फूट डालो राज करो नीति

Foot Dalo Raj Karo Neeti

Pradeep Chawla on 12-05-2019

सन् १९०५ में लार्ड कर्जन ने मुस्लिम बहुल वाले प्रान्त का सृजन करने के उद्देश्य से भारत के बंगाल को दो भागों में बाँट दिया। इतिहास में इसे बंगभंग के नाम से जाना जाता है। यह अंग्रेजों की फूट डालो - राज करो वाली नीति का ही एक अंग था। अत: इसके विरोध में १९०८ ई. में सम्पूर्ण देश में `बंग-भंग आन्दोलन शुरु हो गया।[1]



अनुक्रम



1 पृष्ठभूमि

2 बंगभंग के प्रस्ताव पर भारत सचिव का ठप्पा

3 बंगभंग के विरुद्ध आन्दोलन

4 बंगभंग की समाप्ति

5 सन्दर्भ

6 इन्हें भी देखें



पृष्ठभूमि



सन् 1903 में कांग्रेस का 19वाँ अधिवेशन मद्रास में हुआ था। उसी अवसर पर उसके सभापति श्री लालमोहन घोष ने अपने अभिभाषण में सरकार की प्रतिक्रियावादी नीति की आलोचना करते हुए एक अखिल भारतीय मंचपर आसन्न वंगभंग की सूचना दी। उन्होंने कहा कि इस प्रकार का एक षड्यंत्र चल रहा है।



काँग्रेस के अगले अधिवेशन में सभापति पद से बोलते हुए सर हेनरी कॉटन ने भी यह कहा कि यदि यह बहाना है कि इतने बड़े प्रांत को एक राज्यपाल सँभाल नहीं सकता तो या तो बंबई और मद्रास की तरह बंगाल का शासनसूत्र सपरिषद् राज्यपाल के सिपुर्द हो या बँगला भाषियों को अलग करके एक प्रांत बनाया जाए। उन दिनों बंगाल प्रांत में बिहार और उड़ीसा भी शामिल थे।



पर ब्रिटिश सरकार ने न तो कांग्रेस की परवाह की, न जनमत की। उस समय के वायसराय और गवर्नर जनरल लार्ड कर्जन ने लैंड होल्डर्स एसोसिएशन या जमींदार सभा में लोगों को यह समझाने की चेष्टा की कि वंगभंग से लाभ ही होगा। वह स्वयं पूर्व बंगाल में भी गए, पर मुट्ठी भर मुसलमानों के अतिरिक्त किसी ने इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया। मुसलमानों में प्रतिष्ठित ढाका के तत्कालीन नवाब ने भी प्रथम आवेश में इसका विरोध किया था।



Comments अनिल on 15-03-2021

फुट डालो राज करो किस भारतिय ने परीक्षा में लिखा था

Suneel on 22-02-2021

फूट डालो और राज करो किस ने कहा था

Deepak kumar sake on 10-11-2020

A kisne kaha tha ki foot dalo raj karo

Arjun on 12-04-2020

Future dalo ki niti ka lagu hui thi

Foot dalo Raj karo on 11-01-2020

Foot dalo raj Karo kisne kaha

राजू यादव on 19-12-2019

फुट डालो राज करो किसने कहा था


Garima singh on 07-12-2019

Put feet and rule

बिंदेश्वर on 07-12-2019

फूट डालो राज करो की नीति का पोशक अधिनियम है

Ramjeevan meena on 11-10-2019

Foot Dalo aur Raj karo ki niti

pankaj on 23-11-2018

phut dalo raj kro ko english me kya bolange

prity on 29-08-2018

phut dalo or raj kro kisne kha tha

Rajnish gautam on 23-08-2018

Kon sa senapati apne rajaa ko markar raja bana




Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment