जैनियों का विश्वास हैं कि जैन मत चौबीस तीर्थकरों की शिक्षाओं का परिणाम हैं . इस कथन के आलोक में , निम्नलिखित में से कौन - सा एक , वर्धमान महावीर के विषय में सही है -

Jainiyon Ka Vishwaas Hain Ki Jain Mat Chaubees Tirthkaron Ki Shikshaaon Ka Parinnam Hain . Is Kathan Ke Alok Me , NimnLikhit Me Se Kaun - Saa Ek , Vardhman Mahavir Ke Vishay Me Sahi Hai -


A. वे पहले तीर्थकर और जैन मत के संस्थापक थे
B. वे तेईसवें तीर्थकर थे , जबकि पहले बाईस तीर्थकर पौराणिक माने गये
C. वे अंतिम और चौबीसवें तीर्थकर थे जिसे इस नये धर्म का संस्थापक नही ंमाना गया बल्कि वर्तमान धार्मिक संप्रदाय का सुधारक माना गया
D. वे चौबीस तीर्थकरों में से एक नहीं थे -

Go Back To Quiz

Join Telegram


Comments

आप यहाँ पर जैनियों gk, विश्वास question answers, जैन general knowledge, मत सामान्य ज्ञान, चौबीस questions in hindi, तीर्थकरों notes in hindi, शिक्षाओं pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।


इस टॉपिक पर कोई भी जवाब प्राप्त नहीं हुए हैं क्योंकि यह हाल ही में जोड़ा गया है। आप इस पर कमेन्ट कर चर्चा की शुरुआत कर सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment