साक्षरता के उद्देश्य

Saksharta Ke Uddeshya

GkExams on 02-02-2019


आज़ादी के समय भारत की साक्षरता दर मात्र बारह (12%) प्रतिशत थी जो बढ़ कर लगभग चोहत्तर (74%) प्रतिशत हो गयी है। परन्तु अब भी भारत संसार के सामान्य दर (पिच्यासी प्रतिशत 85%) से बहुत पीछे है। भारत में संसार की सबसे अधिक अनपढ़ जनसंख्या निवास करती है।


वर्तमान स्थिति कुछ इस प्रकार है:

  • पुरुष साक्षरता: बयासी प्रतिशत (82%)
  • स्त्री साक्षरता: पैंसठ प्रतिशत (65%)
  • सर्वाधिक साक्षरत दर (राज्य): केरल (चोरान्वे प्रतिशत 94%)
  • न्यूनतम साक्षरता दर (राज्य): बिहार (चौसठ प्रतिशत 64%)
  • सर्वाधिक साक्षरता दर (केन्द्र प्रशासित): लक्षद्वीप (बानवे प्रतिशत 92%)

जब से भारत ने शिक्षा का अधिकार लागू किया है, तब से भारत की साक्षरता दर बहुत अधिक बढ़ी है। केरल हिमाचल, मिजोरम, तमिल नाडू एवं राजस्थान में हुए विशाल बदलावों ने इन राज्यों की काया पलट कर दी एवं लगभग सभी बच्चों को अब वहाँ शिक्षा प्रदान की जाती है। बिहार में शिक्षा सबसे बड़ी समस्या है जिस से सरकार जूझ रही है। वहाँ गरीबी की दर इतनी अधिक है कि लोग जीवन की मूल-भूत आवश्यकताएं जैसे रोटी कपडा और मकान का भी जुगाड़ नहीं कर पाते| वे किताबों का खर्च नहीं उठा पाते|

साक्षर कौन हैं?

भारतीय नियम के अनुसार इस सूत्र में जो उन लोगों को भी शिक्षित गिना जाता है जो अपने हस्ताक्षर कर सकते हैं तथा पैसे का हिसाब किताब करना जानते हैं अथवा समझ सकते हैं अथवा दोनों।



Comments Xyz on 23-01-2022

Saksharta sarvekshan ke uddeshy chahie 8 pege ke

Pankaj salvi on 25-11-2020

Saksharta ka uddeshya

पूजा on 09-10-2020

साक्षरता के उद्देश्य

Ankit on 06-09-2020

Saksharta ka uddeshy

Manisha on 25-11-2019

Sakcharta ke uddes

8878843278 on 14-11-2019

अपने समाज के किन्हीं दो बालकों को शिक्षित कैसे करें




Labels: , , , , ,
अपना सवाल पूछेंं या जवाब दें।




Register to Comment