राजस्थान में सती प्रथा सबसे ज्यादा कौनसी जाति में प्रचलित थी -

Rajasthan Me Sati Pratha Sabse Jyada Kaunsi Jati Me Prachalit Thi -

GkExams on 27-04-2022


सही उत्तर : राजपूत


सती प्रथा के बारें में :




इस प्रथा के अनुसार पति के मरने पर पत्नी भी चिता में साथ जिन्दा जल जाती थी यही प्रथा "सती प्रथा" कहलाती थी। इसके पीछे तर्क दिया जाता था की - एक पति को अपनी मृत्यु के बाद भी पत्नियों की तरह सभी सांसारिक वस्तुओं की आवश्यकता होती है।


इसके अलावा एक अन्य धारणा के अनुसार, पहले के समय की लड़ने वाली जनजातियाँ अपनी महिलाओं पर गर्व करती थीं, इस प्रकार वे अपने पति की मृत्यु के बाद महिलाओं को भटका देना पसंद नहीं करती थीं, बल्कि उन्हें मारना पसंद करती थीं।


सती प्रथा का अंत कब हुआ?


ध्यान रहे की 4 दिसंबर, साल 1829 को लॉर्ड विलियम बेंटिक की अगुवाई में सती प्रथा पर भारत में पूरी तरह से रोक लगी थी। इसके अलावा भारत का सती निवारण अधिनियम (1987) किसी को भी सती करने के लिए मजबूर करना या प्रोत्साहित करना अवैध बनाता है। किसी को जबरन सती करने के लिए मौत की सजा दी जा सकती है।


लेकिन फिर भी, बहुत कम संख्या में विधवाएं अभी भी अपने पतियों के साथ मृत्यु में शामिल होने का विकल्प चुनती हैं; वर्ष 2000 और 2015 के बीच कम से कम चार मामले दर्ज किए गए हैं।


राजस्थान GK के प्रश्न पढने के लिए यहाँ क्लिक करें




सम्बन्धित प्रश्न



Comments Veer on 02-11-2019

4,6,9,14,21,?



आप यहाँ पर सती gk, प्रचलित question answers, general knowledge, सती सामान्य ज्ञान, प्रचलित questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment