मुगल कालीन स्थापत्य कला

Mugal Kaleen Sthapatya Kala

Pradeep Chawla on 01-11-2018


मुग़लकालीन स्थापत्य एवं वास्तुकला
विवरणमुग़लकालीन वास्तुकला में , तुर्की, मध्य , , , आदि स्थानों की शैलियों का अनोखा मिश्रण हुआ था।
स्थापत्य विशेषता में वास्तुकला के क्षेत्र में पहली बार ‘आकार’ एवं डिजाइन की विविधता का प्रयोग तथा निर्माण की साम्रगी के रूप में पत्थर के अलावा पलस्तर एवं गचकारी का प्रयोग किया गया। सजावट के क्षेत्र में संगमरमर पर जवाहरात से की गयी जड़ावट का प्रयोग भी इस काल की एक विशेषता थी। सजावट के लिए पत्थरों को काट कर फूल पत्ते, बेलबूटे को संगमरमर में जड़ा जाता था। इस काल में बनने वाले गुम्बदों एवं बुर्जों को ‘कलश’ से सजाया जाता था।
स्थापत्य काल1525 ई. –1857 ई. लगभग
प्रमुख शासक , , , , ,
प्रमुख इमारत , , , , , , , , , आदि
अन्य जानकारीपर्सी ब्राउन ने ‘ को का ग्रीष्म काल माना है, जो प्रकाश और उर्वरा का प्रतीक माना जाता है। स्मिथ ने मुग़लकालीन वास्तुकला को की रानी कहा है।

काल में प्रचलित वास्तुकला की ‘भारतीय इस्लामी शैली’ का विकास में हुआ। मुग़लकालीन वास्तुकला में , तुर्की, मध्य , , , आदि स्थानों की शैलियों का अनोखा मिश्रण हुआ था। पर्सी ब्राउन ने ‘मुग़ल काल’ को भारतीय वास्तुकला का ग्रीष्म काल माना है, जो प्रकाश और उर्वरा का प्रतीक माना जाता है। स्मिथ ने मुग़लकालीन वास्तुकला को की रानी कहा है। मुग़लों ने भव्य महलों, क़िलों, द्वारों, मस्जिदों, बावलियों आदि का निर्माण किया। उन्होंने बहते पानी तथा फ़व्वारों से सुसज्जित कई बाग़ लगवाये। वास्तव में महलों तथा अन्य विलास-भवनों में बहते पानी का उपयोग मुग़लों की विशेषता थी।

आदि नगरों के निर्माण में और चरम परिणति के ‘शाहजहाँनाबाद’ नगर के निर्माण में दिखाई पड़ती है। में वास्तुकला के क्षेत्र में पहली बार ‘आकार’ एवं डिजाइन की विविधता का प्रयोग तथा निर्माण की साम्रगी के रूप में पत्थर के अलावा पलस्तर एवं गचकारी का प्रयोग किया गया। सजावट के क्षेत्र में संगमरमर पर जवाहरात से की गयी जड़ावट का प्रयोग भी इस काल की एक विशेषता थी। सजावट के लिए पत्थरों को काट कर फूल पत्ते, बेलबूटे को संगमरमर में जड़ा जाता था। इस काल में बनने वाले गुम्बदों एवं बुर्जों को ‘कलश’ से सजाया जाता था।



Comments Fulmuni Tudu on 12-09-2020

Mugalkalin sthapatyakala ki viseshtaon ka varnan karen

Fulmuni Tudu on 12-09-2020

Mugalkalin sthapatyakala ki viseshtayen

Kese bane teacher on 31-12-2019

Teacher



आप यहाँ पर मुगल gk, स्थापत्य question answers, कला general knowledge, मुगल सामान्य ज्ञान, स्थापत्य questions in hindi, कला notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment