वैश्विक आतंकवाद सूचकांक 2017

Vaishwik Atankwad Suchkank 2017

Pradeep Chawla on 15-10-2018

  • 16 नवंबर, 2016 को ‘इंस्टीट्यूट फॉर इकोनॉमिक्स एंड पीस’ (IEP) द्वारा वैश्विक आतंकवाद सूचकांक-2016 (Global Terrorism Index-2016) जारी किया गया।
  • वैश्विक आतंकवाद सूचकांक (GTI) का यह चौथा संस्करण है।
  • इस सूचकांक के निर्माण में 163 देशों में आतंकवादी गतिविधियों का तुलनात्मक अध्ययन करके आतंकवाद और उसके प्रभाव का तथ्यात्मक विश्लेषण प्रस्तुत किया गया है।
  • इसमें वर्ष 2000 से 2015 तक की घटनाओं को आधार बनाया गया है।
  • वैश्विक आतंकवाद सूचकांक में आतंकवाद के प्रभाव को मापने के लिए चार संकेतकों मौतों की संख्या, हताहतों की संख्या, संपत्ति का नुकसान तथा आतंकवाद के मनोवैज्ञानिक प्रभाव का उपयोग किया गया है।
  • इस सूचकांक में शून्य से 10 तक के स्कोर में 163 देशों को श्रेणीबद्ध किया गया है।
  • सूचकांक में स्कोर शून्य (0) का मतलब सबसे कम और दस (10) का अर्थ सबसे अधिक आतंकवाद से प्रभावित होने से है।
  • आतंकवाद से सबसे अधिक प्रभावित देशों के इस सूचकांक में इराक (स्कोर-9.96) लगातार चौथी बार शीर्ष पर है।
  • इस सूचकांक में अफगानिस्तान (स्कोर-9.44) दूसरे, नाईजीरिया (स्कोर-9.31) तीसरे, पाकिस्तान (8.61) चौथे तथा सीरिया (स्कोर-8.58) पांचवे स्थान पर है।
  • वैश्विक आतंकवाद सूचकांक-2016 में भारत (स्कोर-7.48) को आठवां स्थान प्राप्त हुआ है।
  • जबकि गतवर्ष भारत छठवें स्थान पर था।
  • इस सूचकांक में भारत के पड़ोसी देशों में बांग्लादेश को 22वां, चीन को 23वां, नेपाल को 39 वां, श्रीलंका को 53वां तथा भूटान को 119वां स्थान प्राप्त हुआ है।
  • विश्व के अन्य विकसित देशों में यूनाइटेड किंगडम (U.K.) को 34 वां, फ्रांस को 29 वां, रूस को 30 वां अमेरिका को 36 वां तथा जर्मनी को 41 वां स्थान प्राप्त हुआ है।
  • सूचकांक में 34 देशों को संयुक्त रूप से 130वीं रैंक प्रदान की गई है और इन देशों का सूचकांक स्कोर शून्य (0) प्रदर्शित किया गया है।
  • वर्ष 2015 में संपूर्ण विश्व में आतंकवादी घटनाओं में मारे गए लोगों की संख्या में मारे गये लोगों की संख्या पहली बार 10 प्रतिशत कम होकर 29,376 हो गई जो कि विगत वर्ष 32,685 थी।
  • वर्ष 2015 में आतंकवादी घटनाओं में मारे गए 72 प्रतिशत लोग इराक, अफगानिस्तान, नाईजीरिया, पाकिस्तान और सीरिया से हैं।
  • भारत से संबद्ध समीक्षा में कहा गया है कि वर्ष 2015 में 797 आतंकवादी घटनाएं हुई हैं।
  • वर्ष 2015 में आतंकवादी घटनाओं से हुई मौतों की संख्या वर्ष 2014 की तुलना में 45 प्रतिशत घटकर 289 हो गई।
  • ज्ञातव्य है कि पहली बार ‘वैश्विक आतंकवाद सूचकांक 4 दिसंबर, 2012 को जारी किया गया था।




Comments

आप यहाँ पर वैश्विक gk, आतंकवाद question answers, सूचकांक general knowledge, 2017 सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment