उनके भतीजों के नाम राजस्व विभाग द्वारा किया गया है। जब मृतक ददुराज अविवाहित थे उनके मरने के बाद उनकी पत्नी रामकली कहाँ से आ गई। जबकि सरकारी अभिलेख परिवार रजिस्टर मेंं रामकली का नाम दर्ज नहीं है। और एक ही मृतक के कुछ बड़े नम्बर की वरासत फर्जी बिधवा के नाम कुछ सामिल खातों की वरासत भतीजों के नाम राजस्व विभाग ने किया है।तहसीलदार के यहां जनहित मेंं मैंने धारा34मेंं वाद दायर किया है मामले का अति शीघृ निर्णय कराने के लिए सही तरीका व ऐसे मामले से सम्बन्धित कोई आदेश किसी वाद का उपलब्ध कराने की कृपा करें।


राजेश कुमार पाण्डेय on 03-09-2018

एक परिवार में4सगे भाई थे जिनमें से2लोगों की शादी हूई थी तथा 2अविवाहित थे जिसमें से ददुराज पुत्र बद्री अविवाहित थे इनकी मृत्यु के बाद वर्ष1993 मे कुछ भू माफियोँ द्वारा इनकी फर्जी बिधवा रामकली पत्नी ददुराज के नाम फर्जी वरासत इनके बड़े भूमि गाटा का करा लिया और उसे वर्ष 1994 मे फर्जी रामकली पत्नी ददुराज से जमीन बैनामा कराके अपने नाम खारिज दाखिल करा लिया वर्तमान तक मेंं तीन चार बार जमीन का क्रय बिक्रय हो चुका है वर्ष 1996 मेंं उपरोक्त मृतक ददुराज के अन्य सामिल खातों की सही वरासत उनके भतीजों के नाम राजस्व विभाग द्वारा किया गया है। जब मृतक ददुराज अविवाहित थे उनके मरने के बाद उनकी पत्नी रामकली कहाँ से आ गई। जबकि सरकारी अभिलेख परिवार रजिस्टर मेंं रामकली का नाम दर्ज नहीं है। और एक ही मृतक के कुछ बड़े नम्बर की वरासत फर्जी बिधवा के नाम कुछ सामिल खातों की वरासत भतीजों के नाम राजस्व विभाग ने किया है।तहसीलदार के यहां जनहित मेंं मैंने धारा34मेंं वाद दायर किया है मामले का अति शीघृ निर्णय कराने के लिए सही तरीका व ऐसे मामले से सम्बन्धित कोई आदेश किसी वाद का उपलब्ध कराने की कृपा करें।


राजेश कुमार पाण्डेय on 03-09-2018

एक परिवार में4सगे भाई थे जिनमें से2लोगों की शादी हूई थी तथा 2अविवाहित थे जिसमें से ददुराज पुत्र बद्री अविवाहित थे इनकी मृत्यु के बाद वर्ष1993 मे कुछ भू माफियोँ द्वारा इनकी फर्जी बिधवा रामकली पत्नी ददुराज के नाम फर्जी वरासत इनके बड़े भूमि गाटा का करा लिया और उसे वर्ष 1994 मे फर्जी रामकली पत्नी ददुराज से जमीन बैनामा कराके अपने नाम खारिज दाखिल करा लिया वर्तमान तक मेंं तीन चार बार जमीन का क्रय बिक्रय हो चुका है वर्ष 1996 मेंं उपरोक्त मृतक ददुराज के अन्य सामिल खातों की सही वरासत उनके भतीजों के नाम राजस्व विभाग द्वारा किया गया है। जब मृतक ददुराज अविवाहित थे उनके मरने के बाद उनकी पत्नी रामकली कहाँ से आ गई। जबकि सरकारी अभिलेख परिवार रजिस्टर मेंं रामकली का नाम दर्ज नहीं है। और एक ही मृतक के कुछ बड़े नम्बर की वरासत फर्जी बिधवा के नाम कुछ सामिल खातों की वरासत भतीजों के नाम राजस्व विभाग ने किया है।तहसीलदार के यहां जनहित मेंं मैंने धारा34मेंं वाद दायर किया है मामले का अति शीघृ निर्णय कराने के लिए सही तरीका व ऐसे मामले से सम्बन्धित कोई आदेश किसी वाद का उपलब्ध कराने की कृपा करें।


Ashish on 25-08-2018

उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता धारा क्या है

ram bir tripath on 24-08-2018

mere nana ki death 1942 se pahale ho gayee thi us samay hamare two brothers the unka nam jameen par as a varasat darz hai , mera janm 1946 me hua to kya mera nam varasat se darz ho sakta hai?

Sholender kumar on 11-08-2018

Dhara 34/35 rajasv sahinta up kya hai

सुनीतकुमार आप सब कार्यकर्ता क on 02-08-2018

मेरी जमीन रकबा .73 हेक्टयर जबकि नक्सा अकर्ति 129 हे 0 हे तो क्या करे की खतौनी में .129 हे हो जाए



Labels: , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।

Comment As:

अपना जवाब या सवाल नीचे दिये गए बॉक्स में लिखें।

Register to Comment