भारत को कितने जलवायु क्षेत्र में बांटा गया है

Bharat Ko Kitne Jalwayu Shetra Me Banta Gaya Hai

Pradeep Chawla on 23-10-2018

वस्तुतः भारत के विस्तार और भू-आकृतिक विविधता का भारत की जलवायु पर इतना प्रभाव है कि भारत की जलवायु को सामान्यीकृत नहीं किया जा सकता। कोपेन के वर्गीकरण में भारत में छह प्रकार की जलवायु का निरूपण है किन्तु यहाँ यह भी ध्यातव्य है कि भू-आकृति के प्रभाव में छोटे और स्थानीय स्तर पर भी जलवायु में बहुत विविधता और विशिष्टता मिलती है। भारत की जलवायु दक्षिण में उष्णकटिबंधीय है और हिमालयी क्षेत्रों में अधिक ऊँचाई के कारण अल्पाइन (ध्रुवीय जैसी)। एक ओर यह पुर्वोत्तर भारत में उष्ण कटिबंधीय नम प्रकार की है तो पश्चिमी भागों में शुष्क प्रकार की।


कोपेन के वर्गीकरण के अनुसार भारत में निम्नलिखित छह प्रकार के जलवायु प्रदेश पाए जाते हैं:

  • अल्पाइन - (ETh)
  • आर्द्र उपोष्ण - (Cwa)
  • उष्ण कटिबंधीय नम और शुष्क - (Aw)
  • उष्ण कटिबंधीय नम - (Am)
  • अर्धशुष्क - (BSh)
  • शुष्क मरुस्थलीय - (BWh)




Comments Vikas Kumar on 06-08-2021

Aapke chatr me sabdha adhik kon se falo ka utpadan hota hai

Heena sahu on 02-07-2021

Bharat ki Jalvayu ko kitne bhagon Mein Banta Gaya Hai varnan kijiye

Sarita on 26-06-2021

Bhart ke jlvayu khand



आप यहाँ पर जलवायु gk, बांटा question answers, general knowledge, जलवायु सामान्य ज्ञान, बांटा questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment