ओसियां माता हिस्ट्री इन हिंदी

Osiyan Mata History In Hindi

GkExams on 20-11-2018

जोधपुर जिले के ओसियां में सच्चियाय माता का प्राचीन मंदिर है। इस भव्य मंदिर का निर्माण परमार राजपूत राजाओं ने 1177 ईस्वी में करवाया था। मंदिर में स्थापित मां दुर्गा की मूर्ति महिषासुरमर्दिनी अवतार में है। मंदिर का स्थापत्य नागर शैली का है, जिसमें जाली का खूबसूरत काम किया गया है।

सच्चियाय माता (सचिया माता) की पूजा ओसवाल जैन, कुमावत, राजपूत, परमार, पंवार, चारण तथा पारीक समाज के लोग करते हैं। ओसियां में मिले एक शिलालेख के अनुसार जैन धर्म के एक आचार्य श्रीमद् विजय रत्नाप्रभासुरीजी ने ओसियां की यात्रा की थी। इनके अनुसार ओसियां का पूर्व का नाम उपकेशपुर था और यहां चामुण्डा माता का मंदिर था। इनका मानना था कि चामुण्डा माता का दूसरा नाम सच्चियाय माता ही था।

सच्चियाय माता के मंदिर में मिठाई, नारियल, कुमकुम, केसर, धूप, चंदन, लापसी इत्यादि का चढ़ावा चढ़ाया जाता है। यह एक जन आस्था का केन्द्र है और इसे जोधपुर का सबसे बड़ा मंदिर माना जाता है।



Comments Nav on 20-10-2018

ओसियां सचियाई माता के भैरोजि कोन हैं बताये



आप यहाँ पर ओसियां gk, question answers, general knowledge, ओसियां सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment