भाषा के विभिन्न प्रकार

Bhasha Ke Vibhinn Prakar



GkExams on 16-05-2022


भाषा विज्ञान के बारें में : भाषा विज्ञान (language science course) किसी भी भाषा का अध्ययन का मूल आधार होता है। उसके द्वारा लिखित एवं अलिखित साहित्य एवं असाहित्य प्रचारित एवं अप्रचालित देशी एवं अदेशी राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय एक देशी एवं बहुदेशी तथा विकसित एवं अविकसित सभी प्रकार के भाषाओं का अध्ययन किया जाता है।
Bhasha-Ke-Vibhinn-Prakar

आपकी बेहतर जानकारी के लिए बता दे की भाषा-विज्ञान (language science press) के अध्ययन से प्रागैतिहासिक काल की सभ्यता तथा संस्कृति का ज्ञान प्राप्त करते हुए यह समझ लेते है कि प्राचीन-काल मे भाषा मे किस तरह के शब्द का प्रयोग होता था।


भाषा के विभिन्न प्रकार :


आमतौर पर भाषा के तीन प्रकार होते है, जो निम्नलिखित है....

1. मौखिक भाषा

2. लिखित भाषा

3. सांकेतिक भाषा


भाषा विज्ञान की उपयोगिता :



यहाँ हम आपको कुछ बिन्दुओं द्वारा भाषा विज्ञान (language science book) की उपयोगिता के बारें में अवगत करा रहे है, जिनसे पता चलता है की...


  • शब्दों का विकास कैसे होता है?
  • कैसे शब्द तद्भव रूप को ग्रहण करते हैं?
  • किस तरह शब्द में भिन्न-भिन्न रूपांतरण होते हैं?
  • किस प्रकार एक भाषा के शब्द दूसरे भाषा में अपने आकार-प्रकार को बदल डालते हैं?
  • स्थान भेद से कैसे शब्दों में रूपांतरण हो जाता है?
  • उच्चारण भेद से किस प्रकार शब्दों के रूप कुछ के कुछ हो जाता है?
  • किस तरह प्राय: ग्रंथि का पलाती या गलटि बन गया है?
  • कैसे हिश्र शब्द का परिवर्तन होकर सिंह बन गया है?
  • किस तरह बनजी का बंदर जी हो जाता है?




  • सम्बन्धित प्रश्न



    Comments

    आप यहाँ पर gk, question answers, general knowledge, सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

    Labels: , , , , ,
    अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




    Register to Comment