बुनियादी शिक्षा के उद्देश्य

Buniyadi Shiksha Ke Uddeshya

Pradeep Chawla on 12-05-2019

भारत के स्वतंत्रता आन्दोलन के समय गांधीजी ने सबसे पहले बुनियादी शिक्षा की कल्पना की थी। आज जिसे विश्वविद्यालय स्तर पर फाउंडेशन कोर्स कहा जाता है, उसकी पृष्ठभूमि में गांधी की बुनियादी यानी बेसिक शिक्षा ही तो थी। इस बुनियादी प्रशिक्षण और प्राथमिक स्तर की शिक्षा के दो स्तर थे- स्कूली बच्चे कक्षा-एक से ही तकली से सूत कातते थे रूई से पौनी बनाते थे और सूत की गुड़िया बनाकर या तो खादी भंडारों को देते थे या बैठने के आसन, रुमाल, चादर आदि बनाते थे।



शिक्षा के बारे में गांधीजी का दृष्टिकोण वस्तुत: व्यावसायपरक था। उनका मत था कि भारत जैसे गरीब देश में शिक्षार्थियों को शिक्षा प्राप्त करने के साथ-साथ कुछ धनोपार्जन भी कर लेना चाहिए जिससे वे आत्मनिर्भर बन सकें। इसी उद्देश्य को लेकर उन्होंने ‘वर्धा शिक्षा योजना’ बनायी थी। शिक्षा को लाभदायक एवं अल्पव्ययी करने की दृष्टि से सन् १९३६ ई. में उन्होंने ‘भारतीय तालीम संघ’ की स्थापना की।



Comments Deepak jamliya VERMA on 12-05-2019

(1) बुनियादी शिक्षा का मुख्य उद्देश्य है ?
(A) तत्वज्ञान प्रदान करना (b) बुनियादी बातों का ज्ञान कराना (c) आत्मनिर्भर बनाना (d) इनमें से कोई नहीं
सर इसका उत्तर मुझे दे मेरा नं.9893640881 plese


sunita on 12-05-2019

Bunyadi education ka arath paribhsha aim characterstics



आप यहाँ पर बुनियादी gk, शिक्षा question answers, general knowledge, बुनियादी सामान्य ज्ञान, शिक्षा questions in hindi, notes in hindi, pdf in hindi आदि विषय पर अपने जवाब दे सकते हैं।

Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment