राष्ट्रीय काव्यधारा के कवि

Rashtriya काव्यधारा Ke Kavi

Pradeep Chawla on 15-10-2018


, , आदि इस धारा के प्रतिनिधि कवि हैं। इन्होंने राष्ट््रिय और सांस्कृतिक संघर्ष को स्पष्ट और उग्र स्वर में व्यक्त किया है। में का स्वर प्रतीकात्मक रूप में तथा शक्ति और जागरण गीतों के रूप में मिलता है।



Comments Sumit on 25-12-2020

Rastriya kavya dhara Kay kavi kon nahi hai

Ktv on 18-08-2020

Dinkar,maithlisaran gupta,jayshankar prasad aur agey main se kon rastriye kavyadhara ka kavi nhi hai?

on 30-11-2019

Rastriya kavdhara

Suraj on 17-10-2019

रामधारी सिंह दिनकर किस काव्य धारा के कवि थे

जयशंकर प्रसाद किस काव्य धारा के कवि हैं on 23-06-2019

उत्तर

सागर विश्वकर्मा on 12-05-2019

हिंदी साहित्य में जब छायावाद का दौर चल रहा था उसी समय और एक लहर उम


सागर विश्वकर्मा on 12-05-2019

हिंदी साहित्य में जब छायावाद का दौर चल रहा था, उसी समय और एक लहर उमड पढ़ी थी। वह लहर थी राष्ट्रीय काव्यधारा की ।इस काव्यधारा के प्रमुख कवि माखनलाल चतुर्वेदी, बालकृष्ण शर्मा, सुभद्रा कुमारी चौहान है


Anuj patel on 23-02-2019

rashtriya kavydhara ke kavi



Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment