रावण किस वाद्य यंत्र को बजाने में निपुण था

Rawan Kis Wady Yantra Ko Bajane Me Nipun Tha

Pradeep Chawla on 31-10-2018


'रावण' रामायण का एक विशेष पात्र है। वह स्वर्ण नगरी लंका का राजा था। रावण अपने दस सिरों के कारण भी जाना जाता था, जिस कारण उसका एक अन्य नाम 'दशानन' अर्थात 'दस मुख वाला' भी था। किसी भी कृति के लिये अच्छे पात्रों के साथ ही साथ बुरे पात्रों का होना अति आवश्यक है। किन्तु रावण में अवगुण की अपेक्षा गुण अधिक थे। जीतने वाला हमेशा अपने को उत्तम लिखता है, अतः रावण को बुरा कहा गया है। रावण को चारों वेदों का ज्ञाता कहा गया है। संगीत के क्षेत्र में भी रावण की विद्वता अपने समय में अद्वितीय मानी जाती थी। वीणा बजाने में रावण सिद्धहस्त था। उसने एक वाद्य भी बनाया था, जो आज के 'बेला' या ' वायलिन' का ही मूल और प्रारम्भिक रूप है। इस वाद्य को ' रावणहत्था' कहते हैं।ध्यान देंअधिक जानकारी के लिए देखें:- रावण



Comments Kfh on 08-01-2021

Ghdkshxjkxhdnxksihaldocb
Cjbvjkvgjjn

Aryan Gahlot on 15-11-2020

रावण ने वाणी कहां से सीखी थी मां सरस्वती जैसी वाणी कहां से सीखी थी

Radhika Agrawal on 06-04-2020

Ramayan k anusar Banbas k samay sita n kis pratiyogita m ram ko haraya tha



आप यहाँ पर रावण gk, वाद्य question answers, बजाने general knowledge, निपुण सामान्य ज्ञान, questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment